कोरोना वायरस प्रकोप: जूते-चप्पलों को डिसइन्फेट करने के टिप्स।
TRENDING
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.
  • 9:09 PM » भगत सिंह पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on bhagat singh in hindi.

कोरोना वायरस का प्रसार विश्व के कई देशों में लगातार बढ़ता जा रहा है। जहां कोरोना वायरस प्रसार के शुरूआती दिनों में इससे बचने के लिए, विश्व के अधिकतम देशों ने लॉकडाउन का सहारा लिया, वहीं अब लॉकडाउन के कारण बेरोजगारी और आर्थिक मंदी के चलते, विश्व के सभी देशों में लॉकडाउन में शर्तों के साथ अनेक प्रकार की छूट दी जाने लगी है। लॉकडाउन में मिल रही छूट के कारण लोगों ने घर से बाहर निकलना शुरू कर दिया है। इसलिए यह जरुरी है कि कोरोना काल में घर से बाहर निकलने के दौरान छोटी छोटी सावधानियाँ बरतकर वायरस से सुरक्षित रहा जाए। अक्सर लोग कोरोना वायरस से बचाव के लिए मास्क पहनने और हाथ धोने का ध्यान तो रखते हैं। लेकिन इन सब के बीच अपने जूते-चप्पलों को भूल जाते हैं। कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने के लिए जरुरी है कि जूते-चप्पलों को भी डिसइनफेक्ट किया जाए। घर से बाहर निकलने पर इनका प्रयोग सबसे अधिक होने के कारण जूते-चप्पलों को डिसइनफेक्ट करना जरुरी होता है।

क्या कहती है CDC की नई रिपोर्ट –

जूते-चप्पलों से कोरोना वायरस फैलने की संभावनाओं को लेकर अमेरिका की CDC की नई रिर्पोर्ट के मुताबिक बीमारी फैलाने वाले वायरस संक्रमित रोग अपेक्षा से अधिक लंबे समय तक जूते-चप्पलों पर बने रह सकते हैं। इसलिए अपने जूते साफ करना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि हाथों को डिसइनफेक्ट करने के लिए 20 सेकंड तक धोना।

जूते-चप्पलों को डिसइनफेक्ट करने का तरीका –

* सबसे पहले घर के अंदर उपयोग में लाए जाने वाले जूते-चप्पलों को घर से बहार पहनने वाले जूते-चप्पलो से अलग करें। दोनों को रखने की जगह भी अलग अलग बनाएं।

* यदि आप स्वाथ्य विभाग में कार्यरत हैं तो आप अपने वर्कप्लेस में पहने जाने वाले जूते-चप्पलों को घर के बाहर उतार दें।

* जूते के तले सबसे अधिक सतहों के सम्पर्क में आते हैं इसलिए जूतों को घर पहुंचने के बाद अच्छी तरह से साफ कर लेने के बाद ही घर में प्रवेश करें।

* जूते-चप्पलों को साफ़ करने से पहले हाथों में ग्लव्स पहने, इन्हें साफ़ करने के लिए गर्म तौलिये या पुराने कपड़े का प्रयोग करें। डिसइंफेक्टिंग वाइप्स को भी इसी तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है।

* अपने जूते-चप्पलों को डिसइंफेक्ट करने के लिए आप अलकोहल का प्रयोग भी कर सकते हैं।

* जूते-चप्पलों को डिसइंफेक्ट करने के लिए बेकिंग सोडा का इस्तेमाल कर सकते हैं।

* जूते-चप्पलों को धोने के बाद घूप में अच्छे तरह से सुखाएं। यदि आप इनको रोज धोने में असमर्थ हैं, तो इन्हें तेज घूप में 6 से 7 घटे के लिए रख दें।

* जूते-चप्पलों को डिसइन्फेट करने के लिए कीटाणुनाशक स्प्रे का प्रयोग भी कर सकते हैं। स्प्रे का उपयोग करने के बाद हाथों की सफाई भी करें।

* यदि आपके जूतों का लेबल मशीन वॉशेबल है, तो आधे घंटे तक इनको डिटर्जेंट में भिगोकर धो लें।

कोरोना वायरस की अधिक जानकारी के लिए पढ़े –

जानिए MoHFW की गाइडलाइन के अनुसार होममेड फेस मास्क को रियूज करने के तरीके।

जानिए लगातार मास्क पहनने के कारण होने वाली समस्याओं से बचाव के उपाय।

क्या वाकई AC चलाने से कोरोना वायरस फैलने का खतरा बना रहता है?

क्या कोरोना संक्रमण के दौर में ऑनलाइन खाना ऑडर करना सुरक्षित है या नहीं?

कोरोना: हाथ धोने और त्वचा की प्राकृतिक नमी बनाये रखने के लिए इन बातों का रखें ध्यान।

कोरोना वायरस से बचाव हेतु WHO ने जारी की फूड सेफ्टी गाइडलाइन।

WHO की चेतावनी – खुली जगहों पर न करें डिसइनफेक्ट (कीटाणुनाशक) का प्रयोग।

कोरोना वायरस संक्रमण: कार के इन हिस्सों को सेनेटाइज करना है अत्यंत जरूरी।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT