WHO की चेतावनी - खुली जगहों पर न करें डिसइनफेक्ट (कीटाणुनाशक) का प्रयोग।
TRENDING
  • 10:52 PM » Arthritis me kya nahi khana chahiye : आर्थराइटिस में क्या नहीं खाना चाहिए।
  • 11:32 PM » 10 lines on durga puja in hindi : दुर्गा पूजा पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:25 PM » Pet mein jalan ka upay : पेट में जलन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय.
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.

कोरोना संक्रमण के प्रसार को कम करने और शहर को डिसइनफेक्ट करने के लिए पिछले लम्बे समय से विश्व के कई देशों द्वारा खुली जगहों में केमिकल स्प्रे का छिड़काव किया जा रहा है। अभी तक ऐसा माना जा रहा था कि कीटाणुनाशक का प्रयोग कर खुली जगहों को आसानी से डिसइनफेक्ट किया जा सकता है। लेकिन हाल ही में WHO ने कीटाणुनाशक स्प्रे का प्रयोग कर खुली जगहों को डिसइनफेक्ट करने के तरीके को व्यर्थ बताया। WHO के मुताबिक खुली जगहों को डिसइनफेक्ट करने के लिए कीटाणुनाशक स्प्रे करना वायरस को मारने का कार्य नहीं करता साथ ही WHO ने यह भी कहा कि डिसइनफेक्ट करने का यह तरीका लोगों के स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है और इसके परिणाम जानलेवा हो सकते है।

WHO डिसइनफेक्ट (कीटाणुनाशक)

courtesy google

खुली जगहों में स्प्रे नहीं होता कारगर –

WHO ने कहा कि कोरोना वायरस की साफ सफाई से संबंधित दस्तावेजों में इस बात का कोई जिक्र नहीं है कि वायरस को डिसइंफेक्ट करने का यह तरीका प्रभावी हो सकता है। WHO के मुताबिक “गलियों, बाजारों और खुली जगहों में कीटाणुनाशक का स्प्रे या छिड़काव इसलिए कारगर नहीं होता, क्योंकि धूल और गंदगी की वजह से वह निष्क्रिय हो जाता है। सीधे किसी व्यक्ति पर स्प्रे करने से गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।

किसी भी व्यक्ति पर डायरेक्ट स्प्रे नही करें –

WHO के मुताबिक किसी व्यक्ति को डिसइनफेक्ट करने के लिए भूलकर भी उसपर कीटाणुनाशक का स्प्रे का छिड़काव नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से किसी भी व्यक्ति को फिजिकली और मेंटली दोनों रूप से नुकसान पहुँचा सकता है। ऐसा करने से संक्रमित व्यक्ति के जरिए वायरस फैलने का खतरा भी कम नहीं होता। WHO ने साफ किया कि क्लोरीन तथा अन्य केमिकल के प्रयोग से व्यक्ति को आंखों और स्किन से संबंधित परेशानियां हो सकती हैं। इसके अलावा इन केमिकलस के प्रयोग से श्वसन क्रिया में जटिलता का अनुभव और पेट एवं आंत से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं।

डिसइनफेक्ट करने के लिए भीगे कपड़े का प्रयोग करें –

WHO के मुताबिक यदि आप इनडोर एरिया को डिसइनफेक्ट करने के लिए कीटाणुनाशक का स्प्रे का छिड़काव करने की सोच रहें हैं तो ऐसा करने से बचें। इसके बजाय आपको कीटाणुनाशक को कपड़े या वाइप को भिगोकर सफाई करनी चाहिए। कोरोना वायरस अलग-अलग वस्तुओं और कामकाज वाली जगहों की सतह पर हो सकता है। यह किस सतह पर कितनी देर टिक सकता है, इस बारे में सटीक जानकारी नहीं है।

कोरोना वायरस की अधिक जानकारी के लिए पढ़े –

कोरोना वायरस: होममेड जूस जो कर सकते हैं आपका इम्यून सिस्टम बूस्ट।

शोध कोरोना वायरस से होने वाली मौत: किन लोगों को है ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत।

जानिए MoHFW की गाइडलाइन के अनुसार होममेड फेस मास्क को रियूज करने के तरीके।

जानिए लगातार मास्क पहनने के कारण होने वाली समस्याओं से बचाव के उपाय।

क्या वाकई AC चलाने से कोरोना वायरस फैलने का खतरा बना रहता है?

क्या कोरोना संक्रमण के दौर में ऑनलाइन खाना ऑडर करना सुरक्षित है या नहीं?

कोरोना: हाथ धोने और त्वचा की प्राकृतिक नमी बनाये रखने के लिए इन बातों का रखें ध्यान।

कोरोना वायरस से बचाव हेतु WHO ने जारी की फूड सेफ्टी गाइडलाइन।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                           Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  • 1
  •  
  •  
  •