सावधान मोबाइल से सिर में उग रहे सींग ! कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती ?
TRENDING
  • 5:51 PM » Aloe vera gel kaise lagaya jata hai : एलोवेरा जेल लगाने का तरीका।
  • 11:09 PM » Ganesh ji ki kahani : गणेश जी की कहानी (Ganesha story in hindi).
  • 7:19 PM » Toothpaste se pregnancy test kaise kare : टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 9:45 PM » Sabun se pregnancy test kaise kare : साबुन से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 5:49 PM » Chini se pregnancy test kaise kare : चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।

सावधान मोबाइल से सिर में उग रहे सींग… बहुत अधिक मोबाइल यूज करने वालों के लिए बुरी खबर। आज के समय में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो दिन भर मोबाइल का यूज बिलकुल नहीं करता होगा। मोबाइल का आज के दौर में हर कोई इतना अत्यधिक उपयोग करता है कि मोबाइल के बिना कुछ घटें बिताना उसके लिए किसी चुनौती से कम नहीं होता। ये कहना बिलकुल गलत नहीं होगा कि मोबाइल आज के समय में हमारे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन गया है जिसे हम सुबह होने से रात्रि में सोने के समय तक अपने पास ही रखते हैं।

मोबाइल सिर सींग यूज

courtesy google

 

हाल ही में द वाशिंगटन पोस्ट की एक खबर के अनुसार आस्ट्रेलिया के क्‍वींसलैंड शहर की सनशाइन कोस्ट यूनिवर्सिटी में बायो मेकनिज्म पर एक रिसर्च की गयी इसकी जो रिपोर्ट निकल कर सामने आयी वो बेहद ही चौकाने वाली रही। यूनिवर्सिटी की इस रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि जो युवा दिन में अपना अधिकतर समय सिर झुका कर मोबाइल यूज करने में व्यतीत करते हैं उनके सिर में सींग विकसित हो रहे हैं। हालाँकि इस रिसर्च में 18 साल 30 साल के आयु वर्ग के ऐसे लोगो को शामिल किया गया था जो की मोबाइल फोन पर कई घंटे व्यतीत करते थे।

स्माटर्फोने से होने वाले नुकसान

सनशाइन कोस्ट यूनिवर्सिटी ने अपनी इस रिसर्च में इस बात का विस्तार से उल्लेख किया है कि कैसे बहुत देर तक गर्दन झुखा कर रखने पर मानव शरीर का वजन रीड़ कि हड्डी के माध्यम से खोपड़ी के पीछे की मांसपेशियों तक शिफ्ट होता है जिसके परिणाम स्वरूप कनेक्टिंग tendons and ligaments में हड्डी विकसित होने लगती है और इसी के कारण युवाओं के सिर में हुक या सींग जैसी हड्डी उभरने लगती है।

मोबाइल सिर सींग यूज

courtesy google

वाशिंगटन टाइम्स में प्रकाशित एक न्यूज रिपोर्ट में x-ray के उस चित्र को भी प्राकशित किया गया है जिसमें सिर के निचले भाग में कांटेदार हुकनुमा सींग की आकृति वाली हड्डी साफ नजर आ रही है। डॉक्टर्स के अनुसार इंसानी खोपड़ी का वजन तकरीबन साड़े 4 किलोग्राम होता है और यदि कोई व्यक्ति लगातर कई दिनों तक सिर झुका कर मोबाईल का उपयोग करता है तो उसके सिर में अधिक दबाव पड़ने के कारण सींग जैसी हड्डियों का विकास होना शुरू हो जाता है।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी को तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों   के साथ शेयर जरूर करें.

  ऐसी रोचक जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                                    Instagram         
  Facebook
  Twitter
  Pinteres

  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT