घर पर आयुर्वेदिक काजल बनाने की विधि : Ghar Par Kajal Banane Ki Vidhi.
TRENDING
  • 6:22 PM » Essay On Peacock In Hindi : मोर पर निबंध लिखने का तरीका।
  • 7:08 PM » Essay on Means of Transport in Hindi : यातायात के साधन पर निबंध।
  • 11:36 PM » Essay on My School in Hindi : स्कूल पर निबंध लिखने का तरीका।
  • 6:57 PM » टंग ट्विस्टर चैलेंज : टंग ट्विस्टर क्या होते हैं? (Best tongue twisters in Hindi).
  • 11:41 PM » Facts About Jupiter In Hindi : बृहस्पति ग्रह से जुड़े रोचक तथ्य।

Ayurvedic kajal banane ki vidhi…महिलाओं के मेकअप में काजल का अहम स्थान होता है। इसका मुख्य काम आँखों की खूबसूरती को निखारना होता है। मौजूदा समय में बाजार में आपको कई ब्रांड्स का रेडीमेट काजल बड़ी आसानी से मिल जाता है। लेकिन इन सभी में केमिकल मिला होता है इसलिए इनका लम्बे समय तक उपयोग नुकसानदायक रहता है। इस की जगह आप होममेड या आयुर्वेदिक काजल का प्रयोग कर सकते हैं आयुर्वेदिक काजल बनाने में उपयोग की जाने वाली अधिकतर सामग्री आपको अपने घर पर ही बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाती है। साथ ही इसका प्रयोग केमिकल युक्त काजल की तरह नुकसानदेय नहीं होता। काजल की जो बात इसे अन्य मेकअप उत्पादों से अलग बनती है वो यह है कि इसका प्रयोग महिलाओं के साथ-साथ पुरुष भी कर सकते हैं। इसका प्रयोग न सिर्फ आँखों के मेकअप के लिए किया जाता है बल्कि इसका प्रयोग काले टीके की तरह भी किया जाता है। खासतौर पर छोटे बच्चों को बुरी नजर से बचाने के लिए उन्हें काजल का टीका लगाया जाता है। आईये जानते है घर पर आयुर्वेदिक काजल बनाने की विधि (Ayurvedic kajal banane ki vidhi) के बारे में ।

आयुर्वेदिक काजल बनाने
courtesy google

घर पर आयुर्वेदिक काजल बनाने की विधि (Ghar par kajal banane ki vidhi) – How to make homemade kajal in hindi

सरसों के तेल से बनाएं काजल –

इस विधि से काजल बनाने के लिए दो सामान आकर के कप या गिलास लीजिए और इनके बीच में एक दिया रख दीजिए। अब इस दिए में सरसों का तेल डालिए और फिर दिये में बत्ती बना कर डाल दें। अब दिए को जला लें और एक प्लेट को दोनों कप के ऊपर रख दें। यहाँ आपको इस बात का ध्यान देना होगा कि प्लेट रखने से दिए की लौ बुझने न पाए। इसके अलावा दिए को जमीन से इतनी हाइट पे रखें कि उसकी लौ प्लेट को छू ले। रात भर के लिए दिए को जलने दें, ऐसा करने पर दिए के ऊपर रखी प्लेट पर एक काली पर्त जमा हो जाती है। अगली सुबह इस कार्बन कोटिंग को खुरच कर निकाल लें और इसे एक डिब्बी में भर दें। इसके बाद इसमें बहुत थोड़ा सा देसी घी मिला लें। आपका होममेड आयुर्वेदिक काजल (homemade kajal in hindi) बन कर तैयार हो जाएगा।

बादाम से बनाएं काजल –

इस विधि से काजल बनाने के लिए सबसे पहले एक दो कप या गिलास लें और उनके बीच में एक दिया रखें। अब इस दिए में तेल डालें और जला लें। इसके बाद एक प्लेट पर एक या दो बादाम रख कर इसे कप के सहारे दिए की लौ के ऊपर रख दें और बादाम को जलने दें। इस प्रकिया को अन्य बादामों के साथ भी दोहराएं और प्लेट पर जमा हुई कालिख को किसी डिब्बे में इकट्ठा कर लें। आपका (homemade kajal in hindi) होममेड काजल बन कर तैयार हो जायेगा।

काजल लगाने के फायदे और नुकसान (Kajal lagane ke fayde) – Homemade kajal benefits in hindi.

कपूर से बनाएं काजल –

इस विधि से काजल बनाने के लिए एक से दो कपूर के टुकड़े लें और इन्हें एक प्लेट के बीच में रखें। इस प्लेट के दोनों तरफ कपूर रख लें और इस कपूर को जला दें। ऐसा करने के बाद जो कालिख प्लेट और कप में इकट्ठा हुई है उसे खुरच कर निकाल लें। अब इसे एक डिब्बे में भर कर रख दें, आपका आयुर्वेदिक काजल बन कर तैयार है।

एलोवेरा से बनाएं काजल –

इस विधि से काजल बनाने के लिए आपको चाहिए थोड़ा सा एलोवेरा जेल और केस्टर ऑयल। काजल बनाने के लिए एक दिए में केस्टर ऑयल डालें। अब इस दिए को दो कपों के बीच में रखें और एक प्लेट में एलोवरा जेल डाल कर इसे दोनों कपों का सहारा देकर दिए के ऊपर रख दें। अब दिए में बत्ती डाल कर इसे जला दें और रात भर के लिए इसे जलने छोड़ दें। सुबह होने पर प्लेट में जले हुए एलोवेरा की कालिख को चाकू की मदद से निकाले लें और एक डिब्बी में भर दें।

अब नहीं रहेगी जन्म जात दृष्टिहीनता, वैज्ञानिकों ने तैयार की बायोनिक आई (Bionic Eye)।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest