V Wash Uses In Hindi : वी वॉश का उपयोग उपयोग कैसे करें?
TRENDING
  • 11:27 PM » Thyroid me kya nahi khana chahiye : जानिए थायराइड की बीमारी में क्या नहीं खाना चाहिए।
  • 11:06 PM » Sanso ki badboo ka ilaj : सांसों की बदबू दूर करने के घरेलू उपाय।
  • 11:26 PM » Causes of dark lips in hindi : होंठों का रंग काला पड़ने के कारण।
  • 10:20 PM » Benefits of mint for skin in hindi : त्वचा के लिए पुदीना के फायदे।
  • 11:06 PM » तरबूज खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं खाएंगे धोखा।

V wash uses in hindi…क्या आप वी वॉश का उपयोग करती हैं? क्या आप इससे जुडी सभी बातों को जानती हैं? जिस तरह से शरीर को साफ करने के लिए साबुन या बॉडी वाश का प्रयोग किया जाता है उसी प्रकार से वजाइना को साफ़ करने के लिए वी वॉश का प्रयोग किया जाता है। हालाँकि आज के समय में अधिकांश महिलाएं वजाइना को साफ़ करने के लिए इसका उपयोग कर रही हैं लेकिन अभी भी कई महिलाएं ऐसी हैं जो साबुन से जननांग को साफ़ करना उचित समझती हैं। आपको बता दें कि वी वॉश को खास तौर पर वजाइना को साफ़ करने के लिए बनाया गया है। वजाइना शरीर का बहुत सेंसटिव अंग है जो लुब्रिकेशन और सेंसेशन पैदा करता है। इसके pH लेवल को मेंटेन करना बहुत जरूरी होता है। इसके बिगड़ जाने पर खुजली, अचानक से डिस्चार्ज, वाइट डिस्चार्ज, बदबू आना, खुजली और जलन जैसी समस्या का सामना कर पड़ सकता है। इसलिए इसकी सफाई किया जाना बेहद आवश्यक होता है। ऐसे में वी वॉश का उपयोग (V wash uses in hindi) करना सबसे अच्छा और सुरक्षित विकल्प माना जा सकता है।

वी वाश क्या है (v wash kya hai)? What is V wash in hindi.

वी वाश महिलाओं के जननांग को साफ़ करने के लिए बनाया गया एक विशेष हाइजीन प्रोडक्ट है। जिसे ट्री आयल और सी बकथॉर्न ऑइल के संयोजन से तैयार किया जाता है। यह वजाइना के pH लेवल को बैलेंस रख खुजली, जलन और ड्राइनेस की समस्या से बचाता है। जननांग पर इसका प्रयोग पूर्ण रूप से हाइजीन और सुरक्षित है।

वी वॉश का उपयोग
courtesy google

वी वॉश का इस्तेमाल क्यों करे – What is v wash used for in hindi.

जैसा की हमने आपको बताया वी वॉश का इस्तेमाल (V wash uses in hindi) वजाइना की साफ़-सफाई और pH लेवल को मेंटेन रखने के लिए किया जाना चाहिए। एक स्वस्थ्य महिला के वजाइना का pH लेवल 3.5-4.5 के बीच होना चाहिए। महिलाओं के जननांग में एक नेचुरल सुरक्षात्मक लेयर होती है जो नैचुरली एसिडिक होती है। इसका मुख्य काम संक्रमण रोकने का होता है और यह सुरक्षात्मक लेयर महिलाओं की योनि पर हमेशा बनी रहती है। लेकिन नहाने के दौरान इस्तेमाल होने वाले पानी और साबुन के कारण यह लेयर टूट जाती है। इसका मुख्य कारण है इनका pH लेवल अधिक होना। ऐसे में वी वॉश का उपयोग pH लेवल को मेंटेन करने का काम करता है। यह लैक्टोबैसिली के विकास को बढ़ावा देता है और हानिकारक बैक्टीरिया की उपस्थिति और संक्रमण को रोकता है।

जानिए नीरी सिरप का इस्तेमाल, इसके फायदे और साइड इफेक्ट के बारे में।

वी वॉश का उपयोग कैसे करें – How to use v wash in hindi.

वी वॉश को इस्तेमाल (V wash uses in hindi) करना बहुत आसान है। इसके लिए थोड़ा सा वी वॉश अपनी हथेली पर निकालें। फिर इसे वजाइना के बाहरी क्षेत्र में हल्के हाथों का प्रयोग कर अच्छी तरह लगाएं और कुछ देर तक मसाज करें। इसके बाद पानी से योनि को धो लिजिए। इसके बाद वी वॉश वाइप्स (v wash wipes in hindi) की मदद से योनि को पोछ लीजिए। इसका इस्तेमाल करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें कि यह जननांग के अंदर न जाए।

घर पर वी वॉश कैसे बनाएं– How to make V wash at home in Hindi.

  • एक कप पानी में कैमोमाइल तेल की कुछ बुँदे वजाइना को साफ कर लें।
  • एक कप पानी में टी-ट्री ऑयल तेल की कुछ बुँदे वजाइना को साफ कर लें।
  • थोड़े से योगर्ट को वजाइना में लगाएं और 30 मिनट बाद धो लें।
  • वजाइना को साफ़ करने के लिए आप ताजे एलोवेरा जेल का प्रयोग भी कर सकते हैं।
  • योनि को साफ़ करने के लिए बेकिंग सोडे का प्रयोग करें।

शरबत बजूरी मोतदिल के फायदे : Sharbat Bazoori Motadil Ke Fayde.

वी वाश के इंग्रीडिएंट क्या है ?
लैक्टिक एसिड 1.2 प्रतिशत डब्ल्यू / वी

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT