क्या आपको भी पता हैं हैरान कर देने वाले सौंफ के फायदे ?
TRENDING
  • 11:27 PM » जिद्दी खांसी दूर करने के घरेलू नुस्खे (Ziddi khansi ka ilaj) – Home remedies for cough in hindi.
  • 10:36 PM » निमोनिया में क्या खाना चाहिए (Nimoniya me kya khana chahiye) – What to eat in pneumonia in hindi.
  • 7:13 PM » बालों को लम्बा करने के तरीके (Balo ko lamba karne ka tarika) – Hair Growth Tips in Hindi.
  • 2:18 PM » जानिये क्या है म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस जिसने कोरोना के बाद बड़ाई मुसीबतें।
  • 7:57 PM » चेहरे पर बर्फ लगाने के फायदे (Chehre par barf lagane ke fayde) – Ice therapy for face in hindi.

Saunf ke fayde…बात अगर खाने के बाद मुखवास की हो तो सबसे पहले दिमाग में जो नाम आता है वो है सौंफ और ऐसा होना भी स्वाभाविक है, क्योंकि भारतीय परम्परा में सौंफ को एक बेहतरीन मुखवास माना जाता है। फिर चाहे वो घर हो या होटल, खाना खाने के बाद मिश्री के साथ सौंफ खाने का मजा ही अलग है। (fennel seed in hindi) सौफ न सिर्फ मुँह का स्वाद बढ़ाने अपितु कई अन्य गुणों से भरा होता है। सौंफ के फायदे की बात करें तो इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीज, पोटैशियम, मैग्नीशियम और ज़िंक जैसे ज़रूरी मिनिरल्स प्रचुर मात्रा में होते हैं। साथ ही यह खाना पचाने और मुँह की दुर्गंध दूर करने में भी अहम् रोल निभाता हैी आईये जानते हैं (Saunf ke fayde) सौंफ के फायदे और इससे मिलने वाले सभी स्वास्थ्य लाभ।

सौंफ के फायदे

courtesy google

सौंफ के फायदे (Saunf ke fayde) – Benefit of fennel seed in hindi

1. मुहँ को रखे तरोताजा –

(fennel seed in hindi) सौंफ एक नेचुरल माउथ फ्रेशनर माना जाता है। सौंफ चबाने इससे निकलने वाला सुगंधित तेल, हमारी सांसों की बदबू को कम करता है। साथ ही सौंप में पाए जाने वाले एंटी-इंफ़्लैमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण हमारे मसूढ़ों को बिमारियों से बचाते हैं। इसलिए हमेशा खाना कहने के बाद सौंप खाने की सलाह दी जा जाती है। यह एक बेहतर मुखवास की तरह कार्य करता है।

2. कब्ज और एसिडिटी को रखे दूर-

(fennel seed in hindi) सौंफ में ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो की कब्ज और एसिडिटी की समस्या से दूर करने का काम करते हैं। खाना खाने के पश्च्यात सौंफ चबाने से इसमें मौजूद तत्व हमारे पाचन क्रिया को प्रोत्साहित करने का कार्य करते हैं। जिससे पाचन क्रिया में सुधार होता है। अगर आपको भी कब्ज आदि की समस्या रहती तो सौंफ का चूर्ण बना लें और हर रोज खाना खाने के पश्च्यात गुनगुने पानी के साथ इसे खा लें।

3. BP की समस्या में लाभकारी-

(Saunf ke fayde) सौंफ के फायदे की बात करें तो यह ब्लड प्रेसर की समस्या में भी फायदेमंद होता है। सौंफ में नाइट्रेट और नाइट्राइट मौजूद होते हैं जो कि रक्त कोशिकाओं के विकास के साथ उनकी संख्या बढ़ाने में भी मददगार होते हैं। सौंफ हमारी लार में मौजूद नाइट्राइट को प्राकृतिक तरीके से बढ़ाकर रक्तचाप को भी नियंत्रित करता है। इसमें आवश्यक मात्रा में पोटेशियम भी होता है। जो दिल की धड़कन और रक्तचाप को कंट्रोल करने में मदद करता है।

4. पिम्पल्स की रोकथाम में सहायक-

त्वचा के लिए सौंफ के फायदे (Benefit of fennel seed in hindi) की बात करें तो यह पिम्पल, एक्ने, दाग और धब्बे की समस्या को दूर करता है। इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल और एंटी ऑक्सिडेंट त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। सौंफ का लेप मुँह में लगाने पर यह पिम्पल्स को कम कर देता है। और हमारा चेहरा हेल्दी, फ्रेश और रिंकल फ्री बनता है। ।

चेहरे से पिम्पल कैसे हटाएँ  

5. एनिमिया (खून की कमी) से बचाव-

(Saunf ke fayde) सौफ के फायदे की बात करे तो शरीर में खून की कमी यानि एनीमिया हो जाने पर सौंफ बेहद फायदेमंद साबित होता है। सौंफ में मौजूद कॉपर, हिस्टिडाइन और आयरन जैसे तत्व हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं कि संख्या को बढ़ा सकते हैं। साथ ही साथ यह शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को भी बेहतर रखते हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए तो सौंफ का सेवन अत्यंत लाभकारी होता है।

6. पीरियड्स के दर्द को कम करे –

(Benefit of fennel seed in hindi) सौंफ के फायदे की बात करें तो यह पीरियड्स के दर्द को भी कम करने में सहायता करता है। सौंफ पेल्विक और यूटराइन में रक्त के प्रवाह को सुचारु रूप से सहज करने में मदद करता है, जिस कारण आपको दर्द से आराम मिलता है। पीरियड्स के दौरान सौंफ का सेवन करना अत्यंत लाभकारी होता है। 10 ग्राम सौंफ को 10 ग्राम पुराने गुड़ के साथ 1/2 लीटर में तब तक उबाले जब तक कि उसका 1/3 भाग न बच जाए। अब इसे छानकर पी जाएँ, दर्द से राहत मिलेगी।

माहवारी के दौरान महिलाओ को क्यों होता है दर्द ?

7. वजन कम करने में सहायक –

वजन कम करने के लिए भी सौंफ के फायदे (fennel seed in hindi) लिए जा सकते हैं। सौंफ में ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो हमारी पाचन शक्ति और शरीर के मेटाबलिज़्म रेट को बढ़ाते है, जो कि वजन घटाने के लिए बहुत जरूरी होता है। एक रिसर्च के अनुसार सौंफ और काली मिर्च का सेवन हमारे इंसुलिन की संवेदनशीलता को बढ़ता है जो कि वजन काम करने में सहायक है।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: