मोनोसाइट्स का मतलब क्या है - Monocytes Meaning In Hindi. - Pinkstea.com: Fitness, Nutrition, Beauty, Inspiration, Health Magazine
TRENDING
  • 10:24 PM » गर्मियों के सीजन में करें इन सब्जियों और फलों के जूस को अपनी डाइट में शामिल।
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.

Monocytes meaning in hindi…क्या आप जानते हैं मोनोसाइट्स का मतलब क्या है? जो लोग नहीं जानते उनके लिए आज का यह आर्टिकल बहुत खास होने वाला है। जैसा कि हम सब जानते हैं आज के समय में हर व्यक्ति अपने स्वास्थ्य को लेकर बेहद जागरूक रहता है। अक्सर ऐसा देखा गया है, जो लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग नहीं रहते उन्हें बीमारियां जल्दी पकड़ लेती हैं। इसलिए हमारा हमेशा से यह उद्देश्य रहा है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया जाए। साथ ही स्वास्थ्य से जुडी अधिक से अधिक जानकारियोँ से आपको अवगत कराया जाए। इसी क्रम में आज हम आपके लिए लेकर आएं हैं मोनोसाइट्स से जुडी कुछ अहम जानकारियाँ। साथ ही हम जानेंगे मोनोसाइट्स का मतलब क्या है (Monocytes meaning in hindi) और एक स्वस्थ्य व्यक्ति में मोनोसाइट्स कितना होना चाहिए?

मोनोसाइट्स मतलब क्या है
courtesy google

मोनोसाइट्स का मतलब क्या है : Monocytes meaning in hindi.

मोनोसाइट्स का मतलब श्वेत रक्त कोशिकाओं के उस समूह से है जिनका निर्माण बोन मैरो में होता है। इन सभी श्वेत रक्त कोशिकाओं के अंदर नुक्लियस मौजूद होता है। मोनोसाइट्स डिफरेंशियल ल्यूकोसाइट के ही भाग होते हैं जो दिखने में मोनोसाइट्स अमोएबोइड की तरह दिखते हैं। सरल शब्दों में कहा जाए तो मोनोसाइट्स एक प्रकार की श्वेत रक्त कोशिकाओं का समूह है जिनका मुख्य कार्य शरीर को बाह्य बैक्टीरिया, वायरस और फंगस के संक्रमण से बचाना है। शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में इनका अहम रोल होता है।

मोनोसाइट्स मतलब क्या है/मोनोसाइट्स क्या है – What is Monocytes meaning in hindi.

मोनोसाइट्स एक प्रकार की श्वेत रक्त कोशिका हैं जिनका निर्माण अस्थि मज्जा में होता है। इन रक्त कोशिकाओं में ग्रनुलेस नहीं पाया जाता है जिस कारण इन्हें नॉन ग्रेन्यूलोसाइट्स रक्त कोशिका के रूप में भी जाना जाता है। मोनोसाइट का मुख्य काम शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देने और शरीर को बाहरी इंफेक्शन, बैक्टीरिया, वायरस के संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करना है।

स्वस्थ्य व्यक्ति में मोनोसाइट्स कितना होना चाहिए –

आमतौर पर, मोनोसाइट्स कुल श्वेत रक्त कोशिकाओं की संख्या का 2 से 8 प्रतिशत हिस्सा बनाते हैं।
आयु सीमा के आधार पर मोनोसाइट्स की संख्या प्रति माइक्रोलीटर (एमसीएल) में :
वयस्क में 0.2 से 0.95 x 103
6 महीने से 1 वर्ष तक के शिशु में 0.6 x 103
4 से 10 साल के बच्चे में 0.0 से 0.8 x 103

हीमोग्लोबिन बढ़ाने के उपाय (Hemoglobin Badhane Ke Upay) – How To Increase Hemoglobin In Hindi.

मोनोसाइट्स की संख्या बढ़ने के कारण – High absolute monocyte count in hindi.

  • सारकॉइडोसिस, एक ऐसी बीमारी जिसमें शरीर के कई अंगों में सूजन और कोशिकाओं का असामान्य स्तर इकट्ठा होने लगे।
  • पुरानी सूजन संबंधी बीमारियां, जैसे आँतों में सूजन।
  • ल्यूकेमिया और अन्य प्रकार के कैंसर, जिसमें लिम्फोमा और मल्टीपल मायलोमा शामिल हैं।
  • ऑटोइम्यून रोग, जैसे ल्यूपस और रुमेटीइड गठिया

मोनोसाइट्स की संख्या कम होने के कारण – Low absolute monocyte count in hindi.

कीमोथेरेपी और विकिरण चिकित्सा, जो अस्थि मज्जा को प्रभावित कर सकती है।
एचआईवी और एड्स, जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर करते हैं।
सेप्सिस, रक्त प्रवाह का संक्रमण।

Wbc Count High In Hindi : श्वेत रक्त कोशिकाओं के कम या ज्यादा होने पर अपनाएँ ये घरेलू नुस्खे।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT