हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी के क्या परिणाम हो सकते हैं ?
TRENDING
  • 5:51 PM » Aloe vera gel kaise lagaya jata hai : एलोवेरा जेल लगाने का तरीका।
  • 11:09 PM » Ganesh ji ki kahani : गणेश जी की कहानी (Ganesha story in hindi).
  • 7:19 PM » Toothpaste se pregnancy test kaise kare : टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 9:45 PM » Sabun se pregnancy test kaise kare : साबुन से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 5:49 PM » Chini se pregnancy test kaise kare : चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।

Hemoglobin ki kami ke lakshan…क्या आप जानते हैं हमारे देश भारत में हीमोग्लोबिन के रोगी सब से अधिक पाए जाते हैं। देश में लगभग 50% गर्भवती महिलाएँ एनीमिया से ग्रस्त होती हैं। आज के समय में शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी होना आम समस्या हो गयी है। पुरुषों के महिलाओ में यह समस्या अधिक देखने को मिलती है। हीमोग्लोबिन की कमी व्यक्ति को कभी भी और किसी भी उम्र में हो सकती है। इस समस्या को नज़रअंदाज़ करना आपकी सेहत के किये बहुत हानिकारक हो सकता है। आपको बता दें की शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी का कारण लाल रक्त कणिकाओं को बनाने वाला एक मेटल प्रोटीन है, जो फेफड़ो से शरीर के अंदर ऑक्सीजन युक्त रक्त ले जाता है और शरीर की सभी प्रक्रियाओ को सही ढंग से चलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शरीर को आयरन का 70% हिस्सा हीमोग्लोबिन से मिलता है। यदि शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी (Hemoglobin ki kami ke lakshan) हो जाए तो आपको कई गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं।

शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी

courtesy google

शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी के क्या परिणाम हो सकते हैं – Hemoglobin ki kami ke lakshan dur karne ke upay

सांस लेने में परेशानी : हीमोग्लोबिन हमारे शरीर में ऑक्सीजन युक्त रक्त पहुंचने का काम करता है इसलिए हीमोग्लोबिन कमी के कारण मरीज को सांस लेने में दिक्कत होती है।

पीलापन : लाल रक्त कोशिकाएँ हमारी त्वचा को गुलाबी चमक देती हैं लेकिन हीमोग्लोबिन की कमी के कारण हमारे शरीर में रक्त की कमी हो जाती है जिस वजह से त्वचा में पीलापन आने लगता है।

थकान लगना : बार बार थकान महसूस होना हीमोग्लोबिन रोगियों में होने वाली आम समस्या है।

डिप्रेशन का खतरा बढ़ना : हीमोग्लोबिन की कमी के कारण डिप्रेशन ,हार्ट फेल, धड़कनो का अनियंत्रित होने की समस्या होती है। और इसके अलावा इम्युनिटी भी कमजोर हो जाती है।

तेज धड़कनें : हीमोग्लोबिन का मुख्य काम जरूरी मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचाने का होता है। यदि शरीर में हीमोग्लोबिन कमी हो जाए तो हमारे दिल तक ऑक्सीजन ठीक से नहीं पहुंच पाती। जिस कारण सांस फूलने के साथ साथ दिल की धड़कनें भी तेज हो जाती हैं।

सिर में तेज दर्द – हीमोग्लोबिन की कमी होने के कारण मस्तिष्क में पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन नहीं पहुंच पता है और पीड़ित व्यक्ति के सिर में तेज दर्द उठने लगता है।

घबराहट – शरीर में हीमोग्लोबिन कमी होने के कारण बेचैनी और ब्लड प्रेसर में उतार चढ़ाव जैसी समस्या भी देखी जाती हैं। इसकी कमी को दूर करने के लिए अपनी डाइट में ऐसे खाद्य-पदार्थों को शमिल करें जिनमे आयरन की पर्याप्त मात्रा मौजूद हो।