कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने पर इन बातों का रखें ध्यान।
TRENDING
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.
  • 9:09 PM » भगत सिंह पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on bhagat singh in hindi.

कोरोना वायरस का प्रकोप देश में लगातार नए रिकार्ड कायम करने लगा है। मौजूदा हालातों की बात करें तो देश में हर दिन 3 लाख 50 हजार से अधिक लोग इस वायरस की चपेट में आ रहे हैं। वायरस के इस तेज प्रसार के कारण स्वास्थ्य सेवाओं पर अतिरिक्त बोझ पड़ने लगा। जिसका नतीजा यह हो रहा है कि देश के कई राज्यों में स्वास्थ्य सेवाएं बुरी तरह से चरमरा गयी हैं। कोरोना के इस दौर में वायरस के नए स्‍ट्रेन ने लोगों की चिंताओं को कहीं अधिक बड़ा दिया है। मौजूदा समय में कोविड के कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जिसमें यह देखा गया है कि मरीज की RT-PCR यानि कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने के बावजूद व्यक्ति में सारे लक्षण कोरोना पॉजिटिव मरीज के नजर आ रहे हैं। इसके पीछे का कारण है वायरस ने अपने अंदर कुछ ऐसे बदलाव कर लिए हैं जो कि कोरोना के खिलाफ सबसे भरोसेमंद माने जाने वाली RT-PCR रिपोर्ट की पकड़ में नहीं आ रहे। यदि आपको भी कोरोना के लक्षण महसूस हो रहें हों और आपकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आजाए तो आपको इन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

कोरोना टेस्ट रिपोर्ट
courtesy google

कोरोना संक्रमित होने के बावजूद कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने पर इन बातों का रखें ध्यान –

खुद को आइसोलेट करें –

यदि किसी व्यक्ति को कोरोना लक्षण के महसूस होते हैं तो उसे सबसे पहले अपना कोरोना टेस्ट करवाना चाहिए। यदि उसकी टेस्ट रिपोर्ट पॉजेटिव आती है तो उसे खुद को घर पर आइसोलेशन में रहना चाहिए। साथ ही परिवार के सभी अन्य सदस्यों को भी कोरोना टेस्ट जरूर करवाना चाहिए। लेकिन यदि कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आती है, बावजूद इसके लक्षण सारे कोविड के लग रहे हों तो ऐसी परिस्थिति में आपको डॉक्टर से सलाह लेकर खुद को आइसोलेट कर लेना चाहिए और 2 से 3 दिन बाद कोविड टेस्ट फिर से करवाना चाहिए। साथ ही अपने स्वास्थ्य पर नजर बनाये रखें और ऑनलाइन डॉक्टर से स्वास्थ्य संबधी सलाह लेते रहें।

आक्सीजन लेवल को करते रहें मॉनिटर –

भले ही आपकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आ गयी हो बावजूद इसके आपको सभी लक्षण कोरोना के लगें तो खुद को आइसोलेशन में रखें। दिन में दो बार अपना टेम्प्रेचर चैक करें। इसके साथ ही अपने शरीर के ऑक्‍सीजन लेवल पर नजर बना के रखें। शरीर में ऑक्सीजन लेवल चैक करने के लिए एक ऑक्‍सीमीटर खरीद लें। यह आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन स्टोर में बड़ी आसानी से मिल जायेगा। हर 3 घंटे के अंतराल में अपना ऑक्सीजन लेवल अवश्य चैक करें। यदि यह 94 प्रतिशत से नीचे जा रहा है तो डॉक्टर से सलाह लेकर ऑक्सीजन थेरेपी लेना शुरू करें।

शरीर में ऑक्सीजन लेवल की कमी होने पर नजर आते हैं ये लक्षण।

खान पान का रखें विशेष ध्यान –

कोरोना संक्रमण के लक्षण महसूस करने पर यदि आप होम आइसोलेशन में हैं तो अपने खान-पान पर आपको विशेष ध्यान देना होगा। इस दौरान घर का बना हेल्दी और सुपाच्य भोजन ग्रहण करें। पैकेड और प्रोसेस्ड फ़ूड का सेवन करने से बचें। ताज़ी सब्जियां का सेवन करें और विटामिन सी युक्त ताजे फलों का सेवन करें। दिन में एक से दो बार काढ़े का सेवन करें और गर्म पानी का सेवन करें। कोरोना के इस दौर में फ्रीज का ठंढा पानी न पिए। रात को सोने से पहले हल्दी दूध का सेवन जरूर करें। खुद को हाइड्रेट रखने के लिए दिन में लगभग 8-10 गिलास पानी पीएं।

2 से 3 दिन बाद फिर कराएं टेस्ट –

टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बावजूद यदि आपको संक्रमण के लक्षण लगातार बने हुए हैं तो एक बार फिर से अपना कोरोना टेस्ट करवाएं। इसके अलावा डॉक्टर से बात कर उन्हें अपनी समस्याएं बताएं। यदि वह आपको X-ray या CT स्कैन की सलाह देते हैं इसे जरूर करवाएं। मौजूदा समय की बात करें तो कोविड के इस नए स्ट्रेन में कुछ लगों में ऐसा देखा गया कि उनमें लक्षण कोरोना के थे लेकिन उनका RT-PCR टेस्ट नेगेटिव आया। लेकिन जब ऐसे मरीजों का डाक्टर की सलाह पर CT स्‍कैन किया तो उसमें कोविड की पुष्टि हुई।

कोरोना मरीज को ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत कब पड़ती है?

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT