जानिये दिल की धड़कन सामान्य करने के आसान घरेलु टिप्स
TRENDING
  • 10:24 PM » गर्मियों के सीजन में करें इन सब्जियों और फलों के जूस को अपनी डाइट में शामिल।
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.

भागदौड़ भरी इस जिंदगी में दिल का ख्याल रखना एक स्वस्थ जीवन शैली के लिए बहुत जरूरी हो जाता है। किन्तु अपनी व्यस्त लाइफ स्टाइल के कारण हम इसे नजरअंदाज करते हुए आगे बढ़ते जाते हैं। जिसके परिणाम कभी कभी बहुत हानिकारक भी साबित होते हैं और हमे दिल से जुडी कई प्रकार की समस्याएं आ घेरती हैं। जिसमे से एक है दिल की धड़कन का सामान्य रूप से ना चलना।
आईये जानते हैं कैसे कुछ आसान घरेलू टिप्स अपना कर हम अपनी दिल की धड़कन सामान्य कर सकते हैं।

दिल की धड़कन सामान्य करने के घरेलू नुस्खे- How to control heart beat rate in hindi

1. गाय का दूध, किशमिश और बादाम
गाय के दूध में किशमिश बादाम मिलाएं। फिर चीनी डालकर पी लें।

2. पिस्ता
पिस्ते की लौज खाने से भी दिल की धड़कन ठीक हो जाती है।

3. प्याज और सेंधा नमक
दो चम्मच प्याज के रस में सेंधा नमक मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें।

4. अंगूर
खाना खाने के बाद चार चम्मच अंगूर का रस पिएं।

5. गुलाब, धनिया और दूध
गुलाब की पंखुड़ियों को सुखाकर पीस लें। फिर इसमें धनिया का चूर्ण संपूर्ण मात्रा में मिलाएं। और रोज एक चम्मच चूर्ण खाकर ऊपर से आधा लीटर दूध पी लें।

6. अनार
अनार की कोमल कलियों की चटनी बना लें और एक चम्मच रोज सुबह खली पेट खाएं। लगभग एक सप्ताह तक यह प्रयोग लगातार करने से दिल की धड़कन सही रास्ते पर आ जाती है।

7. बेल और मक्खन
बेल का गूदा लेकर उसे भून लें। फिर उसमें थोड़ा-सा मक्खन या मलाई मिलाकर धीरे-धीरे लार सहित निगल लें।

8. सेब, पानी और मिश्री
200 ग्राम सेब को छिलके सहित छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर 1/2 लीटर पानी में डाल दें। फिर इस पानी को तब तक उबालते रहें जब तक की पानी सुखकर एक कप ना रह जाए अब इसमें मिश्री मिलाकर इसका सेवन करें। यह दिल को मजबूत बनाने में मदद करता है है।

9. आंवला और मिश्री
आंवले के चूरन में मिश्री मिलाकर रोजाना एक चम्मच भोजन के बाद खाएं| यह दिल की धड़कन को सामान्य करता है। और इससे रक्तचाप में भी लाभ होता है क्योंकि दिल की धड़कन तेज होने पर रक्तचाप भी घट/बड़ जाता है।

10. पपीता
पके हुए पपीते के रस का एक कप की मात्रा में भोजन के बाद रोजाना सेवन करें।

11. गाजर
आधा कप गाजर का रस गर्म करके रोजाना दोपहर के समय पिएं।

12. सेब और चांदी
सेब के मुरब्बे में चांदी का वर्क लगाकर खाएं।

13. कपूर
दिल धड़कने पर जरा-से कपूर को जीभ पर रखकर चाटें।

14. सेब, कालीमिर्च और सेंधा नमक
आधे कप सेब के रस में चार चमच्च कालीमिर्च का चूर्ण और एक चुटकी सेंधा नमक मिलाकर सेवन करने से भी दिल की धड़कन सामान्य होती है।

15. इलायची और शहद
लाल इलायची के दानों का अच्छी तरह से पीसकर चूर्ण बना लें। और इस चूर्ण के 1/4 भाग को शहद में मिलाकर खाएं।

16. पानी और नीबू
एक गिलास पानी में आधा नीबू निचोड़ें और दो चुटकी खाने वाला सोडा डालें। इस पानी को पीने से भी दिल की धड़कन सामान्य हो जाती है।

17. अजवायन, सेंधा नमक और पानी
एक चुटकी सेंधा नमक और आधा चम्मच अजवायन को पीसकर चूर्ण बना लें और इसे गुनगुने पानी के साथ खाएं| यह चूर्ण दिल की धड़कन को सामान्य बना देता है।

18. अदरक, तुलसी और सेंधा नमक
एक चम्मच अदरक के रस में चौथाई चम्मच तुलसी के पत्तों के रस, दो बूंद लहसन के रस और एक चुटकी सेंधा नमक को अच्छी तरह से मिलाकर उंगली से चाटें। चाटते समय इस बात का ध्यान अवश्य दें कि पेट में लार अधिक से अधिक मात्रा में जाए।

19. अनार, कालीमिर्च और सेंधा नमक
अनार के रस में कालीमिर्च के चूर्ण और सेंधा नमक को मिलाकर पीने से भी दिल की धड़कन सामान्य हो जाती है।

20. राई
राई को पीसकर छाती पर लगाने से भी दिल की धड़कन सामान्य हो जाती है।

आर्टरी ब्लॉकेज की समस्या के शुरवाती चरण से छुटकारा दिलाने में कारगर है यह आयुर्वेदिक काढ़ा।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

7275

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT