इन घेरलू नुस्खों को अपनाकर आप भी कहें नेल फंगस को बाय-बाय।
TRENDING
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।
  • 11:53 PM » 10 lines on diwali in hindi : दिवाली पर 10 लाइन निबंध।

नाखून में अगर फंगस (नेल फंगस) लग जाये तो ये हमारे नाखून की सारी खूबसूरती बिगाड़ देते हैं। नेल फंगस नाखूनों के स्वास्थ्य के लिहाज से काफी हानिकर होता है। यह नेल्स में गंदगी जमा होने, साफ सफाई न रखने, सिंथेटिक मोजे पहनने और बहुत देर तक पसीने के कारण गीले रहने के कारण होता है। नेल फंगस के कारण हमारे नेल्स का रंग हल्का और फीका पड़ने लगता है और इनमे सफेद और पीले धब्बे पड़ने लगते हैं। नेल फंगस कई बार अत्यंत दर्दनाक और असहनीय भी साबित होता है।

नाखून में फंगस अधिकतर मामलों में कमजोर इम्यून सिस्टम और सही पीएच लेवन न होने के कारण भी हो जाता है। इस स्थिति में नाखून अपना रंग खोने लगते हैं और कमजोर पड़ने लगते हैं। नाखूनों में दरार पड़ने लगती है और ये मोटे लगने लगते हैं। नेल्स में होने वाले इस फंगस के संक्रमण को ऑनिओमाइकोसिस (Onychomycosis) के नाम से भी जाना जाता है। आईये जानते हैं कुछ घरेलू उपायों के बारे में जिनकी मदद से आप नाखून में होने वाले इस इंफेक्शन से छुटकारा पा सकते हैं।

नेल फंगस

courtesy google

नेल फंगस के लिए घरेलू नुस्खे – Home Remedies for Nail Fungus

एप्पल साइडर वेनिगर (सेब का सिरका) –

यह एसिटिक एसिड और एंटी इन्फ्लैमटोरी गुणों से भरपूर होता है। अपनी एसिडिक प्रॉपर्टी के कारण यह हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है और नेल्स के संक्रमण को बढ़ने से रोकता है। इसका उपयोग करने के लिए एक कप विनेगर में चार कप पानी मिला कर किसी छोटे आकर के टब में इसे डालकर मिक्स कर लीजिये और इसमें अपने हाथ और पैर कम से कम 30 मिनट तक डूबे रहने दें।

एप्पल साइडर विनेगर के चमत्कारी लाभ जानकर हैरान रह जायेंगे आप।

टी-ट्री ऑयल –

टी-ट्री ऑयल एंटी-फंगल, कवकनाशी और एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होता है। यह प्राकृतिक रूप से कीटाणुनाशक होता है। नेल फंगस (नाखून संक्रमण) के उपचार में इसका प्रयोग करना बेहद फायदेमंद रहता है। इसका उपयोग करना भी बेहद आसान रहता है। इसके लिए एक टेबल स्पून नारियल का तेल या जैतून का तेल लीजिये इसमें तीन से चार बून्द टी-ट्री ऑयल की मिला लें। अब थोड़ी सी कॉटन लीजिये और उसे इसमें डूबा कर फंगस से प्रभावित नाखूनों के ऊपर लगा लीजिए और इसे सूखने दीजिये।

नीबू का रस –

निम्बू में एंटीसेप्टिक, ऐन्टीबैक्टिरीअल और एंटी-फंगल गुण पाए जाते हैं। यह नेल्स के संक्रमण को दूर करने का काम करता है। नीबू में मौजूद सिट्रस एसिड नाखून में फंगस पैदा करने वाले बैक्टेरिया को खत्म करने का काम करता है। इसका उपयोग करना भी बेहद आसान है। इसके लिए आपको चाहिए एक ताजा नीबू , इसका रस निकाल कर अपने नाखूनों में लगा कर सूखने के लिए छ