आयुष मंत्रालय ने बताए मानसून के मौसम में स्वस्थ्य रहने के उपाय, आप भी जानिए।
TRENDING
  • 10:03 PM » चेहरे के दाने हटाने के घरेलू नुस्खे – Chehre Ke Dane Hatane Ka Tarika.
  • 7:56 PM » कोलगेट से पिम्पल्स हटाने के हैक्स – Colgate se pimple kaise hataye.
  • 10:41 PM » त्वचा को एक दिन में गोरा करने के घरेलू नुस्खे : Ek din me gora hone ka tarika.
  • 7:09 PM » कोलगेट से बाल कैसे हटाएँ – Colgate Se Baal Kaise Hataye?
  • 11:33 PM » गर्भ में पल रहा बेबी लड़का है या लड़की (Garbh me ladka hone ke lakshan) – Baby boy symptoms in hindi.

मानसून के मौसम में बिमारियों का खतरा सामान्य मौसम के मुकाबले कई गुना अधिक बड़ जाता है। इस मौसम में सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार और वायरल फ्लू होने का खतरा सबसे अधिक होता है। इसलिए मानसून के इस मौसम में हमें अतिरिक्त सुरक्षा बरतने की आवश्यकता पड़ती है। हाल ही में आयुष मंत्रालय ने मानसून के मौसम में स्वस्थ्य रहने के कुछ उपाय बताए, जिनको अपना कर आप खुद को स्वस्थ्य रख सकते हैं। आईये डालते हैं एक नजर आयुष मंत्रालय द्वारा बताये गए मानसून के मौसम में स्वस्थ्य रहने के इन उपायों पर।

मौसमी फ्लू और कोरोना के लक्षण में अंतर पहचाने –

मानसून के मौसम में सर्दी, खांसी और मौसमी फ़्लू होने की संभावना कहीं अधिक बढ़ जाती है। चूँकि इस समय सम्पूर्ण विश्व कोरोना वायरस का प्रकोप झेल रहा है। इसलिए हमें कई गुना अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता होती है। मौसमी फ्लू के अधिकतर लक्षण कोरोना वायरस के लक्षण से काफी अधिक मेल खाते हैं। इसलिए यहाँ आपको दोनों के बीच का अंतर पहचानना बेहद जरूरी हो जाता है। यदि मानसून के मौसम में आपको सर्दी, जुकाम, खांसी, डायरिया, गले में खराश, मांसपेशियों में खिंचाव और सांस लेने में परेशानी जैसी समस्याएं हो रही हैं और घरेलू उपचारों को आजमाने के बाद भी कोई अंतर नहीं लगे तो तुरंत डाक्टर से सम्पर्क साधे और उसे अपनी समस्याओं के बारे में विस्तार से बताएं। यह भी संभव है जिसे आप सामान्य वायरल फ्लू समझ कर इग्नोर कर रहें हों असल में वह कोरोना वायरस हो।

आयुष मंत्रालय ने शेयर किये टिप्स –

आयुष मंत्रालय ने मानसून के मौसम में स्वस्थ्य रहने के कुछ टिप्स शेयर किये हैं। आयुष मंत्रालय के मुताबिक बरसात के मौसम में स्वस्थ्य रहने के लिए रोजाना गर्म पानी का सेवन, एक कप अदरक और तुलसी वाली चाय का सेवन अवश्य करें। इसके अलावा इस मौसम में ठंडे पानी की जगह हल्के गर्म पानी से रोजाना स्नान करें। नहाने के बाद अपने शरीर की कुछ देर तेल मालिश करें। मंत्रालय के मुताबिक इस मौसम में मच्छरों से बचाव करना भी जरूरी है। इसके लिए शरीर की बाहरी त्वचा पर कपूर का तेल लगाएँ। बता दें कि कपूर के तेल की तेज गंध मच्छरों को आपसे दूर रखने में मदद करती है। मानसून के मौसम में स्वस्थ्य रहने के लिए आयुष मंत्रालय के मुताबिक रोजाना एक चुटकी नमक और हल्दी के पानी से कुल्ला जरूर करें।

आयुष मंत्रालय के मुताबिक मानसून में स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती हैं ये चीजें –

मानसून के मौसम में बिमारियों के जल्दी पकड़ लेने की संभावना होती है। इसलिए इस मौसम में ठंडी तासीर वाले फल, सब्जियों और अन्य खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए। ठंडी तासीर वाले खाद्य पदार्थ इस मौसम में प्रतिरोधक क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं। इसके अलावा स्वस्थ्य रहने के लिए खाने के तुरंत बाद पानी पीने से बचना चाहिए और हो सके तो खाने के बीच-बीच में भी पानी का सेवन करने बचना चाहिए। इसके अलावा अधिक बाहर का खाना, अधिक तला-भुना खाना और मसालेदार खाना खाने से परहेज करना चाहिए। साथ ही खाना खाने के तुरंत बाद सोना नहीं चाहिए।

मानसून के मौसम में खाद्य पदार्थों को नमी से बचाने के लिए अपनाएं ये टिप्स।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: