N-95 मास्क को लेकर सरकार ने जारी की चेतावनी, कहा नहीं देता वायरस से सुरक्षा।
TRENDING
  • 5:27 PM » How dengue spread in hindi : (Dengue kaise hota hai) डेंगू कैसे होता है?
  • 6:36 PM » Karwa chauth puja vidhi : जानिए करवा चौथ पूजा विधि के बारे में।
  • 7:57 PM » Platelets badhane wale fruits : प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले फ्रूट्स।
  • 10:21 PM » Fridge ki safai karne ka tarika : फ्रिज की सफाई करने के आसान घरेलू टिप्स।
  • 3:21 PM » Sardiyo me skin care in hindi : सर्दियों में स्किन केयर टिप्स।

कोरोना वायरस से सुरक्षा के लिए सबसे पहला कदम जो हम उठाते हैं वो है मास्क पहनना और हाथों को धोना। वायरस से बचने के लिए इस समय मार्केट में N-95 मास्क धड़ल्ले से बिक रहा है। अब तक N-95 मास्क के बारे में यही माना जाता था कि यह वायरस से सुरक्षा दिलाने के लिए प्रयोग में लाए जाने वाला सबसे अच्छा मास्क है। यही कारण है कि N-95 मास्क की कीमत भी अधिक है। लेकिन अब केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि N-95 मास्क कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने में सक्षम नहीं है। खासतौर पर वाल्व लगा हुआ N-95 मास्क कोरोना को रोकने में पूरी तरह से विफल है। केंद्र सरकार के मुताबिक यह मास्क वायरस को रोकने में पूरी तरह से विफल हैं। केंद्र सरकार की तरफ से जारी एडवाइजरी के मुताबिक N-95 मास्क की जगह पर ट्रिपल लेयर मास्क का प्रयोग करना सही तरीका है।

वायरस N-95 मास्क
courtesy google

मंत्रालय ने बताया क्‍यों कारगर नहीं है N-95
स्वास्थ्य मंत्रालय के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक (DGHS) डॉ. राजीव गर्ग ने राज्यों के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिवों को N-95 मास्क के संबंध में पत्र लिखते हुए कहा, यह देखा गया है कि जनता और स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा N-95 मास्क का अनुचित प्रयोग किया जा रहा है। DGHS राजीव गर्ग ने स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर चेहरे और मुंह के लिए होममेड मास्क का उपयोग करने की सलाह जारी की है।

WHO ने भी माना ट्रिपल लेयर मास्क को कारगर
सरकार की एडवाइजरी के मुताबिक कोरोना प्रसार से सुरक्षा के लिए N-95 मास्क का उपयोग व्यर्थ है। यह आपको वायरस के प्रति किसी भी तरह की सुरक्षा प्रदान नहीं करता है। इसकी जगह होममेड ट्रिपल लेयर मास्क का प्रयोग करने पर जोर दिया गया है। बता दें कि WHO भी ट्रिपल लेयर मास्क के प्रयोग पर जोर दे चुका है और इस संबंध में WHO ने गाइडलाइन भी जारी करी थी।
सरकार द्वारा मास्क इस्तेमाल को लेकर जारी हुई एडवाइजरी में बताया गया था, कैसे सूती कपड़े का प्रयोग कर ऐसे मास्क बनाए जा सकते हैं जो वायरस से आपको सुरक्षा देने में सक्षम हों। इसके अलावा एडवाइजरी में यह भी बताया गया था कि मास्क बनाने से पहले कपड़े को पांच मिनट तक नमक मिले हुऐ पानी में उबालें और फिर उसे धूप में अच्छी तरह से सूखाएं।

भारत में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना
देश में कोरोना संक्रमण का प्रसार लगातार जारी है। देश में अब तक 11,55,191 से अधिक लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। अब तक कोरोना वायरस देश में 28,084 से अधिक लोगों की जान ले चुका है। वहीं 7,24,578 से अधिक लोग अब तक पूरी तरह से स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 4,02,529 से अधिक पहुंच गयी है।

कोरोना वायरस की अधिक जानकारी के लिए पढ़े –