कार, बाइक और घरों में तिब्बती झंडे (Tibetan Prayer Flags) क्यों बाँधे जाते हैं?
TRENDING
  • 11:37 PM » कुतुब मीनार पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on qutub minar in hindi.
  • 7:49 PM » मानसून के मौसम में कार की रख रखाव के टिप्स – Monsoon car accessories in hindi.
  • 9:51 PM » वजन कम करने वाले फल – Best fruits for weight loss in hindi.
  • 10:31 PM » चंद्रशेखर आजाद पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on chandrashekhar azad in hindi.
  • 9:30 PM » त्वचा के लिए नीम के फायदे – Neem benefits for skin in hindi.

यदि आप यात्रा करने के शौकीन हैं  तो लेह लद्दाख घूमने के लिए एक शानदार जगह है। हर किसी का सपना होता है कि अपनी लाइफ में एक बार लेह लद्दाख जरूर घूमने जाये और यदि आप बाइकर हैं तो फिर आपका लेह लद्दाख का एक टूर तो बनता है। बौद्ध मठों, लेह लद्दाख, तिब्बत और नेपाल यदि आप कभी गए हों तो आपने इस बात पर गौर किया होगा कि रास्ते में कई जगह लोगों ने अपने घरों के ऊपर, अपनी बाइक पर, अपनी कार के पीछे और रास्ते में पड़ने वाले पुलों या अन्य किसी जगह पर पर रंग, बिरंगे तिब्बती झंडे (Tibetan Prayer Flags) बाँधे होंगे। यात्रा के दौरान रास्ते में जगह जगह दिखने वाले यह रंग, बिरंगे तिब्बती झंडे(Tibetan Prayer Flags) पोजेटिव वाइब्रेशन का अनुभव करवाते हैं। ये दिखने में बेहद सुंदर लगते हैं और आपने देखा होगा आजकल देश भर में कई लोग इन झंडों को अपनी कार या बाइक पर लगा रहे हैं।
यदि आपने भी अपनी कार, बाइक या घर पर रंग, बिरंगे तिब्बती झंडे (Tibetan Prayer Flags) लगाएं हैं तो आपको इन झड़ों के बारे में कुछ आवश्यक जानकरी भी होनी चाहिए। कई बार ऐसा होता है हम दूसरे को देख अपनी कार, बाइक या घर पर इन झंडो को लगा तो लेते हैं लेकिन जब कोई पूछता है कि आपने ये झंडे क्यों लगाए हैं? इनकी क्या विशेषताएँ होती है? तो बिना जानकारी के अभाव में आप सामने वाले व्यक्ति की बात को टालने लगते हैं। आईये जानते हैं रंग, बिरंगे तिब्बती झंडों (Tibetan Prayer Flags) से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में।

तिब्बती झंडे Prayer Flags

courtesy google

तिब्बती झंडों (Tibetan Prayer Flags) से जुड़े कुछ रोचक तथ्य –

झड़े का हर रंग कुछ कहता है –

तिब्बतन प्रेयर फ्लैग्स का हर रंग सिर्फ झंडे के रंग को प्रदर्शित करने के लिए नहीं हैं। तिब्बती झड़े (Tibetan Prayer Flags) में प्रयोग हुए हर रंग का अपना महत्व है और यह रंग झंडे में हमेशा एक विशिष्ट क्रम में व्यवस्थित होते हैं, बाएं से दाएं: नीले, सफेद, लाल, हरे, पीले। जिसमें नीला आकाश का प्रतिनिधित्व करता है, सफेद हवा का प्रतिनिधित्व करता है, लाल आग का प्रतीक है, हरा पानी का प्रतीक है, और पीला पृथ्वी का प्रतीक है। झंडे के ये सभी पांच रंग उत्तर, दक्षिण, पूर्व, पश्चिम और केंद्र दिशा का प्रतिनिधित्व भी करते हैं.

झड़े पर लिखे मंत्र का मतलब –

आपने भी देखा होगा कि तिब्बती रंग बिरंगे झड़े पर एक मंत्र ‘ओ३म मणि पद्मे हुम्’ लिखा होता है। यहाँ ओम- पवित्र शब्दांश, मणि- गहना, पदमे – कमल और हम – आत्मज्ञान की आत्मा को प्रदर्शित करता है। यह मंत्र मूलरूप से दया, नैतिकता, धैर्य, परिश्रम, त्याग और ज्ञान जैसे मूल्यों का एक संयोजन है। ऐसा कहा जाता है कि यदि आप ध्यान के दौरान मंत्र का पाठ करते हैं, तो यह आपके अंदर के घमंड, ईर्ष्या, अज्ञानता, लालच और आक्रामकता को ठीक कर सकता है।

ऊंचाई वाली जगह पर लगाए तिब्बती रंग बिरंगे झंडे –

इन्हें हमेशा छत या ऊंची जगहों पर लगाने का कारण यह है कि यहाँ से वे हवा में लहराते रहते हैं। यह कहा जाता है कि वे सकारात्मक आध्यात्मिक स्पंदनों का उत्सर्जन करते हैं और प्रार्थनाओं को हवा द्वारा ईश्वर तक पहुंचाते हैं।

कार से लॉन्ग ड्राइव पर जा रहें हैं तो इन जरुरी बातों का रखें ध्यान, वरना पड़ सकते हैं मुसीबत में।

उपहार में तिब्बत प्रेयर फ्लैग्स का मिलना माना जाता है शुभ –

यदि आपको कोई Tibetan Prayer Flags उपहार में देता है तो इसकी अहमियत आपके द्वारा खुद से खरीदे गए तिब्बतन प्रेयर फ्लैग्स से कई गुना अधिक बढ़ जाती है। कोशिश करें कि अपने किसी जानने वाले से इसे आपको उपहार के तौर पर देने को कहें।

झंडे दो प्रकार के होते ये झंडे –

यह झंडे दो प्रकार के क्षैतिज और ऊर्ध्वाधर होते हैं। क्षैतिज को लुंग डार कहा जाता है और ऊर्ध्वाधर वाले को डार चो कहा जाता है।

झंडे भूलकर भी जमीन पर न रखें –

तिब्बती झंडे (Tibetan Prayer Flags) का जमीन को छू जाना अपमान जनक माना जाता है। इसलिए, उन्हें हमेशा ऊंचाई वाली जगह पर लगाना चाहिए। चौखट के चारों ओर झंडे लगाने के लिए सही जगह मानी जाती है।

कोरोना वायरस संक्रमण: कार के इन हिस्सों को सेनेटाइज करना है अत्यंत जरूरी।

झंडों का कलर फेड होना शुभ माना जाता है –

यदि इन झड़ों का कलर फीका पड़ने लगे तो यह एक शुभ संकेत मना जाता है। इसका मतलब है आपके द्वारा सच्चे मन से की गयी प्रार्थना स्वीकार हो गयी है।

तिब्बती प्रेयर फ्लैग्स लगाने का सही समय –

झंडा लगाने का शुभ मुहूर्त चीनी नव वर्ष माना जाता है।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT