कोरोना की दवा रेमडेसिवीर के 5 दिन के कोर्स के लिए खर्चने होंगे 1.75 लाख रुपये।
TRENDING
  • 9:56 PM » क्रिकेट पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on cricket in hindi.
  • 4:10 PM » सेब का जूस बनाने की विधि : Apple juice recipe in hindi.
  • 10:33 PM » तरबूज का जूस बनाने की रेसिपी – Watermelon juice recipe in hindi.
  • 11:33 PM » NDMA ने बताए गर्मियों में लू से बचने के उपाय – Tips to avoid heat stroke in summer in hindi.
  • 9:09 PM » भगत सिंह पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on bhagat singh in hindi.

एक तरफ जहाँ सम्पूर्ण विश्व कोरोना प्रकोप का कहर झेल रहा है, वहीं दूसरी तरफ कई कंपनियां पिछले लम्बे समय से वायरस की रोकथाम के लिए वैक्सीन बनाने के कार्य में भी जुटी हुए हैं। बीते कुछ समय से रेमडेसिवीर एंटी वायरल दवा को कोरोना की रोकथाम में काफी हद तक प्रभावी माना गया है और इसके क्लिनिकल ट्रायल के नतीजे भी उत्साहवर्द्धक रहे हैं। अमेरिका समेत कई अन्य देशों में कोरोना वायरस के खिलाफ रेमडेसिवीर (Remdesivir) दवा को इमरजेंसी में प्रयोग किये जाने की अनुमति मिल चुकी है। ऐसे में कोरोना वायरस के प्रति रेमडेसिवीर दवा को बनाने वाली कंपनी गिलीड साइंसेज (Gilead Sciences Inc) ने कहा कि वो अमेरिकी और अन्य विकसित देशों में कोरोना वायरस ड्रग रेमडेसिवीर की एक शीशी के लिए 390 डॉलर (Cost of Remdesivir per Vial) चार्ज करेगी।

कोरोना दवा रेमडेसिवीर
courtesy google

गिलीड साइंसेज (Gilead Sciences Inc) के बड़े हुए रेट को देख कर लगता है कंपनी कोरोना काल में भी मौके को भुनाकर तगड़ा मुनाफा कमाना चाहती है। हालाँकि कंपनी ने रेमडेसिवीर के बड़े हुए दामों के पीछे का कारण विकसित देशों के लिए वन प्राइस मॉडल को अपनाना बताया। कंपनी के मुताबिक ऐसा करने से प्रत्येक देश में वैक्सीन का एक रेट रहेगा और किसी को दामों के लिए मोलभाव नहीं करना पड़ेगा। कोरोना की दवा रेमडेसिवीर का 5 दिन का फूल कोर्स लेने पर आने वाले खर्चे की बात करें तो यह आपको 2,340 डॉलर (करीब 1,75,500 रुपये) पड़ेगा। 5 दिवसीय इस कोर्स में दवा की 6 शीशी इस्तेमाल होती हैं। लेकिन कई मामलों में 10 से 11 शीशी का इस्तेमाल करना पड़ सकता है।

गिलीड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेनियल ओ’डे (Daniel O’Day) ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘हम चाहते हैं कि मरीजों तक इस दवा के पहुंचने में कोई बाधा न आए. इस दाम से सुनिश्चित हो सकेगा कि दुनियाभर में सभी देशों के मरीजों तक दवा पहुंच सके’

कंपनी के मुताबिक सभी सरकारी इकाइयों के लिए इसकी प्रत्येक डोज की कीमत 390 डॉलर होगी। वहीं पांच दिन के फूल कोर्स की कीमत 2,340 डॉलर (करीब 1,75,500 रुपये) होगी। वहीं अन्य इंश्योरेंस कंपनियों व कॉमर्शियल प्लेयर्स के लिए इसके प्रत्येक डोज की कीमत 520 डॉलर होगी। यानि इसके फूल कोर्स की कीमत 3,120 डॉलर (2,34,000 रुपए) होगी।

गिलीड साइंसेज (Gilead Sciences Inc) ने कहा कि वो जून के पूरे माह फ्री में कोरोना की दवा रेमडेसिवीर को उपलब्ध करवाएगी। लेकिन इन सब बातों के बीच सबसे बड़ा मुद्दा यह बना हुआ था कि इसके बाद कंपनी दवा का क्या दाम तय करेगी। हालाँकि कंपनी ने अब दवा की कीमतों को लेकर स्तिथि साफ कर दी है। कंपनी ने कहा गिलीड साइंसेज द्वारा इस दवा की कीमत इसलिए कम रखी गयी है क्योंकि भविष्य में लॉन्च होने वाली कोविड-19 की अन्य दवाईयों की कीमत भी इसी आधार पर तय हो सकती है। कंपनी ने कहा कि इस दवा की वैल्यू के आधार पर वह और अधिक कीमत तय कर सकती थी। लेकिन कंपनी ने इसकी कीमत कम दर पर इसलिए रखी ताकि अन्य सभी विकसित देश इसे खरीद सकें।

बता दें कि रेमडेसिवीर दवा का प्रयोग अमेरिका में कोरोना वायरस के इलाज के लिए काफी समय पहले से शुरू हो चूका था। इसके प्रयोग के नतीजे भी बेहद सकारात्मक रहे थे और इन्हीं नतीजों के आधार पर अमेरिकी ड्रग रेग्युलेटर ने रेमडेसिवीर दवा को कोरोना के खिलाफ इस्तेमाल के लिए पिछले मई माह में मंजूरी प्रदान करी थी। अब तक दुनियाभर में 1 करोड़ से भी अधिक लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं और करीब 5 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।

अब तक हो चुके कोरोना वायरस की दवा बनाने के दावे 

अमेरिका में उम्मीद की किरण बनी रेमडेसिवीर (Remdesivir) दवा इलाज के लिए मिली मंजूरी।

जल्द खत्म हो सकता है कोरोना, इजरायल के बाद इटली ने किया कोरोना वायरस वैक्सीन बनाने का दावा।

इजरायल का दावा! बन गयी कोरोना वैक्‍सीन जल्द ही खत्म होगा कोरोना वायरस।

ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के अनुसार कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए लाइफलाइन है डेक्सामेथासोन दवा।

कैसे कोरोना संक्रमितों मरीजों के लिए लाइफलाइन बन रही है डेक्सामेथासोन दवा? जानिए इसके बारे में सबकुछ।

भारत में बनी ग्लेनमार्क की फेविपिरविर दवा फैबिफ्लू को DGCI ने दी कोविड-19 के उपचार के लिए मंजूरी।

देश में पिछले 2 दिन के अंदर तीन कंपनियों को मिली कोरोना दवा निर्माण के लिए DCGI की मंजूरी।

पतंजलि ने बनाई कोरोना वायरस की दवा ‘दिव्य कोरोनिल टैबलेट’, जाने इसके बारे में सब कुछ।

बाबा रामदेव ने लॉन्च की कोरोनिल, जानें कहाँ से खरीद सकते हैं आप और क्या है इसकी कीमत ?

ऐसी महत्पूर्ण खबरों को अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ शेयर करना ना भूलें। 

ऐसी महत्पूर्ण खबरों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT