डायबिटीज की समस्या से ग्रसित लोग, इन 6 खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचें।
TRENDING
  • 11:06 PM » तरबूज खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं खाएंगे धोखा।
  • 10:20 PM » Causes of bad breath in hindi : मुँह से बदबू आने के कारण।
  • 10:15 PM » Balon ke liye til ke tel ke fayde : बालों पर तिल के तेल का इस्तेमाल करने से मिलने वाले फायदे।
  • 10:43 PM » Hibiscus for hair in hindi : बालों के लिए गुड़हल के फूल के फायदे।
  • 11:14 PM » Jeera pani pine ke fayde : जीरे के पानी के फायदे।

आज के आधुनिक युग में जाने अनजाने में गलत खाद्य पदार्थों का सेवन करने के कारण युवाओं में डायबिटीज की समस्या सामान्य बनते जा रही है। डायबिटीज से ग्रस्त व्यक्ति के शरीर में ब्लड शुगर लेवल की मात्रा निंयत्रण में नहीं रह पाती। इसलिए डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे व्यक्तियों को खान-पान पर विशेष ध्यान देना पड़ता है। कुछ लोगों को लगता है कि यदि वे मीठी चीजें जैसे कि शक्कर, मिठाई आदि खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करेंगे तो उनका डायबिटीज कंट्रोल में आ जाएगा। आपका ऐसा सोचना भी सही है क्योंकि डायबिटीज के मरीजों को मीठा नहीं खाने की सलाह दी जाती है। लेकिन यहाँ आपको इस बात का ध्यान देना होगा कि डायबिटीज की समस्या सिर्फ मीठा खाने से नहीं बल्कि आपकी डाइट में शामिल कई अन्य खाद्य पदार्थों का सेवन करने से भी बढ़ती है। आज के इस आर्टिकल में हम ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों के ऊपर चर्चा करेंगे जिनका सेवन कर आप जाने अनजाने में अपनी डायबिटीज की समस्या को बूस्ट कर रहे हैं।

डायबिटीज की समस्या
courtesy google

इन खाद्य पदार्थों का सेवन बड़ा सकती है डायबिटीज की समस्या : Fruits to avoid in diabetes in hindi

आलू और शकरकंद –

डायबिटीज की समस्या से ग्रसित व्यक्ति को भूलकर भी आलू और शकरकंद का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि जमीन के अंदर उगने वाले आलू और शकरकंद दोनों में ही स्टार्च की मात्रा अधिक होती है। डायबिटीज के मरीजों को ऐसे खाद्य पदार्थो का सेवन नहीं करना चाहिए जिनमें स्टार्च की मात्रा अधिक हो।

सफेद चावल और ब्रेड –

डायबिटीज की समस्या से ग्रसित लोगों को सफेद चावल और ब्रेड का सेवन करने से बचना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि इनमें रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट मौजूद होता है जो की आपके लिए उपयुक्त नहीं रहता। इसके अलावा इस प्रकार के खाद्य पदर्थों में प्रोटीन और फाइबर जैसे जरूरी तत्वों की कमी होती है। इसलिए इस प्रकार के खाद्य पदार्थों के सेवन से आप जितनी दूरी बनाए रखें उतना आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होगा। आप इनकी जगह ब्राउन ब्रेड और ब्राउन राइस का सेवन कर सकते हैं।

हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या का कारण बनती हैं आपकी ये बुरी आदतें, आज ही छोड़ें।

ऑयली फूड –

आजकल युवाओं के बीच घर के बने खाने से कहीं अधिक बाहर के खाने को अधिक मात्रा में खाना भी अनेक बिमारियों को जन्म देता है। बाहर का यह खाना स्वाद में भले ही अच्छा हो लेकिन यह तला-भुना ऑयली फूड आपके ब्लड शुगर लेवल को भी प्रभावित करता है। साथ ही यह शरीर में मोटापा और कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने का कार्य भी करता है। इस प्रकार के ऑयली फूड में हाई कार्बोहाइड्रेट मौजूद होता है जो कि डायबिटीज की समस्या से ग्रसित लोगों के लिए कतई अनुकूल नहीं होता।

कैन्ड फूड –

डायबिटीज मरीजों को कैन्ड फूड का सेवन करने की सलाह भी नहीं दी जाती। इस समस्या से ग्रस्त लोगों को पैकेज्ड ट्रांस फैट, कुकीज, चिप्स और पीनट बटर जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन करने की सख्त मनाही होती है। शरीर के लिए ट्रांस फैट इंसुलिन प्रतिरोध और मोटापा बढ़ाने वाला होता है। इसलिए इस प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन डायबिटीज की समस्या से ग्रस्त लोगों के लिए हानिकारक रहता है।

विटामिन-A की कमी को दूर करने के लिए करें इन खाद्य पदार्थों का सेवन।

डेयरी प्रोडक्ट्स-

डायबिटीज की समस्या से ग्रसित लोगों को डेयरी प्रोडक्ट्स वाले खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए। इन लोगों को फुल क्रीम दूध और आइसक्रीम जैसे डेयरी प्रोडक्ट्स को नहीं लेना चाहिए क्योंकि इनमें सैचुरेटेड फैट की अत्यधिक मात्रा मौजूद होती है। हालांकि आप लो फैट डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन कर सकते हैं।

नॉनवेज –

डायबिटीज की समस्या से ग्रसित लोगों को सेलमन, बीफ, रेड मीट आदि खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। इन खाद्य पदार्थों का सेवन शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है। इनमें सैचुरेटेड फैट्स मौजूद होता है। इन चीजों का सेवन करने से डायबिटीज के मरीजों में हृदय रोग का खतरा बढ़ता है।

घर बैठे ब्लड शुगर स्तर की जांच कब और कैसे करनी चाहिए, आइये जानते हैं।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT