सेकंड हैंड कार खरीदने से पहले इन 8 बातों का रखें ध्यान, नहीं पड़ेगा पछताना।
TRENDING
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.
  • 9:09 PM » भगत सिंह पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on bhagat singh in hindi.

Used car buying guide in hindi…रोजमर्रा की दिनचर्या में पब्लिक ट्रांसपोर्ट के धक्के खाने के बाद आज के समय में हर कोई व्यक्ति चाहता है कि उसके पास अपनी एक पर्सनल कार हो। आपकी यह पर्सनल कार आपके यात्रा के अनुभव को बेहद सुकून भरा बनाती हैं। किसी भी कार को खरीदने के लिए सबसे जरूरी होता है आपका बजट। उसके बाद बारी आती है बजट के अनुरूप एक ऐसी कार जो उन सभी फीचर्स से लैस हो जो आपको अपनी कार में चाहिए। लेकिन टाइट बजट के चलते कई बार ऐसा सम्भव नहीं हो पाता। ऐसे में बहुत से लोग सेकंड हैंड कार खरीदने का प्लान (Used car buying guide in hindi) बनाते हैं। इसके अलावा जो लोग कार चलाना सिख रहें हो उनके लिए भी सेकंड हैंड कार एक परफैक्ट चॉइस बनती है। लेकिन सेकंड हैंड कार खरीदते समय आपको कुछ जरूरी बातों को जान लेना चाहिए। बिना सोचे समझे जल्दबाजी में सेकंड हैंड कार खरीदने का निर्णय आपकी जेब पर हमेशा के लिए भारी पड़ सकता है। इसलिए यदि आप भी सेकंड हैंड कार खरीदने (Used car buying guide in hindi) का मन बना रहे हैं तो अपनी कार खरीदने से पहले इन जरूरी बातों पर जरूर ध्यान दीजिए ।

सेकंड हैंड कार खरीदने
courtesy google

सेकंड हैंड कार खरीदने का बना रहें हैं प्लान, इन बातों का रखें ध्यान : Remember these things when buy a second hand/used car

Used car buying tips in hindi : कार के लिए करें बजट तय –

अपने पसंद की (Used car buying guide in hindi) सेकंड हैंड कार खरीदने से पहले बजट को तय करें। इससे आपको एक आईडिया रहेगा कि अपने तय बजट के अंदर आपको अपनी मन पसंद कार मिल रही है या नहीं। कई बार ऐसा होता है कि जितने बजट में हम सेकंड हैंड कार खरीदने का प्लान करते हैं। उसमे कुछ एक्सट्रा पैसे मिलाकर ब्रांड न्यू कार आपको मिल जाती है। साथ ही सेकंड हैंड कार खरीदने वालों को इस बात को दिमाग में रखना चाहिए कि उन्हें इस कार की मेंटनेस पर अधिक पैसे खर्च करने पड़ेंगे।

Used car buying tips in hindi : करें मॉडल का चयन –

कार का बजट तय करने के बाद दूसरा सबसे अहम काम होता है कार का मॉडल सलेक्ट करना। मौजूदा समय में
आपको बाजार में हैचबैक, एमपीवी, सेडान, एसयूवी जैसी अन्य कई कारों की कैटगिरी देखने को मिल जाती है। ऐसे में कई बार सेकंड हैंड कार की कीमत कम होने के कारण आप कन्फ्यूज हो जाते हैं कि आपके लिए कौन सी कार का चयन एक सही विकल्प रहेगा। इसलिए सबसे पहले अपने मन पसंद कार के मॉडल का चयन करें। उसके बाद ही कार खरीदने जाएँ। इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि एक तो आप कार खरीदते समय डीलर की बात से कन्फ्यूज नहीं होते। दूसरा आप ने जिस मॉडल को खरीदने का मन बनाया होता है उसके बारे में आपको जरूरी जानकारी होती है।

ऑटोमेटिक गियर वाली कार खरीदने वाले लोग इन बातों को जरूर जान लें।

Used car buying tips in hindi : सही डीलर का चुनना है जरूरी –

पिछले कुछ समय से देश में (Used car buying guide) सेकंड हैंड कारों के चलन में काफी वृद्धि देखने को मिली है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि आपको अपने शहर में कई जगह रोड किनारे खड़ी कई ऐसी कार दिख जाती हैं। जिनमें फॉर सेल लिखा होता है। इसके अलावा शहर में कई अन्य शोरूम भी मिल जाते हैं जो सिर्फ सेकंड हैंड कार में डील करते हैं। एक शहर के अंदर इतने सारे डीलर मौजूद होने के कारण ये पता करना सबसे जरूरी होता है की इनमें से कौन जेनुइन है। मौजूदा समय में बाजार में ऐसे कई डीलर्स मौजूद हैं जिनके पास कार का अच्छा-खासा कलेक्शन मौजूद होता है। लेकिन उनके यहाँ से खरीदी हुई कार बहुत जल्द ही आपकी जेब पर भारी पड़ने लगती है। इसलिए पहले जिस शहर में आप रहते हैं वहां के सभी डीलर्स की लिस्ट निकालें और पता करें उनमें से कौन सही है और कौन नहीं।

Used car buying tips in hindi : ऑनलाइन कार खरीदने के झांसे में न फसें –

आज के आधुनिक युग में आपको ऑनलाइन भी बड़े आराम से सेकंड हैंड कार खरीदने (Used car buying guide ) के लिए मिल जाती है। ऑनलाइन ब्रिकी के लिए डाली गयी इन कार की कीमत और पिक्चर्स दोनों बेहद लुभावनी होती है। लेकिन हम आपको यही सलाह देंगे कि बात जब कार खरीदने की हो तो इसे सिर्फ कुछ पिक्चर्स देख नहीं खरीदा जा सकता है। ऑनलाइन कई तरह के फर्जी वाड़े हो सकते हैं। जैसे की तस्वीर में कार जितनी सुंदर दिख रही हो सामने से उतनी अच्छी नहीं हो। इसके अलावा कई लोग चोरी की कार को भी ऑनलाइन सस्ते दामों पर बेचने की फिराक में रहते हैं। सेकंड हैंड कार की डील फाइनल करने से पहले कार की अच्छी तरह से जाँच करना जरूरी होता है जो कि ऑनलाइन डील में संभव नहीं होता।

सभी को जानने चाहिए, चलती कार में आग लगने के कारण और उनसे बचने के तरीके।

Used car buying tips : ऑथोराइज्ड डीलर से खरीदना सबसे अच्छा विकल्प –

जैसा की हमने आपको बताया कि मौजूदा समय में आपको ऑनलाइन से लेकर ऑफलाइन तक कई सारे सेकंड हैंड कार विक्रेता आसानी से मिल जाएंगे। इसलिए ये बहुत जरूरी होता है कि इनमें से एक सही और भरोसेमंद डीलर को चुनना। यदि आप किसी डीलर पर भरोसा नहीं कर पा रहे हो, तो आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प रहेगा किसी ऐसे ऑथोराइज्ड डीलर से कार खरीदी जाए जो सिर्फ सेकंड हैंड कार में डील करता हो। जैसे कि मारुती सुजुकी ट्रू वैल्यू, हुंडई एच प्रॉमिस, फोर्ड एश्योर्ड, महिंद्रा फर्स्ट चॉइस व्हील्स आदि।

Used car buying tips : कार की जांच है जरूरी –

सेकंड हैंड कार खरीदने (Used car buying guide in hindi) से पहले उसकी अच्छी तरह से जाँच-पड़ताल करना सबसे जरूरी कदम है। कई लोग ऐसे होते हैं जिनकी कार में कुछ प्रॉब्लम होने के कारण वो इसे बेच देते हैं। इसलिए कार की जांच जरूरी है। साथ ही आपको यह भी देखने की जरूरत होगी कि क्या कार में लगे सभी पार्ट ओरिजनल हैं। इसके लिए आप अपने साथ किसी कार एक्सपर्ट या फिर किसी भरोसेमंद कार मैकेनिक को साथ लेकर जाएँ। कार के एक्सटीरियर-इंटीरियर के साथ उसके चेसिस और इंजन की भी जाँच करे। इससे आपको ये जानने में भी मदद मिलेगी की कार का कभी एक्सीडेंट हुआ था या नहीं।

कार से यात्रा के दौरान इन जरूरी चीजों को हमेशा रखें साथ।

Used car buying tips : टेस्ट ड्राइविंग जरूर लें –

सेकंड हैंड कार खरीदने (Used car buying guide in hindi) से पहले उसकी टेस्ट ड्राइव जरूर लें। कम से कम 10 से 15 किलोमीटर कार चलाएं और इस दौरान कार के इंजन की आवाज, पिकअप आदि को नोटिस करें। यह भी नोटिस करें कि कार के गियर को चेंज करते समय कोई दिक्क्त तो नहीं आ रही है। इसके अलावा गियर बॉक्स में वाइब्रेशन है या नहीं, कार के इंजन में कितना वाइब्रेशन है और क्या ब्रेक सही से काम कर रहें हैं, कार का AC सही से काम कर रहा है या नहीं, इन सभी बातों को अपनी टेस्ट ड्राइविंग के दौरान नोटिस करें।

Used car buying tips : पूरे पेपर्स मिलने पर ही कार खरीदें –

अपनी सेकंड हैंड कार खरीदने (Used car buying guide) से पहले कार के सभी जरूरी कागजों की जाँच करें। कार के रजिस्ट्रेशन के सभी कागज चेक करें। इसके अलावा कार खरीदने से पहले संबंधित थाने में जाकर क्राइम रिपोर्ट जरूर निकलवाएँ इसका फायदा यह होगा कि आप जिस कार को खरीद रहे हैं उसका कोई क्रिमनल रिकार्ड है या नहीं ये आपको पता लग जाएगा। कार खरीदने से पहले इसके रजिस्ट्रेशन, इंश्योरेंस सब कुछ देख लें और ओरिजनल आरसी अपने हाथ में लें।

ये टिप्स दिलाएंगे लॉन्ग ड्राविंग के दौरान कमर दर्द की समस्या से छुटकारा।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT