Paan Ke Patte Ke Fayde : ये हैं पान के पत्ते के 10 अमेजिंग फायदे, आप भी जानिए।
TRENDING
  • 11:06 PM » तरबूज खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं खाएंगे धोखा।
  • 10:20 PM » Causes of bad breath in hindi : मुँह से बदबू आने के कारण।
  • 10:15 PM » Balon ke liye til ke tel ke fayde : बालों पर तिल के तेल का इस्तेमाल करने से मिलने वाले फायदे।
  • 10:43 PM » Hibiscus for hair in hindi : बालों के लिए गुड़हल के फूल के फायदे।
  • 11:14 PM » Jeera pani pine ke fayde : जीरे के पानी के फायदे।

Paan ke patte ke fayde…आप में से अधिकतर लोगों ने पान कभी न कभी जरूर खाया होगा। कभी सड़क के किनारे लगे पान के स्टॉल से या फिर कभी शादी पार्टी या अन्य किसी समारोह में लगे पान के स्टॉल में। क्या आप जानते हैं माउथफ्रेशनर की तरह खाया जाने वाला ये पान स्वास्थ्य के लिहाज से भी बेहद फायदेमंद होता है। पान के पत्ते के फायदे की बात करें तो इसका उपयोग प्राचीन काल से ही आयुर्वेद में कई रोगों के उपचार में चला आ रहा है। पान के पत्ते में दिल के आकर के दीखते हैं। (benefits of betel leaf in hindi) पान के पत्ते डायबटीज, कैंसर, सर्दी- जुकाम और पेट से संबंधित समस्याओं के निवारण हेतु उपयुक्त रहते हैं। हमारे देश भारत में पान के पत्ते पर चुना, कत्था, गुलकंद और सुपारी लगा कर खाने की परम्परा बेहद ही लोकप्रिय है। ये एक बेहतर माउथ फ्रेशनर का काम करता है। हमारे देश में पान के पत्ते का महत्व सिर्फ स्वास्थ्य तक ही सीमित नहीं रहता, अपितु इनका प्रयोग हिन्दू धर्म में अनेक पूजा पाठ और यज्ञ के अवसर पर करना बेहद शुभ माना जाता है। आईये जानते हैं आपके मुँह का स्वाद बढ़ाने वाले पान के पत्ते के फायदे (Paan ke patte ke fayde) और इससे मिलने वाले स्वास्थ्य सम्बन्धी फायदों के बारे में।

Paan ke patte ke fayde

courtesy google

पान के पत्ते के फायदे (Paan ke patte ke fayde) – Benefits of Betel Leaf in Hindi

Paan ke patte ke fayde :  सर्दी-जुकाम में –

बदलते मौसम के साथ साथ सर्दी जुकाम की शिकायत होना बेहद आम बात होती है। ऐसे में सर्दी-जुकाम की समस्या से निपटने के लिए पान के पत्तों का प्रयोग फायदेमंद रहता है। (benefits of betel leaf in hindi) पान के पत्तों का प्रयोग सिर्फ सर्दी, जुकाम और खाँसी ही नहीं बल्कि श्वसन से जुडी समस्याएँ जैसे अस्थमा, बंद छाती में भी लाभ प्रदान करते हैं। इनमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटीबयोटिक गुण मौजूद होते हैं।

Paan ke patte ke fayde :  डायबिटज में –

(benefits of betel leaf in hindi) पान के पत्ते के फायदे की बात करें तो डायबटीज से ग्रस्त रोगियों के लिए इसका सेवन बेहद फायदेमंद रहता है। इसमें मौजूद एंटी हाइपोग्लाइसेमिक गुण, जो ब्लड में शर्करा के स्तर (ग्लूकोज) को कम करने का काम करते हैं। यह प्रकिया मुधेमह से ग्रस्त रोगियों के लिए अत्यंत आवश्यक होती है। एक अध्ययन के अनुसार जो व्यक्ति नियमित रूप से पान के पत्तों का सेवन करता है उस व्यक्ति को डायबटीज होने कि संभावना कम रहती है।

Paan ke patte ke fayde :  डेंटल बेनिफिट्स –

(benefits of betel leaf in hindi) पान के पत्तों का प्रयोग डेंटल बिनफिट्स देने का कार्य भी करते हैं। इनमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटीबयोटिक गुण मौजूद होते हैं जो कि दातों कि बाहरी संक्रमण से रक्षा करते हैं। इसका सेवन करने से दातों के क्षय में कमी आती है साथ ही दांत मजबूत बनते हैं। पान के पत्तो को उबाल कर उनसे कुल्ला करें।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए हफ्ते में एक बार जरूर खाएं कमल ककड़ी (लोटस रूट) की सब्जी।

Paan ke patte ke fayde :  पाचन के लिए –

पाचन के लिहाज से (benefits of betel leaf in hindi) पान के पत्तों का प्रयोग बेहद असरकारी सिद्ध होते हैं। इनको चबाने में अच्छा खासा समय लगता है और मुँह काफी मात्रा में लार भी रिलीज करता है, जो कि आंतों में पाए जाने वाले एंजाइम लाइपेस, एमाइलेज और डिसाकारिडेसिस को अधिक सक्रिय करने के लिए प्रेरित करते हैं, जिसके फल स्वरूप पाचन प्रक्रिया में सुधार आता है।

Paan ke patte ke fayde :  भूख बढ़ाये –

कई लोग ऐसे होते हैं जिनको खाना खाने का मन तो बहुत करता है लेकिन उनको पर्याप्त मात्रा में भूख नहीं लगती। ऐसे लोगों के लिए पान के पत्तो का सेवन करना फायदेमंद रहता है। यह पाचन क्रिया को बढ़ावा देता है और उसमें सुधार लाने का काम करता है। जिसके चलते आपको पर्याप्त भूख लगने लगती है।

Paan ke patte ke fayde :  एसिडिटी और कब्ज के लिए –

आज के समय में गलत खान पान के चलते कब्ज और एसिडिटी की समस्या अधिकतर लोगों को हो जाती है। (benefits of betel leaf in hindi) पान के पत्ते के फायदे की बात करें तो यह पेट के ph लेवल को नियंत्रित करने और पाचन तंत्र को डिटॉक्सीफाई करने का कार्य करता है। जिसके चलते कब्ज, एसिडिटी से निजात मिलता है। इसके अलावा यह अल्सर की समस्या में भी फायदेमंद रहता है।