क्या स्टैमिना हो गया है समाप्त? ये टिप्स बढ़ाएंगे आपके स्टैमिना की पावर।
TRENDING
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.
  • 9:09 PM » भगत सिंह पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on bhagat singh in hindi.

अक्सर ऐसा होता है की हम जोश में आ कर किसी खेल में हिस्सा तो ले लेते हैं लेकिन कुछ ही देर मैं हमारा स्टैमिना समाप्त हो जाता है। स्टैमिना समाप्त होते ही हमारा शरीर जवाब देने लगता है सांसे फूलने लगती हैं, चक्कर आने लगता है और शरीर किसी भी कार्य को लगतार करने में असमर्थता जताने लगता है।

ऐसा जरुरी नहीं है की स्टैमिना की जरूरत सिर्फ खिलाडियों को ही होती है, सामान्य व्यक्तियों को भी इसकी उतनी ही जरूरत होती है एक उदाहरण के तौर पर मान लीजिये आप कोई ऐसा काम करते हैं जिसमें थोड़े शारीरिक परिश्रम की जरूरत पड़ रही हो किन्तु कार्य शुरू करने के कुछ समय पश्च्यात आपका शरीर जवाब देने लग जाये तो समझ लीजिये आपके अंदर स्टैमिना की कमी हो गयी है। और अब आपको जरूरत है अपने स्टैमिना क्षमता को सुधारने की आईये जानते हैं कैसे बूस्ट करें अपने स्टैमिना को।

स्टैमिना समाप्त

courtesy google

बॉडी चेकअप से करें शुरुवात –

अगर आप किसी भी कार्य को करते हुए बहुत जल्दी थक जातें हों या आपकी बहुत जल्दी साँस फूलने लग जाती है तो इस स्थिति में हो सकता है की शायद आपकी बॉडी में कोई समस्या हो और इसका निस्कर्स तभी निकलता है जब हम अपनी बॉडी का मेडिकल चेकअप करवाते हैं। चैकअप की रिपोर्ट आने के बाद ही आपको ये पता लग पायेगा की आंखिर किन कारणों के चलते आपको इन सभी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

छोटे-छोटे स्‍टेप से करें शुरुवात –

कभी भी स्टैमिना बढ़ाने की शुरुवात बहुत हैवी वर्कआउट के साथ नहीं करनी चाहिए हो सकता है जोश में आकर पहले दिन तो आप सभी एक्सरसाइज आसनी से कर जाएँ लेकिन अगले दिन आपकी बॉडी में तेज दर्द होने लगे इसलिए शुरुवाती चरण में चाहे रनिंग हो या वर्कआउट 5 से 10 मिनट से जयादा नहीं करना चाहिए। आप चाहें तो अपने शेड्यूल में हर दिन 4 से 5 मिनट का इजाफा कर सकते हैं।

स्टैमिना समाप्त

courtesy google

नियमित व्यायाम करें –

अगर आप भी अपनी बोन डेंसिटी और मसल्स पावर को बढ़ाना चाहते हैं तो नित्य व्यायाम अवश्य करें ऐसा करने से स्टैमिना तो बढ़ता ही है साथ ही बॉडी का स्ट्रेचिंग लेवल और रक्तचाप भी नियंत्रण में रहता है। अपने व्यायाम के इस शेड्यूल में बॉडी का स्टैमिना बढ़ाने के लिए इन अहम् बिंदुओं पर अवश्य ध्यान दें :

स्ट्रैचिंग- यह एक्सरसाइज बॉडी में लचीलापन लाने के लिए अत्यंत आवश्यक होती है।

बॉडी बैलेंसिंग – इस प्रकार की एक्सरसाइज बॉडी के संतुलन को बनाये रखने में काफी कारगर साबित होती है।

स्ट्रेंथ – इस प्रकर की एक्सरसाइज के द्वारा शरीर की मांसपेशियाँ मजबूत बनती हैं और ये शरीर का स्टैमिना बढ़ाने में भी मदद करती है।

एंड्यूरेंस – इस प्रकर की एक्सरसाइज के माध्यम से हम अपनी बॉडी के सहनशक्ति के लेवल को बढ़ाने का काम करते हैं।

सुबह जल्दी उठ कर खुद को मॉर्निंग एक्सरसाइज के लिए कैसे करें तैयार।

हैल्दी फूड्स का सेवन बढ़ाएं स्टैमिना –

स्टैमिना बढ़ाने के लिए सिर्फ एक्सरसाइज ही नहीं अपितु इसके साथ हैल्दी फूड्स यानी की पोषक खाद्य पदार्थों का सेवन भी अत्यंत आवश्यक हो जाता है इसलिए अपनी डायट में उन सभी खाद्य पदार्थों को शामिल करें जिनसे आपके शरीर को प्रयाप्त मात्रा में कार्बोहाइड्रेड, प्रोटीन, न्यूट्रिशन, एनर्जी मीले इसके लिए आप अपनी डायट में फल, सब्जियां, ड्राईफूड्स, पनीर, दूध, अंडा, मछली को शामिल करें।

अपनी पसंदीदा एक्टिविटीज को समय दें –

स्टैमिना बढ़ाने के लिए आप अपनी पसंदीदा एक्टिविटीज के लिए भी समय निकालें इसके तहत आपको अगर कोई गेम जैसे की फुटबाल, क्रिकेट, हॉकी, कबड्डी या अन्य कोई जो भी गेम आपको पसंद हो उसको खूब खेलें और यदि आपको रनिंग, साइकिलिंग, स्विमिंग या जो भी एक्टिविटी आपको पसंद है उसके लिए समय निकालें।

मन को वश में कैसे करें। मन को काबू करने के लिए अपनाएं ये टिप्स।

एल्कोहल, धूम्रपान का सेवन छोड़ें –

यदि आपको शराब, सिगरेट, गुटका, तम्बाकू या अन्य किसी प्रकार के सस्ता नशा करने की लत लगी है तो जितनी जल्दी संभव हो इन सभी का त्याग करें ये सभी चीजें आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुँचाने के साथ साथ आपके स्टैमिना स्तर को कम करने के लिए भी जिम्मेदार होती हैं।

स्टैमिना बढ़ाने के लिए खूब पानी पियें –

अपने शरीर को डीहाईड्रेशन और थकान से बचाने के लिए पानी अधिक से अधिक मात्रा में पियें। पानी पिने से आपका स्वास्थ्य तो अच्छा रहता है साथ ही पुरे दिन आपका शरीर तरोताजा भी बना रहता है। एक दिन में कम से कम 1 से 2 लीटर यानि की 8 से 10 गिलास पानी अवश्य पीना चाहिये।

सुबह जल्दी उठने के लिए आज ही से अपनाएं इन अहम टिप्स को।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                          Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT