N-95 मास्क को लेकर सरकार ने जारी की चेतावनी, कहा नहीं देता वायरस से सुरक्षा।
TRENDING
  • 5:51 PM » Aloe vera gel kaise lagaya jata hai : एलोवेरा जेल लगाने का तरीका।
  • 11:09 PM » Ganesh ji ki kahani : गणेश जी की कहानी (Ganesha story in hindi).
  • 7:19 PM » Toothpaste se pregnancy test kaise kare : टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 9:45 PM » Sabun se pregnancy test kaise kare : साबुन से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।
  • 5:49 PM » Chini se pregnancy test kaise kare : चीनी से प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका।

कोरोना वायरस से सुरक्षा के लिए सबसे पहला कदम जो हम उठाते हैं वो है मास्क पहनना और हाथों को धोना। वायरस से बचने के लिए इस समय मार्केट में N-95 मास्क धड़ल्ले से बिक रहा है। अब तक N-95 मास्क के बारे में यही माना जाता था कि यह वायरस से सुरक्षा दिलाने के लिए प्रयोग में लाए जाने वाला सबसे अच्छा मास्क है। यही कारण है कि N-95 मास्क की कीमत भी अधिक है। लेकिन अब केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि N-95 मास्क कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने में सक्षम नहीं है। खासतौर पर वाल्व लगा हुआ N-95 मास्क कोरोना को रोकने में पूरी तरह से विफल है। केंद्र सरकार के मुताबिक यह मास्क वायरस को रोकने में पूरी तरह से विफल हैं। केंद्र सरकार की तरफ से जारी एडवाइजरी के मुताबिक N-95 मास्क की जगह पर ट्रिपल लेयर मास्क का प्रयोग करना सही तरीका है।

वायरस N-95 मास्क
courtesy google

मंत्रालय ने बताया क्‍यों कारगर नहीं है N-95
स्वास्थ्य मंत्रालय के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक (DGHS) डॉ. राजीव गर्ग ने राज्यों के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिवों को N-95 मास्क के संबंध में पत्र लिखते हुए कहा, यह देखा गया है कि जनता और स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा N-95 मास्क का अनुचित प्रयोग किया जा रहा है। DGHS राजीव गर्ग ने स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर चेहरे और मुंह के लिए होममेड मास्क का उपयोग करने की सलाह जारी की है।

WHO ने भी माना ट्रिपल लेयर मास्क को कारगर
सरकार की एडवाइजरी के मुताबिक कोरोना प्रसार से सुरक्षा के लिए N-95 मास्क का उपयोग व्यर्थ है। यह आपको वायरस के प्रति किसी भी तरह की सुरक्षा प्रदान नहीं करता है। इसकी जगह होममेड ट्रिपल लेयर मास्क का प्रयोग करने पर जोर दिया गया है। बता दें कि WHO भी ट्रिपल लेयर मास्क के प्रयोग पर जोर दे चुका है और इस संबंध में WHO ने गाइडलाइन भी जारी करी थी।
सरकार द्वारा मास्क इस्तेमाल को लेकर जारी हुई एडवाइजरी में बताया गया था, कैसे सूती कपड़े का प्रयोग कर ऐसे मास्क बनाए जा सकते हैं जो वायरस से आपको सुरक्षा देने में सक्षम हों। इसके अलावा एडवाइजरी में यह भी बताया गया था कि मास्क बनाने से पहले कपड़े को पांच मिनट तक नमक मिले