Side Effects Of Wearing High Heels In Hindi : हाई हील्स पहनने से करना पड़ सकता इन 6 समस्याओं का सामना।
TRENDING
  • 5:40 PM » पिम्पल्स हटाने की बेस्ट क्रीम : Pimple ke liye best cream in hindi 2022.
  • 10:24 PM » गर्मियों के सीजन में करें इन सब्जियों और फलों के जूस को अपनी डाइट में शामिल।
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.

side effects of wearing high heels in hindi…महिलाओं में हाई हील्स पहनने को लेकर खासा उत्साह रहता है। अक्सर शादी, पार्टी आफिस मीटिंग और फंक्शन में महिलाएं हाई हील्स पहनना पसंद करती हैं। अधिकतर महिलाएं हाई हील्स फैशन के लिए पहनती हैं, इससे उनकी पर्सनाल्टी में भी निखार आता है। वहीं कुछ महिलाएं हाई हील्स अपनी कम हाइट होने की वजह से भी पहनती हैं। कुछ महिलाओं को तो हाई हील्स पहनना इतना अधिक पसंद होता है कि उनके पास अलग अलग प्रकार की हाई हील्स सेंडल्स का पूरा कलेक्शन होता है। वहीं कुछ महिलाएं ऐसी भी होती जिनको हाई हील्स पहनना असुविधाजनक लगता है।

हाई हील्स को लेकर सब महिलाओं की अपनी अलग अलग राय है, किसी को पहनना बहुत अधिक पसंद होता है तो किसी को बहुत कम। जो लोग बहुत देर तक हाई हील्स पहनते हैं या फिर जिनको हाई हील्स पहनना बेहद पसंद होता है उनको अक्सर पैरों और एड़ियों में तो दर्द की शिकायत बनी रहती है। आज के इस आर्टिकल में हम चर्चा करेंगे बहुत ज्यादा (side effects of wearing high heels in hindi) हाई हील्स सेंडल्स पहनने से होने वाले नुकसान के बारे में।

High Heels in Hindi

courtesy google

हाई हील्स पहनने से होने वाले नुकसान – Side Effects Of Wearing High Heels in Hindi

घुटनों पर असर –

अगर आपको ऊंची हील्स पहनने की आदत पड़ गयी है, तो ये आपके घुटनों के लिए बेहद नुकसानदायक हो सकता है। अधिक समय तक हाई हील्स शूज पहनने से घुटनों में अतिरिक्त दबाव पड़ने लगता है। जिस कारण घुटनों में दर्द की शिकायत बनी रहती है। हालत बिगड़ने पर ऑस्टियोआर्थराइटिस होने की सम्भावना भी रहती है।

पैरो पर दर्द –

(side effects of wearing high heels in hindi) ऊंची हील्स वाले शूज और सेंडल्स का डिजाइन कुछ इस प्रकार होता है कि इनको अगर कुछ घंटों तक पहन कर आप कोई काम करने या चलने लगती हैं तो पैरों में दर्द होने लगता है। इनको पहन कर चलने या खड़े रहने से पैर के तलवों में दबाव बनने लगता है। यही कारण है कि अगर आप रोजाना ऑफिस या अन्य कहीं ऊंची हील्स पहन कर जाते हैं तो अक्सर आपको अपने पैरो में दर्द महसूस होने लगता है।

लिगामेंट में कमजोरी –

(side effects of wearing high heels in hindi) ऊंची हील्स वाली सेंडल्स पहनने से लिगामेंट कमजोर होने का खतरा बना रहता है। लिगामेंट कमजोर होने के कारण हड्डियों से जुडी समस्या जैसे जोड़ों एवं हड्डियों में दर्द का होना आदि का सामना करना पड़ सकता है। ऊंची एड़ी के जूते और सेंडल आर्क (arch) पर दबाव बनाते हैं, जिसके चलते लिगामेंट समय से पहले कमजोर होने लगता है।

क्या आपको भी हैं इनमें से कोई लक्षण तो आपके शरीर में हो रही है कैल्शियम की कमी।

मोच आने का डर –

स्टाइलिश हील्स वाली जूती और सेंडल पहनना कभी कभी बहुत भारी पड़ जाता है। बहुत ऊँची हील्स पहन कर चलना बेहद ही मुश्किल टास्क होता है। कई बार इनको पहनकर चलने से संतुलन बिगड़ जाता है और गिरने के कारण पैर में मोच आ जाती है। कई बार तो हालत इतने बुरे होते हैं कि आप इस तरह की सेंडिल पहन कर सीढ़ियों पर चल रहे होते हैं और अचानक बैलेंस बिगड़ कर गिरने से हड्डी टूटना या अन्य किसी गंभीर चोट के शिकार हो जाते हैं।

लोअर बैक पेन –

अधिकतर या बहुत अधिक समय तक हाई हील्स पहनने वाली महिलों को अक्सर लोअर बैक पेन की शिकायत बनी रहती है। इसके पीछे का कारण है इनका यूनिक ऊँची एड़ी वाला डिजाइन जो आपको स्टाइलिश दिखाने में तो मदद करता है, लेकिन जब बात की जाए पैरों के आराम की तो उसके अनुरूप ये डिजाइन बिलकुल प्रतिकूल नहीं होता।

ब्‍लड वेसल्‍स में कसाव –

(side effects of wearing high heels in hindi) ऊँची एड़ी वाली सेंडल्स पहनने से पैरों में खिचाव आने लगता है और ये पतले और लम्बे दिखने लगते हैं। हाई हील वाला डिजाइन पैरों की हड्डियों और उंगलियों के बीच में कसाव पैदा करता है, जिस कारण ब्लड वेसल्स में तनाव आने लगता है। यही कारण है कि इनको लगातार पहनने से ब्‍लड वेसल्‍स में कसाव आने लगता है और पैरो के निचले भाग में रक्त प्रवाह सही से नहीं हो पाता।

जानिये स्लीप डिस्क की बीमारी इसके कारण और बचाव के तरीके।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :-

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT