मानसून के मौसम में वार्डरोब को नमी और फंगस से बचाने के कारगर उपाय।
TRENDING
  • 11:25 PM » Pet mein jalan ka upay : पेट में जलन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय.
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।

मानसून का मौसम अत्यधिक उमस और नमी वाला मौसम होता है। इस मौसम में अनेक प्रकार की बीमारियां भी जन्म लेती हैं। इस मौसम में खुद को सुरक्षित करने के हम जितने भी उपाय अपनाते हैं, वो भी हमें कम लगने लगते हैं। मानसून के मौसम में हवा में मौजूद नमी अनेक प्रकार के संक्रमण को साथ लेकर चलती है। वातावरण में मौजूद यह नमी घर में शीलन का कारण भी बनती है। वातावरण में मौजूद नमी के चलते वार्डरोब में सीलन लग जाती है। जिसका नतीजा यह होता है कि वार्डरोब नमी और फंगस का शिकार हो जाती है। जिससे इसमें सीलन कि तेज महक आने लगती है। यदि मानसून के मौसम में आपकी वार्डरोब में नमी और फंगस लग रही है तो समय रहते इसे दूर करने का उपाय अपनाएं। वातावरण में मौजूद नमी के कारण यदि आपकी वार्डरोब फंगस का शिकार बन गयी, तो उसमे रखे आपके सारे कपड़े और जरुरी कागजात खराब हो सकते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं इस समस्या को इग्नोर करने पर नमी धीरे-धीरे आपकी पूरी वार्डरोब को अपनी चपेट में ले लेती है। इसलिए समय रहते वार्डरोब को नमी और फंगस से बचाने के उपाय जरूर अपनाएं।