World No Tobacco Day 2020: कब और क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड नो टोबैको डे?
TRENDING
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।
  • 11:53 PM » 10 lines on diwali in hindi : दिवाली पर 10 लाइन निबंध।

सम्पूर्ण विश्व में 31 मई को विश्व तम्बाकू निषेध दिवस (World No Tobacco Day) के रूप में मनाया जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) वर्ल्ड नो टोबैको डे के लिए हर साल कोई न कोई नई थीम रखता है। जिसके तहत लोगों को तम्बाकू से होने वाले नुकसान एवं अन्य बातों की जानकारी उपलब्ध करवाई जाती है। इस बार WHO द्वारा वर्ल्ड नो तंबाकू डे की थीम आजकल कल की युवा पीढ़ी पर आधारित है। आइए जानते हैं वर्ल्ड नो टोबैको डे से जुडी कुछ बातों के बारे मे….।

 विश्व तम्बाकू निषेध दिवस 2020 –

इस समय सम्पूर्ण विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। कोरोना के कारण सम्पूर्ण विश्व में कई लोगों को अपनी जान से भी हाथ गँवाना पड़ा है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक महामारी से मरने वालों में ऐसे लोगों की संख्या ज्यादा है जिनका इम्युनिटी तंत्र कमजोर है या जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हों। क्या आप जानते हैं तम्बाकू या अन्य किसी मादक पदार्थ का सेवन करना भी आपके इम्यून तंत्र को प्रभावित कर इसे कमजोर बनाने का कार्य करता है। यदि आप तम्बाकू खाते हैं तो आपने भी देखा होगा इसके पैकेट पर बड़े बड़े अक्षरों में तम्बाकू खाने से होने वाली चेतावनी लिखी होती है। तम्बाकू खाने से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी होने की संभावना भी बनी रहती है।

साल 2020 की बात करें तो इस बार WHO ने वर्ल्ड नो टोबैको डे की थीम युवाओं पर आधारित रखी हैं। WHO के मुताबिक विश्व भर में हर साल 8 लाख से अधिक लोगों की मौत का कारण तम्बाकू सेवन बनता है। WHO के मुताबिक 2020 की इस थीम का मकसद “युवाओं को इंडस्ट्री के बहकावे से बचाते हुए, उन्हें तंबाकू और निकोटीन जैसे उत्पादों के प्रयोग करने से रोकना है।” WHO के मुआबिक इस साल वह लोगों को उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने और तम्बाकू उत्पादों का सेवन न करने पर फोकस कर रहा है।
आपको बता दें कि वर्ष 1987 में तम्बाकू के अत्यधिक सेवन से होने वाले रोगों के कारण कई लोगो की मृत्यु हुए थी। इसके बाद 31 मई 1988 को वर्ल्ड नो टोबैको डे प्रस्ताव पारित हुआ था, तबसे हर साल 31 मई को वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाया जाने लगा।

12 मई यानी कि अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस, जानिए इससे जुड़ी कुछ रोचक बातें।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: