लॉकडाउन के दौरान चली स्पेशल ट्रेन, 1200 प्रवासी मजदूरों को लेकर रवाना हुई ट्रेन।
TRENDING
  • 10:24 PM » गर्मियों के सीजन में करें इन सब्जियों और फलों के जूस को अपनी डाइट में शामिल।
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.

कोरोना वायरस के कारण देशव्यापी लॉकडाउन 3 मई तक जारी रहेगा। लॉकडाउन के दौरान फ़िलहाल आवश्यक सामानों के लिए ही एक राज्य से दूसरे राज्य तक यात्रा की अनुमति दी गयी है। ऐसे में भारतीय रेलवे की तरफ से आज एक अच्छी खबर सामने आयी है। बता दें कि लॉकडाउन के 40 दिन पूरे हो जाने के बाद आज पहली बार भारतीय रेलवे द्वारा स्पेशल ट्रेन चलायी गई। गौरतलब है कि यह ट्रेन केवल प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए 1अप्रेल को झारखंड से रवाना की गयी। लॉकडाउन के दौरान चलाई गयी इस स्पेशल ट्रेन के द्वारा तेलंगाना में फसे 1200 प्रवासी मजदूरों को झारखंड पहुंचाया जा रहा है। ट्रेन से यात्रा करने वाले मजदूरों ने इसे श्रमिक दिवस का तोफहा बताया। लेकिन भारतीय रेलवे ने ऐसी और ट्रेनें आगे चलेंगी या नहीं इस बारे में अभी किसी भी प्रकार की जानकारी उपलब्ध नही करवाई।


बता दें कि तेलंगाना से चलने वाली यह ट्रेन शुक्रवार की सुबह 4:50 बजे तेलंगाना के लिंगरपल्ली से खुली है, जो झारखंड के हटिया जा रही है। लॉकडाउन के 40 दिन बीत जाने के बाद भारतीय रेलवे ने इस स्पेशल ट्रैन को चलाने का निर्णय लिया। इस ट्रेन के माध्यम से प्रवासी मजदूरों को एक राज्य से दूसरे राज्य पहुंचाया जा रहा है। लॉकडाउन में चल रही इस स्पेशल ट्रेन में 24 बोगियां मौजूद हैं जिनमे 1200 प्रवासी मजदूर यात्रा कर रहे हैं। यह ट्रेन तेलंगाना से झारखंड के हटिया के लिए रवाना की गई है। इसके आज देर रात तक हटिया पहुंच जाने की संभावनाएं जताई जा रही हैं। ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि भारतीय रेलवे आगे आने वाले समय में इस तरह की कुछ और स्पेशल ट्रेने चलाने को मंजूरी दे सकता है। फ़िलहाल आगे ऐसी और ट्रेनें चलाई जाएँगी या नहीं इस बारे में अभी रेलवे द्वारा किसी भी प्रकार की जानकारी उपलब्ध नही करवाई गयी है।

जानकारी के मुताबिक पिछले कई दिनों से कई राज्यों द्वारा केंद्र सरकार पर अन्य राज्यों में फसे प्रवासी मजदूरों और छात्रों को वापस लाने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। जिसके चलते 40 दिन बाद पहली बार स्पेशल ट्रेन चलाई गयी। इसकी एक बोगी में 72 की जगह सिर्फ 54 लोगों को ही बैठाया गया। बता दें कई राज्यों के मुख्मंत्रीयों ने प्रधानमंत्री को खत लिखकर अवगत कराया कि उनके राज्य में फंसे हुए मजदूर की तादात काफी बड़ी संख्या में है। ऐसे में यह सम्भव नहीं कि उन्हें बसों के जरिए दूसरे राज्यों तक पहुंचाया जाये। उन्होंने इसके लिए ट्रेनों के संचालन करने की मांग की थी।

कोरोना वायरस की अधिक जानकारी के लिए पढ़े –

लॉकडाउन गाइडलाइन 2.0: 20 अप्रैल के बाद ऑफिस जाने वाले लोग इन बातों पर ध्यान दें।

वायरल वीडियो: थाईलैंड के चिड़ियाघर में चिंपैंजी से करवाया सैनिटाइजेशन, नाराज हुआ पेटा।

WHO से नाराज अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने रोकी WHO को दी जाने वाली फंडिंग।

लॉकडाउन में पिज्जा खाना पड़ा भारी, पिज्जा डिलीवरी बॉय निकला कोरोना पॉजिटिव।

लॉकडाउन 2.0 गाइडलाइन: जानिए किस में मिलेगी छूट और किस में जारी रहेगी सख्ती।

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन: राष्ट्रपति ट्रंप के बाद ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो और इस्राइल के प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने की प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ।

HCQ पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ, कहा संग जीतेंगे जंग।

कोरोना वायरस ट्रैकिंग ऐप आरोग्य सेतु कैसे काम करता है, कहाँ से करें डाऊनलोड।

जानिए MoHFW की गाइडलाइन के अनुसार होममेड फेस मास्क को रियूज करने के तरीके।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                           Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT