इन घेरलू नुस्खों को अपनाकर आप भी कहें नेल फंगस को बाय-बाय।
TRENDING
  • 6:44 PM » शिक्षक दिवस पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on teachers day in hindi.
  • 11:11 PM » गाड़ियों में सनरूफ क्यों दिया क्यों दिया जाता है – Sunroof uses in car in hindi.
  • 10:30 PM » मानसून के मौसम में खान-पान का रखें विशेष ध्यान करें इन्हें खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल.
  • 9:41 PM » घर पर फेस सीरम को बनाने की विधि – Homemade face serum in hindi.
  • 9:43 PM » ऑलिव ऑयल कितने प्रकार का होता है – Types of olive oil in hindi.

नाखून में अगर फंगस (नेल फंगस) लग जाये तो ये हमारे नाखून की सारी खूबसूरती बिगाड़ देते हैं। नेल फंगस नाखूनों के स्वास्थ्य के लिहाज से काफी हानिकर होता है। यह नेल्स में गंदगी जमा होने, साफ सफाई न रखने, सिंथेटिक मोजे पहनने और बहुत देर तक पसीने के कारण गीले रहने के कारण होता है। नेल फंगस के कारण हमारे नेल्स का रंग हल्का और फीका पड़ने लगता है और इनमे सफेद और पीले धब्बे पड़ने लगते हैं। नेल फंगस कई बार अत्यंत दर्दनाक और असहनीय भी साबित होता है।

नाखून में फंगस अधिकतर मामलों में कमजोर इम्यून सिस्टम और सही पीएच लेवन न होने के कारण भी हो जाता है। इस स्थिति में नाखून अपना रंग खोने लगते हैं और कमजोर पड़ने लगते हैं। नाखूनों में दरार पड़ने लगती है और ये मोटे लगने लगते हैं। नेल्स में होने वाले इस फंगस के संक्रमण को ऑनिओमाइकोसिस (Onychomycosis) के नाम से भी जाना जाता है। आईये जानते हैं कुछ घरेलू उपायों के बारे में जिनकी मदद से आप नाखून में होने वाले इस इंफेक्शन से छुटकारा पा सकते हैं।

नेल फंगस

courtesy google

नेल फंगस के लिए घरेलू नुस्खे – Home Remedies for Nail Fungus

एप्पल साइडर वेनिगर (सेब का सिरका) –

यह एसिटिक एसिड और एंटी इन्फ्लैमटोरी गुणों से भरपूर होता है। अपनी एसिडिक प्रॉपर्टी के कारण यह हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है और नेल्स के संक्रमण को बढ़ने से रोकता है। इसका उपयोग करने के लिए एक कप विनेगर में चार कप पानी मिला कर किसी छोटे आकर के टब में इसे डालकर मिक्स कर लीजिये और इसमें अपने हाथ और पैर कम से कम 30 मिनट तक डूबे रहने दें।

एप्पल साइडर विनेगर के चमत्कारी लाभ जानकर हैरान रह जायेंगे आप।

टी-ट्री ऑयल –

टी-ट्री ऑयल एंटी-फंगल, कवकनाशी और एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होता है। यह प्राकृतिक रूप से कीटाणुनाशक होता है। नेल फंगस (नाखून संक्रमण) के उपचार में इसका प्रयोग करना बेहद फायदेमंद रहता है। इसका उपयोग करना भी बेहद आसान रहता है। इसके लिए एक टेबल स्पून नारियल का तेल या जैतून का तेल लीजिये इसमें तीन से चार बून्द टी-ट्री ऑयल की मिला लें। अब थोड़ी सी कॉटन लीजिये और उसे इसमें डूबा कर फंगस से प्रभावित नाखूनों के ऊपर लगा लीजिए और इसे सूखने दीजिये।

नीबू का रस –

निम्बू में एंटीसेप्टिक, ऐन्टीबैक्टिरीअल और एंटी-फंगल गुण पाए जाते हैं। यह नेल्स के संक्रमण को दूर करने का काम करता है। नीबू में मौजूद सिट्रस एसिड नाखून में फंगस पैदा करने वाले बैक्टेरिया को खत्म करने का काम करता है। इसका उपयोग करना भी बेहद आसान है। इसके लिए आपको चाहिए एक ताजा नीबू , इसका रस निकाल कर अपने नाखूनों में लगा कर सूखने के लिए छोड़ दें।

स्नेक रूट का अर्क –

स्नेक रूट के अर्क में एंटी-फंगल गुण पाए जाते हैं। जो की बिना किसी नुकसान के नाखूनों से संक्रमण हटाने का काम करते हैं। इसका उपयोग करने के लिए थोड़ी सी मात्रा में स्नेक रूट का अर्क लें और इसमें पानी की कुछ बूंदें मिला लें और इस मिश्रण को अच्छी तरह से मिला लें। और इसे अपने नाखुओं में लगा कर 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो लें।

बेकिंग सोडा (सोडियम बाइकार्बोनेट) –

बेकिंग सोडा में एंटीफंगल गुण पाए जातें हैं जो कि नाखून में होने वाले फंगल इंफेक्शन को खत्म करने का काम करते हैं। इसका प्रयोग करने के लिए थोड़ी सी मात्रा में बेकिंग सोडा लीजिये और इसमें पानी मिला कर इसका पेस्ट बना लीजिये। इस पेस्ट को अपने नाखुओं पर लगा कर 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे धो लें।

अजवायन का तेल –

अजवायन का तेल एंटी-फंगल और कवकनाशी होता है। यह नाखुओं के फंगस को खत्म करने में बेहद प्रभावित होता है। इसका प्रयोग करने के लिए एक टेबल स्पून नारियल के तेल में तीन से चार बून्द अजवायन का तेल डाल कर मिला लें और इसे अपने नाखुओं पर लगा कर सूखने के लिए छोड़ दें।

सूरजमुखी का तेल –

सूरजमुखी का तेल एंटीमाइक्रोबियल (सूक्ष्मजीवरोधी) होता है। यह नेल्स में मौजूद फंगस, बैक्टीरिया से लड़ने में सहायता करता है। नाखुओं में संक्रमण दूर करने में अहम रोल निभाता है। इसका प्रयोग करने के लिए थोड़ी सी मात्रा में सूरजमुखी तेल लें इसमें कॉटन को डूबा कर संक्रमण वाली जगह पर कॉटन पर पट्टी बांध कर छोड़ दें। कम से आधा घंटे तक इसे लगे रहने दें।

लहसुन –

लहसुन में ऐजीन नामक तत्व पाया जाता है जो कि एंटीफंगल का काम करता है। यह नाखुओं के संक्रमण को दूर करने का काम करता है। इसका प्रयोग करने के लिए दो लहसुन कि कलियों को कूट कर अपने नाखुओं में घिस लें। 30 मिनट बाद अपना हाथ धो लें।

मजबूत ,सवस्थ और चमकदार नाखून बनाने के आसान घरेलु टिप्स

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                          Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT