Sarson Ke Beej Ke 7 Fayde : सरसों के बीज के फायदे और नुकसान।
TRENDING
  • 10:24 PM » गर्मियों के सीजन में करें इन सब्जियों और फलों के जूस को अपनी डाइट में शामिल।
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.

Sarson ke beej ke fayde…सरसों का साग और मक्के की रोटी शुरू से ही अपने स्वाद के लिए जाना जाता है। सर्दियाँ आते ही बाजार में सरसों की भारी मांग देखने को मिलती है। सरसों का सिर्फ साग ही नहीं बल्कि इसका तेल और बीज भी बेहद लोकप्रिय हैं। आज के इस आर्टिकल में हम चर्चा करेंगे सरसों के बीज के ऊपर। सरसों के बीज का उपयोग अक्सर खाने बनाते समय तड़का लगाने में किया जाता है। यह खाने के फ्लेवर को बढ़ाने का कार्य करता है। इसके साथ ही यह अनेक ऐसे औषधीय गुणों से भरपूर होता है जिनका सेवन करने से हमें अनेक स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। (Benefits Of Mustard Seeds In Hindi) सरसों के बीज के फायदे की बात करें तो यह कैंसर, डायबिटीज और हृदय रोग जैसी गंभीर बिमारियों को हमसे दूर रखने का काम करते हैं। इसके अलावा भी इसमें कई ऐसे औषधीय गुण मौजूद होते हैं जो हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी माने जाते हैं। आप भी इन्हें अपनी डाइट में जगह देकर इनसे मिलने वाले स्वास्थ्य लाभ ले सकते हैं। आईये जानते हैं (Sarson ke beej ke fayde) सरसों के बीज के फायदे और इसके नुकसान के बारे में।

सरसों के बीज के फायदे
courtesy google

सरसों के बीज के फायदे (Sarson ke beej ke fayde) – Benefits Of Mustard Seeds In Hindi

Sarson ke beej ke fayde : वजन कम करने के लिए –

(Benefits Of Mustard Seeds In Hindi) सरसों के बीज के फायदे वजन कम करने के लिए भी लिए जा सकते हैं। आप इसके बीजों का प्रयोग पाउडर के रूप में भी कर सकते हैं। इसके अलावा वजन घटाने के लिए इसके बीज से बनने वाले तेल का प्रयोग भी किया जा सकता है। इसके बीज में मौजूद राइबोफ्लेविन, फोलेट, थियामिन जैसे तत्व मेटबॉलिज्म रेट को बढ़ावा देने का कार्य करते हैं। यदि मेटाबॉलिज्म रेट अच्छा रहेगा तो आपके द्वारा खाए जाने वाला खाना फैट में कन्वर्ट नहीं होगा।

Sarson ke beej ke fayde : पीरियड्स में –

(Benefits Of Mustard Seeds In Hindi) सरसों के बीज के फायदे पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याओं में आराम पाने के लिए भी किया जा सकता है। इसमें मौजूद मैग्नीशियम, सेलेनियम, आयरन और कॉपर जैसे तत्व महिलाओं को पीरियड्स के दौरान होने वाले तेज दर्द से में आराम दिलाने का कार्य करते हैं। इसके अलावा यह यह पीरियड्स के दौरान हड्डियों को होने वाले नुकसान की भी भरपाई करता है। पीरियड्स के दौरान इसका साग खाने आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

अंगूर के बीज के तेल के फायदे (angur ke beej ka tel) – Grapeseed oil benefits in hindi.

Sarson ke beej ke fayde : डायबिटीज में –

(Mustard Seeds Benefits In Hindi) सरसों के बीज के लाभ डायबिटीज जैसी समस्या से छुटकारा पाने के लिए भी किया जा सकता है। इस पर हुए शोध बताते हैं कि हाइपोग्लाइसेमिक और एंटीडायबिटिक गुण शुगर जैसी समस्या को दूर करने का काम करते हैं। साथ ही यह ब्लड में गलूकोज के स्तर को भी कम करने का कार्य करता है। टाइप 2 डायबिटीज की समस्या को दूर करने में भी ये असरदार साबित होते हैं।

Benefits Of Mustard Seeds In Hindi : कैंसर में –

(Mustard Seeds Benefits In Hindi) सरसों के बीज से मिलने वाले फायदे की बात करें तो यह कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी को भी हमसे दूर रखने का कार्य करता है। दरअसल इसमें मौजूद “ग्लूकोजेल ओलेट” कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं ट्यूमर और गांठ को बनने से रोकता है। साथ ही इसमें मौजूद फाइटोन्यूट्रिएंट्स भी कैंसर से बचाव करने का कार्य करते हैं। आपको भी अपनी डाइट में सरसों को जरूर जगह देनी चाहिए। साथ ही रिफाइन्ड तेल की जगह सरसों के तेल का प्रयोग करना चाहिए।

सेब खाने के फायदे (Seb khane ke fayde) – Benefits of apple in hindi.

माइग्रेन में –

औषधीय गुणों से भरपूर (Mustard Seeds Benefits In Hindi) सरसों के बीज के फायदे माइग्रेन से जुडी समस्या में भी लिए जा सकते हैं। माइग्रेन में व्यक्ति के सिर के किसी भी हिस्से या सम्पूर्ण सिर में बहुत तेज दर्द होने लगता है और यह दर्द बहुत देर तक बना रहता है। ऐसे में सरसों के बीज का प्रयोग आपको इस समस्या में आराम पहुंचाने का कार्य करते हैं। इनमें मौजूद मैग्‍नीशियम माइग्रेन की समस्‍या को दूर करने में कारगर साबित होता है।

अर्थराइटिस में –

(Mustard Seeds Benefits In Hindi) सरसों के बीज के बेनिफिट्स अर्थराइटिस यानि की गठिया की समस्या में भी लिए जा सकते हैं। इसके बीज और तेल दोनों का प्रयोग ही जोड़ों के दर्द और सूजन की समस्या को दूर करने का काम करता है। इसमें मौजूद सेलेनियम और मैग्नीशियम जैसे तत्व गठिया की बीमारी में राहत दिलाने का कार्य करते हैं। जोड़ों के दर्द में राहत पाने के लिए सरसों के तेल से मालिस करना भी फायदेमंद रहता है।

खजूर खाने के फायदे (Khajur khane ke fayde) – Benefits of dates in hindi.

बालों के लिए –

बालों के लिए भी (Mustard Seeds Benefits In Hindi) सरसों के बीज फायदेमंद रहते हैं। बालों की अच्छी ग्रोथ और विकास के लिए इसके बीज से बनने वाले तेल का प्रयोग करना चाहिए। हफ्ते में एक से दो बार अपने सिर पर सरसों के तेल की मालिस जरूर करें। यह ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है साथ ही बालों को जरूरी पोषण प्रदान करता है। इसमें मौजूद विटामिन ए बालों के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा इसमें मौजूद अन्य पोषक तत्व बालों को मजबूत और घना बनाने में भी अपना सहयोग करते हैं।

सरसों के बीज के नुकसान – Side Effects of Mustard in Hindi

  • त्वचा पर अधिक देर तक इसका प्रयोग जलन आदि समस्या का कारण बनता है।
  • अधिक मात्रा में इसका सेवन दस्त, उलटी गले में जलन की समस्या का कारण बन सकता है।
  • अधिक मात्रा में इसका सेवन हृदय के लिए खतरनाक साबित होता है।

कसूरी मेथी के फायदे (Kasuri methi ke fayde) – Benefits of Kasuri Methi in Hindi.

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT