Shatavari Ke 8 Fayde : जानिए शतावरी के फायदे और नुकसान।
TRENDING
  • 11:33 PM » गर्भ में पल रहा बेबी लड़का है या लड़की (Garbh me ladka hone ke lakshan) – Baby boy symptoms in hindi.
  • 11:29 PM » बासी रोटी खाने के फायदे (Basi roti khane ke fayde) – Basi roti benefits in hindi.
  • 11:27 PM » जिद्दी खांसी दूर करने के घरेलू नुस्खे (Ziddi khansi ka ilaj) – Home remedies for cough in hindi.
  • 10:36 PM » निमोनिया में क्या खाना चाहिए (Nimoniya me kya khana chahiye) – What to eat in pneumonia in hindi.
  • 7:13 PM » बालों को लम्बा करने के तरीके (Balo ko lamba karne ka tarika) – Hair Growth Tips in Hindi.

Shatavari ke fayde in hindi…आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां मौजूद हैं जिनका उपयोग वर्षों से कई रोगों के उपचार में चला आ रहा है, इन्हीं में से एक है शतावरी। प्रकृति की गोद में पायी जाने वाली यह जड़ी बूटी हिमालयी रीजन में मिलती है। इसका बॉटनिकल नेम एस्पेरेगस रेसिमोसस (Asparagus racemosus) है। इसे शतावर के नाम से भी जाना जाता है। आयुर्वेद में इसे एक शक्तिवर्धक जड़ी-बूटी के रूप में भी जाना जाता है। (Benefits of Asparagus in Hindi) शतावरी के फायदे की बात करें तो महिला हो या पुरुष दोनों के लिए इसका सेवन करना फायदेमंद रहता है। इसके औषधीय गुण महिलाओं और पुरुष दोनों की प्रजनन प्रणाली में सुधार लाने का कार्य करते हैं। यह मुख्यतः हरी, बैगनी और सफेद तीन प्रकार की होती है। यह एक ठंडी तासीर देने वाली जड़ी बूटी है। आईये जानते हैं औषधीय गुणों से भरपूर (shatavari benefits in hindi) शतावरी के फायदे और नुकसान से जुडी जानकारियां।

शतावरी के फायदे
courtesy google

शतावरी के फायदे (Shatavari ke fayde in hindi) – Benefits of Asparagus in Hindi

Shatavari ke fayde : वेट लॉस के लिए –

बढ़ते वजन की समस्या से छुटकारा पाने चाहते हैं तो शतावरी का सेवन करना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसकी गिनती हाई-फाइबर युत्क खाद्य पदार्थों में होती है और ऐसे खाद्य पदार्थों को पचने में अधिक समय लगता है। जिससे हमें बार-भूख नहीं लगती। इसके साथ ही यह एक लो कैलोरी वाला खाद्य पदार्थ है। इसलिए इसे डाइट में शामिल करने से वजन बढ़ने का खतरा नहीं होता। इन सबके अलावा इसमें 94% पानी मौजूद होता है जो वजन कम करने में सहयोग देता है।

Shatavari ke fayde : कैंसर के खतरे को करे कम –

शतावरी का सेवन कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के खतरे को कम करने के लिए भी जाना जाता है। इसमें सल्फोराफेन यौगिक और ग्लूटाथिओन जैसा शक्तिशाली एंटीआक्सीडेंट मौजूद होता है। इस पर हुई स्टडी बताती हैं कि सल्फोराफेन नामक यौगिक एंटी-कैंसर गुणों से भरपूर होता है। वहीं ग्लूटाथिओन प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देने और शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर करने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद फोलेट नामक तत्व भी कैंसर के प्रति सुरक्षा प्रदान करने का काम करता है।

एलोवेरा जूस पीने के फायदे (Aloe vera juice ke fayde) – Benefits of Aloe Vera Juice in Hindi.

Shatavari ke fayde in hindi : गर्भवती महिलाओं के लिए –

(Benefits of Asparagus in Hindi) शतावरी के स्वास्थ्य लाभ की बात करें तो गर्भवती महिलाओं के लिए यह बेहद फायदेमंद साबित होती है। इसमें फोलेट की पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है। फोलेट का मुख्य काम गर्भ में मौजूद भ्रूण को जरूरी मात्रा में पोषण प्रदान करना होता है। इसके अलावा यह गर्भवती महिलाओं को भी जरूरी मात्रा में पोषण देने का काम करता है। यह गर्भ में पल रहे भ्रूण को हड्डी और दिमाग की समस्या से बचाता है। साथ ही इसका सेवन गर्भपात के खतरे को कम करने का कार्य भी करता है। हालाँकि इसका सेवन बेहद संतुलित मात्रा में डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद ही करना चाहिए।

हड्डियों के लिए –

(Benefits of Asparagus in Hindi) शतावरी के फायदे हड्डियों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी जाने जाते हैं। इसमें हड्डियों के विकास के लिए सबसे जरूरी माने जाने वाले तत्व कैल्शियम की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। कैल्शियम की कमी होने पर हड्डियां कमजोर होने लगती हैं और हड्डियों से जुड़े कई सारे रोग होने की संभावना बनी रहती है। कैल्शियम के साथ-साथ इसमें मौजूद विटामिन-के भी हड्डियों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जाना जाता है। इसका सेवन बॉन डेंसिटी को बढ़ाने का काम करता है और हड्डियों से जुड़े रोग ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को कम करता है। यह एक प्रीबायोटिक है जो कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाने का काम करता है।

बकरी के दूध के फायदे (Bakri ke dudh ke fayde) – Benefits of Goat Milk in Hindi.

Shatavari ke fayde : डायबिटीज में –

(Benefits of Asparagus in Hindi) शतावरी के फायदे डायबिटीज की समस्या में भी लिए जा सकते हैं। इसके एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण इन्सुलिन के स्तर में सुधार लाने का कार्य करते हैं। इसके एंटी हाइपर ग्लाइसेमिक गुण रक्त में गलूकोज के स्तर को कम करने का कार्य करते हैं। आयुर्वेद में इसे डायबिटीज की समस्या को दूर करने वाली कारगर औषधि माना गया है। हालाँकि इसका सेवन कैसे और कितनी मात्रा में करना है इसके लिए आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

यौन समस्याओं में – Shatavari for fertility in hindi

शतावरी के फायदे की बात करें तो पुरुष हो चाहें महिला दोनों के लिए इसका सेवन फायदेमंद होता है। यह हार्मोनल संतुलन को सही बनाये रखने में मदद करता है। यह महिलाओं के रिप्रोडक्टिव ऑर्गन से जुडी समस्याओं का निदान करने का काम करता है। महिलाओं में मासिक धर्म से जुडी समस्याओं को दूर करने के लिए इसका प्रयोग किया जा सकता है। वहीं पुरषों के लिए इसके फायदे की बात करें तो यह कामेच्छा और स्पर्म काउंट बढ़ाने का कार्य करता है। इसका सेवन कर प्रजनन क्षमता में सुधार लाया जा सकता है।

करेले के फायदे (Karela khane ke fayde) – Bitter gourd benefits in hindi.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये –

शतावरी का सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए भी किया जा सकता है। इसमें मौजूद मिनरल्स और विटामिन इम्युनिटी को मजबूत करने का कार्य करते हैं। इसमें मौजूद शक्तिशाली एंटीआक्सीडेंट प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने का कार्य करते हैं। इसमें मौजूद प्रीबायोटिक इम्युनिटी स्ट्रांग करने में अहम भूमिका निभाते हैं। यह विटामिन सी से भरपूर होता है जो कि प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सहयोग देता है। सर्दी-जुकाम जैसी समस्याओं को दूर करने में भी इसके फायदे लिए जा सकते हैं।

बालों के लिए – Shatavari benefits for hair in hindi

शतावरी एंटी इन्फ्लामेट्री गुणों से भरपूर होती है और सिर को शांत करने का कार्य करती है। इसका प्रयोग करने से त्वचा में जलन और सूजन की समस्या नहीं होती है और यह बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद करता है। शतावरी एक एडाप्टोजेनिक जड़ी बूटी है। जो आपके शरीर को शारीरिक और भावनात्मक तनाव से निपटने में मदद करता है। मौजूदा समय में बालों के झड़ने का एक प्रमुख कारण तनाव है।

सेंधा नमक खाने के फायदे (Sendha namak ke fayde) – Benefits of rock salt in hindi.

शतावरी के नुकसान – Side Effects of Shatavari in Hindi

  • इसमें कार्बोहाइड्रेट की उच्च मात्रा मौजूद होती है जो गैस और वजन बढ़ने का कारण बन सकती है।
  • यदि इसे खाने से किसी प्रकार की एलर्जी महसूस हो तो इसका सेवन न करें।
  • अधिक मात्रा में इसका सेवन सीने में जलन और साँस लेने में तकलीफ की समस्या पैदा कर सकता है।

मटर खाने के फायदे (Matar ke fayde) – Benefits of Green Peas in Hindi.

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
%d bloggers like this: