PM मोदी ने लॉन्च की नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना, जाने इसके बारे में सब कुछ।
TRENDING
  • 10:53 PM » बुलेट प्रूफ कॉफी की रेसिपी: Bulletproof coffee recipe in hindi.
  • 7:48 PM » दही के साथ क्या नहीं खाना चाहिए – Dahi ke sath kya nahi khana chahiye.
  • 10:03 PM » चेहरे के दाने हटाने के घरेलू नुस्खे – Chehre Ke Dane Hatane Ka Tarika.
  • 7:56 PM » कोलगेट से पिम्पल्स हटाने के हैक्स – Colgate se pimple kaise hataye.
  • 10:41 PM » त्वचा को एक दिन में गोरा करने के घरेलू नुस्खे : Ek din me gora hone ka tarika.

देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस समारोह के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना लागू करने का ऐलान किया है। इस उपलक्ष पर प्रधानमंत्री मोदी ने हेल्थ मिशन योजना की घोषणा करते हुए कहा कि यह एक व्यापक अभियान है जो भारत के स्वास्थ्य क्षेत्र में नई क्रांति लेकर आएगा। नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना के अंतर्गत प्रत्येक देशवासी को एक हेल्थ आईडी प्रदान की जाएगी जिसमे उसके स्वास्थ्य से संबंधित पूरा लेखा जोखा-मौजूद रहेगा। डिजिलटल इण्डिया मुहिम के तहत इसमें स्वास्थ्य से संबंधित सभी जानकारियां डिजिटल रूप में उपलब्ध होंगी। आईये जानते हैं क्या है यह नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना जिसका जिक्र स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष पर प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने किया।

क्या है ‘नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना – What is ‘National Digital Health Mission’

‘आयुष्मान भारत’ की ही तरह ‘नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना’ दूर-दराज के क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए फायदेमंद साबित होगी। इस योजना के तहत प्रत्येक देशवासी को एक यूनिक आइडेंटिटी नंबर दिया जाएगा। इस नंबर के अंतर्गत आपके स्वास्थ्य से संबंधित सभी जानकारियां शामिल रहेंगी। यानि कि इससे यह पता लग जाएगा कि आप किस बीमारी के इलाज के लिए डॉक्टर के पास गए थे। आपके इलाज के लिए डॉक्टर ने आपको कौन सी दवाइयाँ दी। साथ ही यह भी पता चलेगा कि बीमारी की जांच के लिए आपके कौन-कौन से टेस्ट किए गए और उनकी रिपोर्ट क्या थी। यह सारी जानकारी डिजिटल रूप से स्टोर की जाएगी।

चरणबद्ध तरीके से होगी लागू –

नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना चरणबद्ध तरीके से लागू की जाएगी। सबसे पहले चरण में हेल्थ फैसिलिटी, डॉक्टर, स्वास्थ्य सुविधाओं हेल्थ आईडी और पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड की रजिस्ट्री होगी। योजना के अगले चरण में ई-फार्मेसी और टेलीमेडिसिन सेवा को शामिल किया जाएगा। इस योजना में आईडी सबसे अहम रहेगी और कोई भी योजना में अपनी इच्छा से शामिल हो सकता है। इसमें निजता का खास ख्याल रखा जाएगा।

योजना में मिलेगा यह लाभ –

  • आपको एक हेल्थ आईडी दी जाएगी।
  • जिसमें आपका पर्सनल हेल्थ केयर रिकॉर्ड रहेगा।
  • डिजी डॉक्टर की सुविधा दी जाएगी।
  • हेल्थ फैसिलिटी रजिस्टर्ड होगी।
  • टेलिमेडिसिन की सुविधा दी जाएगी।
  • ई-फार्मेसी की सुविधा दी जाएगी।

क्या है इस योजना का मुख्य उद्देश्य –

-इस योजना का उद्देश्य भारतवर्ष के प्रत्येक नागरिक का डिजिटल हेल्थ सिस्टम बनाना और हेल्थ डाटा का प्रबंधन करना है।

-हेल्थ डेटा कलेक्शन की क्वालिटी और प्रसार को बढ़ाना।

-इस योजना का उद्देश्य सम्पूर्ण देश के लिए सही हेल्थ रजिस्ट्री को अपडेटेड करना और लोगों तक पहुंचाना है।

-इससे एक ऐसा प्लेटफॉर्म तैयार होगा जहाँ एक ही जगह पर स्वास्थ्य से संबंधित सभी डेटा आसनी से उपलब्ध होगा।

कैसे काम करेगी योजना –

-इस योजना के तहत डॉक्टरों समेत हेल्थ सेवाओं से संबंधित सभी जानकारियां एक ऐप पर उपलब्ध होंगी।

-आपको इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। इसके बाद आपको अपने इलाज और टेस्ट की जानकारी इस ऐप पर सेव करनी होगी। आपका रिकार्ड संरक्षित कर लिया जाएगा।

-जब कभी आप अपने इलाज के लिए किसी डॉक्टर के पास जाएंगे तो वह ऐप के जरिए आपका पूरा मेडिकल इतिहास जान सकता है।

-देश के किसी भी कोने में बैठा डॉक्टर आपकी आईडी के जरिये पूरा मेडिकल रिकॉर्ड देख सकेगा।

रूस ने लॉन्च की विश्व की पहली कोरोना वैक्सीन, WHO समेत कई देशों ने इसे कहा जल्दबाजी।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: