शुगर की बीमारी में क्या नहीं खाना चाहिए : 8 Food To Avoid In Diabetes In Hindi.
TRENDING
  • 10:13 PM » गर्मियों में बालों की केयर करने के टिप्स – Summer hair care tips in hindi.
  • 9:36 PM » कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए एक्सरसाइज एंव योगा : Cholesterol Kam Karne ki Exercise and Yoga.
  • 7:12 PM » गर्मियों में त्वचा को निखारे होममेड मैंगो फेस पैक ऐसे करें इस्तेमाल – Mango Face Pack in hindi.
  • 10:39 PM » कोलेस्ट्रॉल कम करने के उपाय। How to reduce cholesterol in hindi.
  • 11:41 PM » गर्मियों में क्या खाएं (Garmiyo me kya khana chahiye) – what to eat in summer in hindi.

Sugar me kya nahi khana chahiye….डायबिटीज यानी शुगर की बीमारी एक ऐसी समस्या है जो आज के समय में बड़ी उम्र वाले लोगों से लेकर कम उम्र वाले लोगों को अपनी चपेट में ले रही है। किसी व्यक्ति को डायबिटीज हो जाने पर डॉक्टर द्वारा बताई गयी दवाओं के साथ-साथ अपने खान-पान का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए। शुगर की बीमारी में कई ऐसे खाद्य पदार्थों का परहेज करना पड़ता है जो आपकी बॉडी में ब्लड शुगर का लेवल बढ़ाने का काम करते हैं। यह एक ऐसी बीमारी है जिसमें आपको जल्दी स्वस्थ्य होने के लिए अपनी जीभ पर अत्यधिक कंट्रोल रखना बेहद आवश्यक होता है। शुगर की समस्या बढ़ जाने पर यह शरीर में कई अन्य गंभीर बिमारियों को जन्म देने का कारण बन सकती है। इसलिए समय रहते इसका इलाज कराएं और ऐसे खाद्य-पदार्थों का सेवन करने से बचें जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने का काम करते हैं। आईये जानते हैं डायबिटीज यानी शुगर की बीमारी में किन खाद्य पदार्थों का सेवन (Sugar me kya nahi khana chahiye) करने से बचना चाहिए।

शुगर की बीमारी में
courtesy googel

शुगर की बीमारी में क्या नहीं खाना चाहिए (Sugar me kya nahi khana chahiye) – Food to avoid in diabetes in hindi

डायबिटीज में ट्रांस फैट से बनाएं दूरी –

शुगर की बीमारी में ऐसे सभी फूड्स जिन्हें बनाने में असंतृप्‍त ट्रांस फैट का प्रयोग किया जाता है उनका सेवन करने से बचना चाहिए। इस प्रकार का फैट अक्सर बाजार में मिलने वाले पैकड और प्रोसेस्ड फ़ूड में अधिक मात्रा में पाया जाता है। डायबिटीज के रोगियों को इस प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए। इस प्रकार के खाद्य पदार्थ कोलेस्ट्रॉल, मोटापा और ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने का काम करते हैं। शुगर की समस्या से जूझ रहे लोगों को उन खाद्य पदर्थों को अपनी लिस्ट में शामिल करना चाहिए जिनमें प्राकृतिक ट्रांस फैट मौजूद होता है।

शुगर के रोगियों को नहीं खाना चाहिए चावल –

यदि आप डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे हैं तो आपको सफेद चावल को अपनी डाइट से हटाना होगा। इनमें कार्बोहाइड्रेट की उच्‍च मात्रा मौजूद होती है जो कि टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज रोगियों के लिए बिलकुल सही नहीं रहती। इसके अलावा चावल का ग्लाइसेमिक इंडेक्स अधिक होता है जो कि ब्लड शुगर लेवल की मात्रा को बढ़ाने का काम करता है।

एंटी-इन्फ्लामेट्री फूड्स – Anti inflammatory foods in hindi.

डायबिटीज में न खाएं फ्लेवर्ड दही –

यदि आप शुगर की समस्या से जूझ रहे हैं और फ्लेवर्ड दही का सेवन कर रहे हैं तो तत्काल प्रभाव से इसे खाना बंद कर दें। इस प्रकार के दही में कार्बोहाइड्रेट और शुगर की उच्‍च मात्रा मौजूद होती है। मार्केट में मिलने वाले फ्लेवर्ड दही/ योगर्ट में इसके टेस्ट को बढ़ाने के लिए कई सारे ऐसे फ्लेवर्स डालें जाते हैं जिनमें शुगर की मात्रा अत्यधिक होती है। फ्लेवर्ड दही के बजाय घर में जमे ताजे दही का सेवन करें।

डायबिटीज में फूल क्रीम मिल्क को कहें बाय –

शुगर के रोगियों को फूल क्रीम मिल्क युक्त दूध का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इस प्रकार के दूध में अत्यधिक मात्रा में सेचुरेटेड फैट मौजूद होता है जो कि इन्सुलिन निर्माण की प्रकिया में बाधा डालने का काम करता है। इसकी जगह आप क्रीम रहित दूध का सेवन करें। दूध अपने आप में एक कम्प्लीट फ़ूड की श्रेणी में आता है शुगर के मरीज अत्यधिक मात्रा में इसका सेवन करने से बचें।

टीबी की बीमारी में क्या खाना चाहिये और क्या नहीं? Tb ki bimari me kya khana chahiye aur kya nhi.

शुगर की बीमारी में न खाएं मैदा –

यदि आप डायबिटीज की समस्या से जूझ रहें हैं तो आपको मैदा से बनी चीजों को अपनी डाइट से आउट करना होगा। उदाहरण के तौर पर आपको व्‍हाइट ब्रेड, स्‍नेक्‍स, डीप फ़्राईड स्नेक्स और बेकरी प्रोडक्ट्स को त्यागना होगा। इन सभी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स लेवल हाई होने के कारण ये चीजें जैसी से कार्बोहाइड्रेट को ग्‍लूकोज में बदलती हैं। जिससे शरीर ब्लड में गलूकोज का स्तर बढ़ता है जो कि शुगर रोगियों के लिए बिलकुल अच्छा नहीं होता।

शुगर की बीमारी में फलों का जूस पीने से बचें –

जैसा कि हम सभी जानते हैं फलों का जूस पीना स्वास्थ्य के लिहाज से फायदेमंद रहता है। लेकिन शुगर यानि डायबिटीज की बीमारी में फलों का जूस पीना हानिकारक साबित होता है। इसके पीछे का कारण यह है कि जब भी किसी फ्रूट का हम जूस निकालते हैं तो इसमें मौजूद फाइबर नष्ट हो जाते हैं और आपके जूस में जो शेष रह जाता है वो है फ्रक्टोज। यह ब्लड शुगर लेवल को तेजी से बूस्ट करने का काम करता है। इसलिए फलों का जूस पीने के जगह फलों का सेवन करें या फिर बिना छना हुआ मिक्सी में ग्राइंड किया हुआ जूस पिये।

टाइफाइड में क्या खाएं (Typhoid me kya khana chahiye) – What to eat in typhoid in hindi.

फ़ास्ट फ़ूड एंड जंक फ़ूड –

डायबिटीज में पिज्जा, बर्गर, चाऊमीन, आलू टिक्की, समोसा और फ्राइज़ जैसे फास्ट फूड एवं जंक फ़ूड का सेवन करने से बचना चाहिए। इस प्रकार के सभी फूड्स हाई कैलोरी, हाई वसा और हाई कार्बोहाइड्रेट युक्त होते हैं। इनका सेवन ब्लड शुगर के लेवल को बढ़ाने का काम करता है।

रेड मांस का सेवन करने से बचें शुगर रोगी –

डायबटीज के रोगियों को अपनी डाइट में रेड मांस नहीं शामिल करना चाहिए। इसमें वसा की अत्यधिक मात्रा होती है। इसके अलावा इसमें मौजूद सोडियम की उच्च मात्रा भी डायबटीज रोगियों के लिए नुकसानदेय होती है।

पीलिया में क्या खाएं (Jaundice me kya khana chahiye) – What to eat in jaundice in hindi.

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

 

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: