डेली रूटीन से जुडी ये चीजें आपके घर में बना रही कोरोना को साइलेंट किलर।
TRENDING
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।
  • 11:53 PM » 10 lines on diwali in hindi : दिवाली पर 10 लाइन निबंध।

कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ते जा रहा है ऐसे में आपको अब पहले के मुकाबले कई गुना अधिक सावधनियों को बरतना होगा और वायरस से बचाव के अधिक से अधिक उपायों को अपनाना होगा। कोरोना संक्रमण के इस दौर में खतरा सिर्फ घर के बाहर ही नहीं बल्कि आपके घर के अंदर भी मौजूद हो सकता है। आज हम बात करेंगे डेली रूटीन से जुडी 4 ऐसी चीजों के बारे में जिनसे घर के अंदर ही आपको कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा हो सकता है। आईये जानते हैं डेली रूटीन से जुड़ी वह कौन सी वस्तुएँ हैं वो घर में वायरस फैलाने का कार्य करने में सक्षम हैं।

कोरोना वायरस बन रहा है साइलेंट किलर

हाल ही में हुई एक रिसर्च की रिपोट के मुताबिक 45 से 60 % लोगों में कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बावजूद इसके लक्षण या तो बहुत देर से दिखाई देते हैं, या फिर इन लोगों में कभी कोई लक्षण दिखाई ही नहीं देते । ऐसे में यह वायरस किसी साइलेंट किलर की तरह लोगों की जान ले रहा है। यही कारण है कि अब हमे वायरस से दूरी बनाए रखने के लिए और अधिक सुरक्षा को अपनाना होगा क्योंकि जिन लोगों में लक्षण दिखाई नहीं दे रहे वह दूसरे लोगों वह जाने-अनजाने में दूसरों को भी संक्रमित कर सकते हैं। इसलिए कोरोना वायरस से बचने के लिए आपको डेली रूटीन में और भी अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता है।

डेली रूटीन कोरोना
courtesy google

साफ सफाई का रखें ध्यान –

यदि आप सोच रहें हैं कि अब देशभर में अनलॉक की प्रकिया चालू है, तो अब आपको वायरस से डरने की जरूरत नहीं। देखा जाए तो वायरस का असली खरता अब शुरू होने लगा है। देश में अब प्रतिदिन 25 से 26 हजार नए केस रोजाना आने लगे हैं और हालत ऐसे ही चलते रहे तो आने वाले समय में इनके और ज्यादा बढ़ने कि संभावना है। मौजूदा हालत को ध्यान में रखने हुए आपको भी वायरस से बचाव के लिए और अधिक सुरक्षा को अपनाना होगा। बार बार हाथों को धोते रहें, घर के घर फर्श, दरवाजे के हैंडल को समय समय पर डिसइंफेक्ट करते रहें। इसके अलावा बेवजह घर से बाहर मार्केट या किसी अन्य जगह पर जाने से बचें।

घर में भी छुपा हो सकता है कोरोना –

भले ही आप घर से बाहर नहीं जा रहें हों लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि कोरोना आप के घर में नहीं पहुंचेगा। लॉकडाउन खुलने के बाद से आपके घर में मेहमानों का आना-जाना शुरू हो गया। ऐसे में खतरा और भी अधिक बढ़ जाता है। इसके अलावा लॉकडाउन खुलने के साथ ही आपका भी बहार आना-जाना अधिक शुरू हो गया है। ऐसे में कब आपके घर में वायरस आ गया, आपको इस बात की भनक तक भी नहीं लगेगी। इसलिए घर की बेडशीट, तकिए, नल, डॉर्कबॉब्स, सिंक, पायदान, कालीन, मैट,दरवाजे के हैंडल और टैबलेट को समय समय पर साफ किया जाना जरुरी है।

बाहर से आने के बाद बरतें ये सावधानियां –

जैसा की हमने आपको बताया, अनलॉक के साथ ही अब लोगों का बाहर आना-जाना अधिक होने के कारण वायरस फैलने का खतरा भी अधिक बढ़ गया है। घर से बाहर जब भी जाएँ मास्क का प्रयोग करें और अपने साथ पॉकेट सेनिटाइजर की शीशी साथ ले कर जाएँ। बाहर से आने के बाद जूते, चप्पलों को घर से बाहर ही उतारें, घर आने के बाद किसी भी चीज को छुए बिना अपने हाथों को धोएं। संभव हो तो नहा लीजिए और अपने कपड़ों को धोने डाल दें। मास्क वॉशेबल है तो उसे भी जरूर धोएं।

करें ग्लव्स का प्रयोग –

कोरोना से बचने के लिए आप घर में या घर से बाहर जाने के दौरान ग्लव्स का प्रयोग कर सकते हैं। ये भी आपको एक हद तक सुरक्षा प्रदान करते हैं। घर में साफ-सफाई का काम करते समय इनका प्रयोग करें। किचन और बाथरूम की सफाई के दौरान भी ग्लव्स का प्रयोग करें। ग्लव्स के प्रयोग के बाद इनको धोकर डिसइंफेक्ट करें। यदि ग्लव्स डिस्पोजेबल हैं तो इस्तेमाल करने के बाद फेंक दें।

कोरोना वायरस की अधिक जानकारी के लिए पढ़े –