क्या आप जानते हैं कुल्हड़ वाली चाय (Kulhad Wali Chai) पीने के स्वास्थ्य लाभ?
TRENDING
  • 3:21 PM » Sardiyo me skin care in hindi : सर्दियों में स्किन केयर टिप्स।
  • 6:11 PM » Curd face pack in hindi : त्वचा पर दही फेस पैक का प्रयोग करने का तरीका (Dahi face pack in hindi)
  • 5:31 PM » Liver detox foods in hindi : लिवर को डिटॉक्स करने वाले फूड्स।
  • 6:01 PM » Benefits of radish in hindi : मूली के फायदे (Muli khane ke fayde).
  • 6:18 PM » तांबे की बोतल साफ करने के आसान घरेलू नुस्खे।

Kulhad wali chai… हमारे देश में हर घर में आपको चाय का शौकीन कोई न कोई व्यक्ति जरूर मिल जाएगा। घर में अधिकतर लोग चाय को कप में या गिलास में पीना अधिक पसंद करते हैं। वहीं अगर घर के बाहर किसी ढाबे या चाय की शॉप में चाय पीने की बात हो तो यह आपको कांच के गिलास, डिस्पोजल गिलास और कुल्हड़ में मिल जाती है। मौजूदा समय में अधिकतर लोग साफ-सफाई के कारणों के चलते डिस्पोजल गिलास या फिर कुल्हड़ में चाय पीना अधिक पसंद करते हैं। बीते कुछ वर्षों से देश में कुल्हड़ चाय का प्रचनल काफी अधिक बड़ा है। आज के समय में अधिकतर लोग घर से बाहर कुल्हड़ में चाय पीना काफी अधिक पसंद करते हैं। कुल्हड़ वाली चाय की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसका स्वाद सामान्य चाय से कई गुना ज्यादा अच्छा होता है। इसके पीछे का मुख्य कारण है कि जब गरमा-गर्म चाय मिट्टी के कुल्हड़ में डाली जाती है तो मिट्टी की भीनी और सौंधी खुशबू चाय के स्वाद में मिक्स हो जाती है। इस तरह से आपकी कुल्हड़ चाय (Kulhad wali chai) साधारण चाय से हट कर एक स्पेशल चाय में बदल जाती है।

मौजूदा समय की बात करें तो इस समय पूरे देश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार जारी है। ऐसे में घर के बाहर कांच के गिलास में चाय पीना आपके लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए महामारी के इस दौर में घर से बाहर अगर आप कुछ भी खाना या पीना हो तो उसके लिए डिस्पोजेबल बर्तनों का उपयोग करें। यदि चाय पीने जा रहें तो कोशिश करें की कुल्हड़ में चाय (Kulhad mai chai) पिएं। इसको पीने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप को एक हाइजीनिक चाय पीने को मिल जाती है। साथ ही कुल्हड़ चाय (Kulhad wali chai) स्वास्थ्य के लिहाज से भी फायदेमंद रहती है।

Kulhad wali chai

कुल्हड़ वाली चाय (Kulhad wali chai) पीने के फायदे –

बैक्टीरिया से रखे दूर Kulhad wali chai –

मौजूदा समय में गावं हो शहर कुल्हड़ में चाय पीने का प्रचलन सब जगह बढ़ता जा रहा है। स्वास्थ्य के लिहाज से भी इस तरह से चाय पीना फायदेमंद साबित होता है। इसलिए आप भी जब कभी किसी होटल या रेस्त्रां में चाय पीने के लिए जाते हैं तो कांच के गिलास कि जगह कुल्हड़ चाय का ऑडर दें। जैसा कि आपने देखा होगा अधिकतर चाय की दुकानों में बहुत अधिक भीड़ होने के कारण वह गिलास को बहुत ज्यादा अच्छी तरह से साफ नहीं कर पाते। जिस कारण गिलास में कई तरह के हानिकारक बैक्टीरिया और कीटाणु होने की संभावना बढ़ जाती है। जब आप ऐसे किसी गिलास में चाय का सेवन करते हैं तो यह बैक्टीरिया और कीटाणु आपके शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। वहीं कुल्हड़ में चाय पीने से इस प्रकार का कोई खतरा नहीं होता। डिस्पोजल गिलास की बात करें तो यह भी चाय पीने के लिए सुरक्षित नहीं माने जाते। गर्म चाय और पानी के सम्पर्क में आने पर इनके कुछ तत्व आपकी चाय में मिल जाते हैं इसके अलावा इन्हें चिपकाने वाला गोंद भी गर्म चाय के सम्पर्क में आने पर चाय के साथ घुलने लगाता है। वहीं कुल्हड़ चाय (Kulhad chai) में आपको ऐसी किसी परेशानी से दो-चार नहीं होना पड़ता है।

क्या आप जानतें हैं, चाय पीने के भी होते है कई स्वास्थ्य समबन्धी फायदे।

कैल्शियम की मात्रा बढ़ाये Kulhad wali chai –

मिट्टी के बर्तन स्वभाव में क्षारीय प्रवृति के होते हैं। यह हमारे शरीर के एसिडिक नेचर को कम करने का कार्य करते हैं। मिट्टी के बर्तन में कुछ खाने या फिर पीने से शरीर को कैल्शियम मिलता है, जो हमारी हड्डियों के विकास के लिए जरूरी होता है।

ईको फ्रैंडली है Kulhad wali chai –

जैसा की हमने आपको बताया की मौजूदा समय में चाय पीने के लिए गत्ते, प्लास्टिक और फोम के डिस्पोजल गिलास का भी प्रयोग किया जाता है। लेकिन ये ईको फ्रैंडली की श्रेणी में नहीं आते। इनमें चाय पीने का आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। जबकि कुल्हड़ में चाय पीना एक ईको फ्रैंडली तरीका है। इससे स्वास्थ्य को किसी प्रकार का कोई नुक्सान भी नहीं।

रोजाना बिना दूध की चाय पीने से होते हैं कई जबरस्दत स्वास्थ्य लाभ, आप भी जानिए।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्य