Holi Safety Tips In Hindi : सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए जरूर बरतें ये सावधानियां।
TRENDING
  • 6:53 PM » आलू खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं पड़ेगा पछताना।
  • 11:27 PM » Thyroid me kya nahi khana chahiye : जानिए थायराइड की बीमारी में क्या नहीं खाना चाहिए।
  • 11:06 PM » Sanso ki badboo ka ilaj : सांसों की बदबू दूर करने के घरेलू उपाय।
  • 11:26 PM » Causes of dark lips in hindi : होंठों का रंग काला पड़ने के कारण।
  • 10:20 PM » Benefits of mint for skin in hindi : त्वचा के लिए पुदीना के फायदे।

Holi safety tips in hindi…रंगो का त्यौहार होली बस कुछ दिनों में आने वाला है। उम्मीद है कि आपने भी होली से जुडी सभी जरूरी तैयारियां कर ली होंगी। होली एक ऐसा त्यौहार है जिसमें रंगो की शरारत, गुजिया का लाजवाब स्वाद और भांग मस्ती शामिल होती है। रंगो से भरा ये त्यौहार हर साल वसंत ऋतू में मनाया जाता है। रंगो के त्यौहार होली में हम सभी एक दूसरे को रंगने के लिए अनेक तरह के रंगों का प्रयोग भी करते हैं। आजकल बाजार में हरा, गुलाबी, पीला, बैगनी, नीला हर तरीके का रंग बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं। बाजार में मिलने वाले यह रंग कैमिकल युक्त होने के कारण स्किन को नुकसान पहुंचाने और अनेक स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देने का कारण बनते हैं। इसलिए रंगों के त्यौहार होली में इन रंगों का इस्तेमाल करने से पहले कुछ जरूरी सावधानियां जरूर बरतें और एक सेफ और सुरक्षित होली खेलें। आईये जानते हैं सेफ और सुरक्षित होली खेलने (Holi safety tips in hindi) के दौरान कौन कौन सी जरूरी सावधानियां अवश्य बरतनी चाहिए।

सेफ सुरक्षित होली
courtesy google

सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए जरूर बरतें ये सावधानियां – How to play safe and healthy holi in hindi

* होली की पूर्व संध्या पर आप खुद को और अपने बच्चों को होलिका दहन के बोनफायर से एक दूर रख, सेफ और सुरक्षित रहें।

* होली के दौरान अपने शरीर के सभी अंगों को बाजार में मिलने वाले कैमिकल युक्त रंग से बचाने के लिए इन रंगों का कम से कम मात्रा में प्रयोग करें। इन रंगों में काले रंग में लेड ऑक्साइड, लाल रंग में मरकरी सल्फाइड, चांदी में एल्युमिनियम ब्रोमाइड और हरे रंग में कॉपर सल्फेट होता है। ये आसानी से त्वचा में प्रवेश कर सकते हैं जिससे विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

* सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए बाजार में मिलने वाले सभी चमकीले बैंगनी, हरे, पीले, लाल और नारंगी रंगों से बचें क्योंकि इनमें हानिकारक कैमिकल मिले होने की संभावना अधिक होती है।

Holi 2020: चेहरे से होली का रंग कैसे छुड़ाएं, जानिए इन आसान टिप्स में।

* सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए घर पर फूलों से बने हर्बल रंगो का प्रयोग करें, यदि किन्ही कारणों के चलते घर पर हर्बल रंग नही बना पाए तो बाजार से कैमिकल युक्त रंग खरीदने के बजाय हर्बल रंग खरीदें।

* होली खेलने से पहले अपने चेहरे, हाथ, पैर और त्वचा के सभी नग्न हिस्सों पर एक सामान्य मात्रा में मॉइस्चराइजिंग लोशन या तेल लगाएँ। अपनी त्वचा को सन बर्न बचाने के लिए वाटरप्रूफ सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।

* होली के रंगों के कारण बाल फ्रिज़ी और ड्राई हो सकते हैं। इसलिए होली खेलने से पहले बालों और स्कैल्प पर तेल मालिश करके अपने बालों को हानिकारक कैमिकल युक्त रंगों, गंदगी और धूल से बचाएं। सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए घर से निकलने से पहले एक टोपी या बाजार में मिलने वाला होली स्पेशल विग का प्रयोग करें।

जानिए घर पर ऑर्गेनिक होली का रंग कैसे बनायें, साथ ही जानें इन रंगो का महत्त्व।

* सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए होली खलेने से पहले आँखों को रंगों से बचाने के लिए धुप का चश्मा पहन कर घर से बहार निकलें। यदि आप कॉन्टैक्ट लेंस का प्रयोग करते हैं तो होली खेलने से पहले इन्हें उतार लें। यदि रंग आंखों में प्रवेश कर जाये तो बिना देरी किये ठन्डे पानी से आंखों को धो लें।

* होली के रंगों से छुटकारा पाने के लिए रेगुलर साबुन और शैम्पू का उपयोग करने से बचें। अपनी त्वचा साफ करने के लिए एक सॉफ्ट साबुन का प्रयोग करें और अपने बालों के लिए बेबी शैम्पू का उपयोग करें। रंग हटाने के लिए मिट्टी का तेल, पेट्रोल और स्प्रिट के इस्तेमाल से बचें, ये त्वचा के लिए नुकसानदायक साबित हो सकते हैं।

* सेफ और सुरक्षित होली खेलने के लिए होली में अधितर लोगों द्वारा पीये जाने वाले पेय, भांग का अत्यधिक मात्रा में सेवन करने से बचें, यदि अधिक मात्रा में इसका सेवन किया जाये तो रक्तचाप और हृदय गति में वृद्धि हो सकती है। होली के दौरान शराब और अन्य सभी मादक पदार्थों का सेवन करने से बचें।

क्या आप के कपड़े रंग गए होली के रंग में, पढ़े कपड़ों से होली का रंग छुड़ाने के उपाय।

* इस होली प्राकृतिक संसाधनों का सम्मान करें और बहुत अधिक पानी बर्बाद करने से बचें। दूर से पानी के गुब्बारे फेंकने से बचें क्योंकि वे किसी को घायल कर सकते हैं।

* होली खेलने के बाद अपनी स्किन को मॉश्चराइजर करें। इसके लिए बिना कैमिकल युत्क प्राकृतिक मॉश्चराइजर अपना सकते हैं जैसे एलोवेरा जेल, बेसन, मलाई या स्किन पर नारियल का तेल लगा सकते हैं।

* अगर आप अस्थमा धूल और एलर्जी के शिकार हैं तो सूखे रंगों से होली खेलने से बचें।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT