जानिए क्या है निपाह वायरस, इसके लक्षण और निपाह वायरस से बचने के तरीके।
TRENDING
  • 5:51 PM » Aloe vera gel kaise lagaya jata hai : एलोवेरा जेल लगाने का तरीका।
  • 11:09 PM » Ganesh ji ki kahani : गणेश जी की कहानी (Ganesha story in hindi).
  • 7:19 PM » Toothpaste se pregnancy test kaise kare : टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 9:45 PM » Sabun se pregnancy test kaise kare : साबुन से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 5:49 PM » Chini se pregnancy test kaise kare : चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।

निपाह वायरस आज कल काफी दिनों से सुर्खियों में चल रहा है पिछले कुछ समय से इस वायरस ने केरल में अपने पैर पसारे हुए हैं। निपाह वायरस के चलते काफी लोगो की मौत हो गयी है और कुछ लोग गंभीर रूप से इस वायरस की चपेट में हैं। विश्व स्वास्य्थ संगठन के अनुसार निपाह वायरस जिसे NIV के नाम से भी जाना जाता है। यह एक ऐसा वायरस है जो जानवरो से इंसान में फैलता है WHO के मुताबिक ये वायरस इंसान और जानवरो दोनो में गंभीर बीमारियों की वजह बन सकता है। इस बीमारी से केरल में अभी तक कई लोगों की मौत हो चुकी है। जानकारों का कहना है कि इस बीमारी पर एंटीबायोटिक दवाईयों का भी कोई असर प्रभावी नहीं हो पा रहा है।

निपाह वायरस

courtesy google

आइये जानते है की निपाह वायरस किन किन वहज से फैलता है-

*निपाह वायरस से ग्रस्त चमगादड़ या पक्षी अगर किसी पेड़ के फल  को चोंच मरता है या उस फल को खा लेता है तो वायरस फल में आ जाता है और वो फल कोई भी हो सकता है.
*कोई भी फ्रूट जो निपाह वायरस ग्रस्त हो जब आप उसे बाजार से घर लाते है और उस फल को खा लेते है तो आप भी निपाह वायरस के शिकार बन जाते हैं.
*संक्रमित चमगादड़ो, संक्रमित सूअर, या संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से निपाह वायरस फैलता है.
*खजूर की की खेती करने वालो में ये बीमारी की आशंका ज्यादा हो सकती है.

सावधान! आपके जेब में जो नोट है बन सकता हैं हजार बीमारयों का कारण

निपाह वायरस

courtesy google

निपाह वायरस के लक्षण –

इससे पीड़ित मनुष्य को इस इन्सेफ़्लेक्टिक सिंड्रोम के रूप में तेज बुखार, सर दर्द, मानसिक भ्रम, कोमा में जाना आदि लक्षण नजर आते हैं और कई बार ये इतने गंभीर होते हैं कि इनके कारण मौत भी हो सकती है।
जानकारों के अनुसार इस वायरस के लिए अभी तक कोई वेक्सीन नहीं बनी है जो मनुष्य इस बीमारी से ग्रसित है उनको डॉक्टर की सख्त निगरानी में रखा जाना चाहिए।

निपाह वायरस

courtesy google

इस बीमारी से कैसे बचा जाए –

*पेड़ से गिरे फल खाने से बचना चाहिए.
*चमगादड़ो की लार या पेशाब के सम्पर्क में नहीं आना चाहिए.
*जिन जगह में निपा वायरस फैला हो उस जगह में भूल के भी न जाए.
*जो इस बीमारी से ग्रस्त है उस मनुष्य के संपर्क में न आए और अगर मिलना ही पड़े तो अपने हाथो को अच्छे से साबुन    से धो लें.
*टॉयलेट में यूज होने वाली चीजों को अच्छे से धो लें.
*इन बातो को ध्यान में रख कर निपा वायरस से बचा जा सकता है.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी को तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों   के साथ शेयर जरूर करें.

  ऐसी रोचक जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                                    Instagram         
  Facebook
  Twitter
  Pinteres

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT