गर्मियों में मटके का पानी पीने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ जानकर हैरान रह जायेंगे आप।
TRENDING
  • 11:06 PM » तरबूज खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं खाएंगे धोखा।
  • 10:20 PM » Causes of bad breath in hindi : मुँह से बदबू आने के कारण।
  • 10:15 PM » Balon ke liye til ke tel ke fayde : बालों पर तिल के तेल का इस्तेमाल करने से मिलने वाले फायदे।
  • 10:43 PM » Hibiscus for hair in hindi : बालों के लिए गुड़हल के फूल के फायदे।
  • 11:14 PM » Jeera pani pine ke fayde : जीरे के पानी के फायदे।

Matke ka pani peene ke fayde : गर्मियों का सीजन आ गया है, ऐसे में सामान्य से अधिक प्यास लगता लाजमी बात है। गर्मी की शुरुआत के साथ हम सभी लोग फ्रिज के ठंडे पानी की तरफ भागते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं आज भी देश का एक बड़ा तबका ऐसा है, जिसके पास पानी को ठंडा करके पीने के लिए फ्रिज जैसे आधुनिक उपकरण की सुविधा उपलब्ध नहीं है। अब आप सोच रहें होंगे, ये लोग इतनी गर्मी में पानी की ठंडक बनाये रखने के लिए कौन सा तरीका अपनाते होंगे। “देशी फ्रिज” जी हाँ बिलकुल सही सुना आपने, ये लोग गर्मियों में पानी पीने के लिए देसी फ्रिज का सहारा लेते हैं। अब आप सोच रहे होंगे ये देशी फ्रिज क्या है, बता दें कि यहाँ देशी फ्रिज से तातपर्य मिट्टी के मटके और सुराही से है। प्राचीन साल से ही हमारे देश में गर्मियों के दिनों में पानी को स्टोर करने के लिए मटके का सहारा लिया जा रहा है। (Matka water in hindi) मटके का पानी पीने में ठंडा होने के साथ स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होता है। आईये जानते हैं मटके का पानी पीने (Matke ka pani peene ke fayde) से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में।

मटके का पानी पीने

courtesy google

मटके का पानी पीने से होने वाले स्वास्थ्य लाभ (Matke ka pani peene ke fayde) – Health benefits of drinking clay pot water in hindi

 मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ाये मटके का पानी – Clay pot water for metabolism in hindi

नियमित रूप से मटके का पानी पीने (Matka water in hindi) से हमारी इम्यूनिटी प्रणाली मजबूत बनती है। ये तो हम सभी जानते हैं कि प्लास्टिक पानी शुद्धता को कम कर देता है। इसलिए प्लास्टिक की बोतलों में स्टोर पानी सेहत के लिहाज से देखा जाये तो बिलकुल हेल्दी ऑप्सन नहीं है। मटके का पानी स्वास्थ्यवर्ध्क होने के साथ-साथ हमारे शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोंन्स का लेवल बढ़ाने का कार्य भी करता है।

ph लेवल मेंटेन करे मटके का पानी – Matka water for balancing ph in hindi

मटके का पानी पीने (Matka water in hindi) का एक बड़ा फायदा यह भी है कि यह ph लेवल मेंटेन करने में सहायता करता है। ऐसा मिट्टी में मौजूद क्षारीय गुणों के कारण संभव हो पाता है। मिट्टी के यह क्षारीय गुण पानी की अम्लता के साथ प्रभावित होकर, उचित ph संतुलन प्रदान करता है। मटके का पानी एसिडिटी और पेट दर्द जैसी समस्याओं को दूर करने का कार्य करता है।

लोहे के बर्तन में खाना बनाने से दूर होती है, शरीर में एनीमिया और आयरन की कमी।

Matke ka pani peene ke fayde : गले के रोगों के लिए –

भीषण गर्मियों के दिनों में हर कोई ठंडा पानी पीना चाहता है। ऐसे में फ्रिज का ठंडा पानी पीना सबसे बेहतरीन विकल्प है। हालांकि फ्रिज का यह ठंडा पानी हमे सकून का अनुभव तो दिलाता है, लेकिन अत्यधिक ठंडा होने के कारण यह गले और शरीर के अंगों को एक दम से ठंडा कर शरीर पर बुरा प्रभाव डालता है। कई बार ऐसा देखा गया है कि चिल्ड पानी पीने से गले में सूजन और खरास की समस्या आने लगती है। इसके विपरीत मटके का पानी पीने से आप इस तरह की समस्याओं से बचे रहते हैं।

वात, पित्त और कफ को नियंत्रित करे मटके का पानी – Matka water for vat dosha in hindi

अक्सर फ्रिज का अत्यधिक ठंडा बर्फीला पानी पीने से शरीर के तापमान में अचानक से बदलाव आने लगता है। जिस कारण वात, पित्त और कफ बिगड़ने लगता है और सर्दी, गले में दर्द और खरास तथा कब्ज और अपच जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसके विपरीत मटके का पानी प्राकृतिक रूप से ठंडा होने के कारण किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाता।

सुबह उठ कर गर्म पानी और शहद पीने के हैं अनेक चमत्कारी स्वास्थ्य लाभ।

Matke ka pani peene ke fayde : टॉक्सिक पदार्थो को अवशोषित करे मटका –

मिटटी में मौजूद प्राकृतिक गुण पानी के सभी विषैले पदार्थ को अवशोषित कर लेते हैं और आपको एक साफ, स्वास्थ्यवर्ध्क और मिरनलस से भरपूर पानी प्रदान करते हैं। साथ ही मटके में भरे पानी का तापमान ना बहुत अधिक ठंडा, ना बहुत गर्म होता है।

मटका कैसे ठंडा करता है पानी – How does matka pot water chill the water in hindi

मिट्टी से बने होने के कारण मटके में अनेक सूक्ष्म छिद्र मौजूद होते हैं। आकार में बहुत सूक्ष्म होने के कारण इन छिद्रों को नग्न आँखों से देखना सम्भव नहीं होता। बता दें कि पानी का ठंडा होना वाष्पीकरण की क्रिया पर निर्भर होता है। जिसका मतलब जितना अधिक वाष्पीकरण उतना ज्यादा ठंडा पानी। इन सूक्ष्म छिद्रों द्वारा मटके का पानी बाहर निकलता रहता है और मटके में वाष्प बनाने के लिए गर्मी यह मटके के पानी से लेता है। इस पूरी प्रक्रिया में मटके का तापमान कम हो जाता है और पानी ठंडा रहता है।

गर्म पानी से कहें बिमारियों को अलविदा, जानें गर्म पानी पीने के सवास्थ्य लाभ।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  • 2
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES