WHO से नाराज अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने रोकी WHO को दी जाने वाली फंडिंग
TRENDING
  • 5:51 PM » Aloe vera gel kaise lagaya jata hai : एलोवेरा जेल लगाने का तरीका।
  • 11:09 PM » Ganesh ji ki kahani : गणेश जी की कहानी (Ganesha story in hindi).
  • 7:19 PM » Toothpaste se pregnancy test kaise kare : टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 9:45 PM » Sabun se pregnancy test kaise kare : साबुन से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 5:49 PM » Chini se pregnancy test kaise kare : चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।

कोरोना वायरस के कारण इस समय पूरे विश्व में भय का माहौल बना हुआ है। कोरोना वायरस का सबसे अधिक प्रकोप अमेरिका में देखने को मिला है। अमेरिका में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस ने US प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप की चिंताओं को और अधिक बड़ा दिया है। इस से बौखलाए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने WHO को गैरजिम्मेदार बताया। उनके मुताबिक WHO ने फैल रहे वायरस को लेकर सही तरीके से काम नहीं किया। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने WHO के इस गैरजिम्मेदार व्यवहार के कारण उसे अमेरिका द्वारा दी जाने वाली सभी तरह की फंडिंग पर रोक लगाने का फैसला किया है।


राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने WHO पर ‘कोविड-19’ को लेकर गलत प्रबंधन करने और इसके प्रसार को फैलने की सही जानकारी उपलब्ध न कराने का आरोप लगाया है। व्हाइट हाउस में मीडिया ब्रीफिंग के दौरान ट्रंप ने कहा “मैं अपने प्रशासन को डब्ल्यूएचओ की फंडिंग रोकने का निदेर्श दे रहा हूं।” आपको बता दें कि WHO (डब्ल्यूएचओ) को अमेरिका सर्वाधिक वित्तीय मदद देने वाला देश है। हर साल WHO (विश्व स्वास्थ्य संगठन) को अमेरिका द्वारा तकरीबन 400 मिलियन डॉलर (भारतीय मुद्रा के मुताबिक 3000 करोड़ रूपये) दिए जाते हैं। अमेरिकी राष्ट्रपती डोनाल्ड ट्रंप के इस निर्णय को WHO के डायरेक्टर जनरल टेडरोस अधानोम गेब्रियेसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने अत्यंत निराशाजनक निर्णय बताया।

संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस (Antonio Guterres) ने कहा यह समय यह समय WHO के संसाधनों को कम करने का नहीं है। यह समय एकजुटता दिखाकर सम्पूर्ण विश्व के लोगों को वायरस के गंभीर परिणामों से बचाने का है। उन्होने ये भी कहा “जैसा कि यह समय ठीक नहीं है, वायरस से निपटने में लगे WHO या किसी अन्य संगठन के अभियानों के लिए संसाधनों को कम करने का भी नहीं है। वहीं ट्रंप ने WHO पर आरोप लगते हुए कहा यदि संगठन ने बुनियादी स्तर पर काम किया होता तो ये महामारी पूरी दुनिया मे नहीं फैलती। साथ ही राष्ट्रपति ट्रंप ने ये भी कहा की WHO हमेशा से चीन की तरफदारी करता आया है, उन्होंने कहा की जब पहली बार वुहान मे कोरोना के मामले सामने आये तब WHO इनका आकलन करने मे विफल रहा।

 

कोरोना वायरस से संबंधित अन्य खबरें –

कोरोना वायरस के कारण विश्वभर में हुआ नमस्ते का ट्रेंड पॉपुलर।
कोरोना वायरस ट्रैकिंग ऐप आरोग्य सेतु कैसे काम करता है, कहाँ से करें डाऊनलोड।
कोरोनावायरस: लॉकडाउन के दौरान माँ ने बेटे को लाने के लिए तय की 1400 किलोमीटर की दूरी।
HCQ पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ, कहा संग जीतेंगे जंग।
हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन: राष्ट्रपति ट्रंप के बाद ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो और इस्राइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने की प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ।
लॉकडाउन 2.0 गाइडलाइन: जानिए किस में मिलेगी छूट और किस में जारी रहेगी सख्ती।                        लॉकडाउन में पिज्जा खाना पड़ा भारी, पिज्जा डिलीवरी बॉय निकला कोरोना पॉजिटिव।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                           Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  • 1
  •  
  •  
  •