बरसात के मौसम में गले में खरास की समस्या से छुटकारा पाने के आसान घरेलु टिप्स।
TRENDING
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।
  • 11:53 PM » 10 lines on diwali in hindi : दिवाली पर 10 लाइन निबंध।

बरसात के इस बदलते मौसम में गले में खरास की समस्या हो जाना बहुत सामान्य बिमारियों में गिनी जाती है। पल पल बदलते रहने वाले बरसात के मौसम में होने वाली सर्दी, गर्मी के अनुसार हमारा शरीर खुद को ढाल नहीं पता और हमे गले में खरास, गले में दर्द, सर्दी जुखाम और कफ इत्यादि की शुरुआत हो जाती है। गले में खरास होने के कई अन्य कारण भी हो सकते हैं जैसे की गले में किसी प्रकार की एलर्जी का हो जाना या किसी ऐसे खाद्य पदार्थ का सेवन कर लेना जो की गले में खरास पैदा कर सकते हों। आईये जानते हैं कुछ आसान घरेलू टिप्स के बारे में जो की आपको गले में खरास की समस्या से राहत दिलाने में सक्षम हों।

गले में खरास की समस्या

courtesy google

गले में खरास की समस्या दूर करें ये घरेलु टिप्स – Gale me kharash dur kaise kare.

गर्म पानी का गरारा – गले की खरास में नमक के पानी का गरारा अत्यंत ही लाभप्रद होता है। बेहतर और अच्छे परिणाम के लिए आप इसमें चुटकी भर से ज्यादा नमक भी मिला सकते हैं। ऐसा करने से आपको काफी आराम मिलेगा।

गुनगुना पानी पियें – जब भी आपको गले में खरास की समस्या हो उस दौरान भूल कर भी ठंडे पानी का सेवन न करें जब कभी भी आपको प्यास लगे पानी को गुनगुना कर के पियें इससे भी काफी हद तक आराम मिलेगा।

बरसात के मौसम में होने वाली बीमारियां और उनसे बचाव के तरीके।

काढ़ा बना कर पियें – गले की खरास को दूर करने के लिए लौंग, तुलसी के पत्ते, कालीमिर्च को पानी में उबाल काढ़ा बना कर पी लें, ये उपाय भी गले की खरास, सर्दी – जुखाम और कफ बनने की समस्या से हमे राहत पहुँचाता है।

सावधान! बरसात का मौसम हो चूका शुरू, खाने पीने का रखें विशेष ध्यान।

अदरक वाली चाय का सेवन – गले की खरास पर हम सभी के द्वारा जो घरेलु उपाय अपनाये जाते है, वो हैं सिर्फ सादी चाय पीने की जगह आप उसमें अदरक भी मिलाकर डाल सकते हैं ये नुस्खा दोगुना फायदा करता है।

भूलकर भी मत पीजिये खाली पेट चाय! पड़ सकते हैं भारी मुसीबत में आप।

मुलेठी का सेवन – गले की खरास, गले का दर्द, कफ बनना और खांसी का अत्यधिक आना इस सब की रामबाण दवाई है मुलेठी थोड़ी सी मुलेठी लीजिये और उसको मुँह में रख कर चूसते रहें इसका रस आपको इन सब समस्याओं से दूर रखता है।

बरसात के सीजन में कफ की समस्या से हैं परेशान? तो इसे जरूर पढ़ें।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :-

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT