Meditation Meaning In Hindi : मेडिटेशन करने से पहले जानें ये जरूरी बातें।
TRENDING
  • 11:25 PM » Pet mein jalan ka upay : पेट में जलन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय.
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।

Meditation meaning in hindi…आपने अक्सर कई लोंगो को यह कहते सुना होगा की मेडिटेशन करने से अनेक स्वास्थ्य लाभ होते हैं। इसके नियमित अभ्यास से व्यक्ति अपने शरीर के सबसे चंचल हिस्से मन पर काबू पा सकता है। ऐसे कई सिद्ध लोगों की कहानी आप अक्सर सुनते होंगे जिन्होंने मेडिटेशन के बल बूते पर अपनी सभी इंद्रियों को काबू में कर लिया था। आज के समय में कई लोग मेडिटेशन को धर्म से जोड़ कर देखने लगे हैं जो बिलकुल सही नहीं। मेडिटेशन (Meditation meaning in hindi) को कभी भी किसी धर्म विशेष से जोड़कर नहीं देखना चाहिए। इसके बारे में आपको बता दें कि यह अपनी इन्द्रियों पर काबू पाने की प्राचीन तकनीक है जिसका निरंतर अभ्यास आपको इस कला में दक्ष बना देता है। यदि आप भी अपने मेडिटेशन करने की चाह रखते हैं तो आपको इससे जुडी कुछ बातों को जान लेना चाहिए।

मेडिटेशन करने
courtesy google

मेडिटेशन करने से पहले जानें क्या होता है इसका अर्थ – What is meditation meaning in hindi.

यदि आप मेडिटेशन करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले आपको यह जान लेना चाहिए, क्या होता है मेडिटेशन? आसान शब्दों में मेडिटेशन की परिभाषा (Meditation meaning in hindi) को समझे तो इसका मतलब होता है, ध्यान लगाना। किसी भी व्यक्ति के लिए उसके मन पर काबू पाना सबसे मुश्किल बात होती है। ऐसे में मेडिटेशन के द्वारा ध्यान लगाने का अभ्यास किया जाता है। साथ ही इस प्रकिया के द्वारा व्यक्ति अपने अंदर छुपी असीम शक्तियों को पहचानने की कोशिश करता है। साथ ही वह अपनी इच्छाओ पर नियंत्रण करना सिखाता है।

मेडिटेशन क्यों करनी चाहिए – Benefits of meditation in hindi

मौजूदा समय की बात करें तो आजकल का लाइफस्टाइल कई प्रकार के स्ट्रेस से भरपूर होता है। स्टडी, जॉब, शादी, पैसा जैसे अन्य अनेक तनाव हर किसी को कहीं न कहीं परेशान करते रहते हैं। ऐसे में खुद को शांत रखने और स्ट्रेस फ्री रहने के लिए यह बहुत जरूरी होता है कि आप मेडिटेशन (Meditation meaning in hindi) का सहारा लें। नियमित रूप से सुबह और शाम इसका अभ्यास जरूर करें। यह आपको ध्यान लगाने, शांत रहने, एकाग्रता बढ़ाने, मन को काबू करने, आत्मविश्वास बढ़ाने और इन्द्रियों पर नियंत्रण रखने में सहायता करता है। निरंतर इसका अभ्यास आपको इस तकनीक में दक्ष बनाता है। उम्मीद करते हैं कि आप मेडिटेशन क्या है? और मेडिटेशन क्यों करनी चाहिए? इस बारे में जरूरी बातें जान गए होंगे। आईये अब जानते हैं मेडिटेशन कैसे करते हैं? इसे करने का सही तरीका क्या है।

इन 5 तरीकों से करें दिमाग की एक्सरसाइज, ब्रेन बनेगा शार्प और तेज।

मेडिटेशन कैसे करते हैं –

  • सुबह सूरज उगने से पहले उठें और फ्रेश होकर इसे करने की तैयारी करें।
  • मेडिटेशन करने के लिए सबसे पहले ऐसी जगह ढूढें जो खुली और एकांत हो।
  • इसके लिए आप घर के लॉन, टेरेस, छत या नजदीकी पार्क और मैदान में जाएँ।
  • सबसे पहले अपनी योगा मैट को बिछाएं।
  • अब पालथी मार कर बैठ जाएँ।
  • दोनों हाथों को आगे की और घुटनों की तरफ रखें।
  • अपनी आँखे बंद करें।
  • सब कुछ भूलकर अपना ध्यान मस्तिष्क के केंद्र बिंदु पर डालें।
  • धीरे-धीरे गहरी साँसे भरें।
  • शुरुआती दिनों में 10 से 15 मिनट तक इस प्रकिया को करें। बाद में कम से कम 30 मिनट तक इसका अभ्यास जरूर करें।

एक अच्छे, मजबूत चरित्र का निर्माण कैसे करें, क्या आप में हैं ये खूबियां ?

मेडिटेशन का मतलब क्या होता है?

मेडिटेशन का मतलब ध्यान लगाना होता है। इस प्रक्रिया के द्वारा मन पर काबू पाया जा सकता है।

मेडिटेशन क्यों जरूरी है?

अपने अंदर के आत्मविश्वास को जगाने, सकारात्मक सोच रखने और अपने मन को अपने काबू में रखने के लिए मेडिटेशन जरूरी है।

मेडिटेशन कब और कैसे करना चाहिए ?

मेडिटेशन रोजाना दो बार सुबह सूरज उगने से पहले और शाम को सूर्यास्त के समय करना चाहिए। इसे कैसे करना इस बारे में विस्तृत जानकारी के लिए ऊपर दिए गए आर्टिकल को पढ़ें।

मेडिटेशन कौन कौन सी जगह किया जाता है?

मेडिटेशन घर के अंदर और बाहर दोनों जगह किया जा सकता है बशर्ते वहां आपको कोई डिस्टर्ब करने वाला नहीं होना चाहिए। कोशिश करें कि घर के बाहर खुली जगह पर ध्यान लगाया जाए।

मेडिटेशन से क्या लाभ है?

मेडिटेशन प्रकिया स्ट्रेस, तनाव, अवसाद, चिंता, नेगेटिविटी, आत्मविश्वास की कमी जैसी कई अन्य समस्याओं को दूर करती है।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest






  •  
  •  
  •