WHO ने बताये कोरोना वायरस को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल
TRENDING
  • 11:27 PM » जिद्दी खांसी दूर करने के घरेलू नुस्खे (Ziddi khansi ka ilaj) – Home remedies for cough in hindi.
  • 10:36 PM » निमोनिया में क्या खाना चाहिए (Nimoniya me kya khana chahiye) – What to eat in pneumonia in hindi.
  • 7:13 PM » बालों को लम्बा करने के तरीके (Balo ko lamba karne ka tarika) – Hair Growth Tips in Hindi.
  • 2:18 PM » जानिये क्या है म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस जिसने कोरोना के बाद बड़ाई मुसीबतें।
  • 7:57 PM » चेहरे पर बर्फ लगाने के फायदे (Chehre par barf lagane ke fayde) – Ice therapy for face in hindi.

कोरोना वायरस के संक्रमण से इस समय सम्पूर्ण विश्व जूझ रहा है। चीन से फैलना शुरू हुआ यह वायरस अब तक विश्व भर में तकरीबन 3 लाख से अधिक लोगों को संक्रमित कर चुका है। वायरस के कारण अब तक तकरीबन 15 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 1 लाख लोग वायरस से संक्रमित होने के बाद रिकवर कर चुके हैं। चीन की बात करें तो काफी हद तक वायरस को कंट्रोल में कर लिया गया है। वहीं स्पेन और इटली में स्थिति भयावह बनी हुए है। कोरोना वायरस के चलते हर किसी के मन में खौफ स्पष्ट रूप से देखा जा रहा है। कोरोना वायरस को लेकर कई तरह के सवाल भी पूछे जा रहे हैं जिनके बारे में हाल ही में WHO ने भी अपनी गाइड लाइन जारी की है। आईये जानते हैं क्या हैं कोरोना वायरस को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल।

 कोरोना वायरस पूछे सवाल

courtesy google

कोरोना वायरस को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल – Frequency ask questions about coronavirus in hindi

क्या है कोरोना वायरस – What is coronavirus

कोरोना वायरस को लेकर सबसे अधिक पूछा जाने वाला सवाल यह है कि कोरोना वायरस क्या है। कोरोना वायरस, वायरस परिवार का एक हिस्सा है जो कि जानवरों या मनुष्यों में बीमारी का कारण बन सकता है। मनुष्यों में, वायरस के कारण सामान्य सर्दी से लेकर अधिक गंभीर बीमारियों जैसे मिडिल ईस्ट रेस्पिरेट्री सिंड्रोम (MERS) और सीवियर एक्यूट रेस्पिरेट्री सिंड्रोम (SARS) के कारण श्वसन संक्रमण का कारण हो सकता है। हाल ही में खोजा गया यह वायरस एकदम नया है, इसे COVID-19 के नाम से भी जाना जाता है।

क्या है COVID-19 – What is COVID-19

COVID-19 हाल ही में खोजे गए कोरोना वायरस के कारण होने वाला संक्रामक रोग है। यह नया वायरस और बीमारी दिसंबर 2019 में चीन के वुहान प्रान्त में फैलने से पहले अज्ञात थी।

COVID-19 के लक्षण क्या हैं – What are the symptoms of COVID-19

कोरोना वायरस को लेकर यह सवाल भी बहुत बार पूछा गया है। WHO के मुताबिक इसके सबसे आम लक्षण बुखार, थकान और सूखी खांसी हैं। कुछ रोगियों में दर्द, बंद नाक, नाक बहना, गले में खराश या दस्त हो सकता है। ये लक्षण आमतौर पर हल्के होते हैं और धीरे-धीरे शुरू होते हैं। ये लक्षण आमतौर पर हल्के होते हैं और धीरे-धीरे शुरू होते हैं। WHO ने बताया कि कुछ लोग संक्रमित हो जाते हैं लेकिन कुछ लोग लक्षण विकसित नहीं कर पाते और अस्वस्थ महसूस नहीं करते। वायरस से ग्रसित 80% लोग बिना कोई खास ट्रीटमेंट लिए ठीक हो जाते हैं, जबकि COVID-19 से संक्रमित प्रत्येक 6 में से लगभग 1 व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार हो जाता है और उसे सांस लेने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। इनमें से अधिकतर संख्या ऐसे बुजुर्ग व्यक्तियों की है, जिन्हें पहले से हाई ब्लडप्रेशर, हृदय संबंधी रोग, डायबिटीज़ जैसी परेशानियां हों। ऐसे लोगों को इससे गंभीर रूप ख़तरा होता है। बुखार, खांसी और सांस लेने में कठिनाई होने वाले लोगों को तुरंत डाक्टर से ट्रीटमेंट लेना चाहिए।

कोरोना वायरस COVID-19 से बचने के लिए घर पर होममेड सैनिटाइजर कैसे बनाएं ?

COVID-19 कैसे फैलता है – How does coronavirus spread

कोरोना वायरस को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल में एक सवाल यह भी है। आपको बता दें कि यह बीमारी COVID-19 संक्रमित व्यक्ति के खांसने और साँस छोड़ने के दौरान उसके नाक या मुंह से छोटी बूंदों के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकती है। जब संक्रमित व्यक्ति खांसता और छींकता है तो वायरस 1 मीटर या 3 फीट की दूरी तक हवा की बूंदों में तैरते हुए आगे बढ़ता है। इसलिए संक्रमित व्यक्ति से दूर रहने की सलाह दी जाती है।

मैं खुद को COVID-19 से बचाने के लिए क्या कर सकता हूं – What can i do to protect myself from coronavirus

कोरोना वायरस को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल में एक सवाल यह भी है। आपको बता दें कि WHO के मुताबिक हम कुछ साधारण सावधानियां बरतकर COVID -19 से संक्रमित होने या फैलने की संभावनाओं को कम कर सकते हैं।

*अपने हाथों को अल्कोहल-आधारित सेनिटाइजर से नियमित रूप से और अच्छी तरह से साफ करें इसके अलावा हाथों को साबुन और पानी से धोते रहें।

* अपने हाथों को साबुन और पानी से धोना या फिर अल्कोहल-आधारित सेनिटाइजर हाथ पर रगड़ना उन वायरस को मारता है जो आपके हाथों पर हो सकते हैं।

* खांसने और छींकने वाले व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर या 3 फीट की दूरी बनाये रखें क्योंकि यह वायरस हवा की बूंदों में तैरते हुए आगे बढ़ता है। इसलिए खांसने और छींकने वाले व्यक्ति से दूर रहने की सलाह दी जाती है।

जानिए क्या करता है COVID-19 कोरोना वायरस आपके शरीर में प्रवेश करने के बाद।

* आँख, नाक और मुंह को छूने से बचें ऐसा इसलिए क्योंकि आपके हाथ कई वस्तुओं को छूते हैं जिस कारण ये वायरस संक्रमित हो सकते हैं । एक बार संक्रमित होने पर, आपके हाथ वायरस को आपकी आंखों, नाक या मुंह में पहुँचा सकते हैं। वहां से, वायरस आपके शरीर में प्रवेश कर सकता है और आपको बीमार कर सकता है।

* सुनिश्चित करें कि आप और आपके आस-पास के लोग स्वच्छता नियमों का पालन करें। इसका मतलब है खांसी या छींक आने पर अपनी कोहनी पर छीकें और खांसे या फिर टिशू से अपने मुंह और नाक को ढंक कर छीकें और खांसे और इसके बाद टिशू को डस्टबिन में डालें।

* यदि आप अस्वस्थ महसूस करते हैं तो घर पर रहें। यदि आपको बुखार, खांसी और सांस लेने में कठिनाई है, तो तत्काल प्रभाव से चिकित्सा लेना शुरू करें। अपने नज़दीकी स्वास्थ्य केंद्र में सम्पर्क करें। ऐसा करना आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प साबित होता है। आपके नज़दीकी स्वास्थ्य सुविधा देने वाले केंद्र ही आपको सही सलाह दे सकते हैं।

* अपने आस पास की ऐसी सभी जगहों में जाने से बचें जहाँ कोरोना वायरस तेजी से फ़ैल रहा हो। यदि आप बुजुर्ग व्यक्ति हैं और पहले से किसी बीमारी के शिकार हैं तो ऐसी जगहों में बिलकुल भी न जाएँ।

क्या वाकई मास्क पहन कर कोरोना वायरस से बचा जा सकता है?

मुझे कोरोना वायरस कैसे हो सकता है – How likely am I to catch COVID-19

COVID-19 से संक्रमित हो जाने की संभावना इस बात पर निर्भर करती है कि आप कहां हैं और वहां कोई COVID-19 का प्रकोप का स्तर क्या चल रहा है। हालाँकि कई जगहों पर अभी कोरोना वायरस का स्तर बेहद कम है इसलिए संक्रमण का रिस्क भी कम है। इसके विपरीत दुनिया भर में कई ऐसे स्थान (शहर या क्षेत्र) हैं, जहां यह बीमारी तेजी से फैल रही है। इन क्षेत्रों में रहने वाले और यहाँ जाने वाले लोगों के लिए COVID-19 हो जाने का जोखिम अधिक होता है। हालाँकि सरकार और स्वास्थ्य अथॉरिटी ऐसी
परिस्थियों से निपटने के लिए गंभीर कदम उठा रही हैं। आप भी इन नियमों का पालन करें और सरकार का सहयोग करें। COVID-19 के प्रकोप को रोका जा सकता है और इसे फैलने से रोका जा सकता है, जैसा कि चीन और कुछ अन्य देशों ने कर दिखाया है।

क्या मुझे COVID-19 की चिंता करनी चाहिए – Should I worry about COVID-19

कोरोना वायरस को लेकर पूछे जाने वाले सवाल में यह सवाल भी अहम है। WHO के मुताबिक COVID-19 संक्रमण के कारण होने वाली बीमारी आम तौर पर हल्की होती है, खासकर बच्चों युवा और वयस्कों के लिए। हालांकि कुछ कारणों में यह गंभीर बीमारी का कारण बन सकता है। इससे संक्रमित हर 5 में से 1 व्यक्ति को अस्पताल में खास देखभाल की आवश्यकता होती है। इसलिए लोगों के लिए यह चिंता करना काफी सामान्य है कि COVID-19 का प्रकोप उन्हें और उनके प्रियजनों को कैसे प्रभावित करेगा। यहाँ ज़रुरी है साफ सफाई का ध्यान दें, बेवजह यात्रा करने से बचें, हाथ नियमित रूप से धोते रहें और पर्सनल हाइजीन पर ध्यान दें।

क्या एंटीबायोटिक्स COVID-19 को रोकने या उसका इलाज करने में कारगर हैं – Are antibiotics effective in preventing or treating COVID-19

कोरोना वायरस को लेकर पूछे जाने वाले सवाल में यह सवाल भी बेहद अहम है। WHO ने बताया कि एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं, वे केवल बैक्टीरिया के संक्रमण पर काम करते हैं। एंटीबायोटिक्स का उपयोग COVID-19 की रोकथाम या उपचार के साधन के रूप में नहीं किया जाना चाहिए।

WHO ने बताई कोरोना वायरस COVID-19 को लेकर फैल रहे मिथक (भ्रम) की सच्चाई।

क्या ऐसी कोई दवा या थैरेपी है जो COVID-19 को रोक या ठीक कर सकती है – Is there any drug or therapy that can prevent or cure COVID-19

कोरोना वायरस को लेकर यह सवाल भी कई लोगों द्वारा पूछा गया। आपको बता दें कि WHO ने COVID-19 की रोकथाम या इलाज के रूप में एंटीबायोटिक दवाओं सहित किसी भी अन्य दवा को रिकमंड नहीं किया है। हालाँकी कुछ पश्चिमी, पारंपरिक और घरेलू उपचार COVID-19 के लक्षणों को कम कर सकते हैं, लेकिन इस बात का कोई सबूत नहीं है कि यह दवा रोग को रोक सकती है या ठीक कर सकती है।

क्या COVID-19 के इलाज के लिए कोई वेक्सीन या दवा उपलब्ध है – Is there a vaccine, drug or treatment for COVID-19?

COVID-2019 को रोकने या इसका इलाज करने के लिए अभी तक कोई वेक्सीन और कोई विशेष एंटीवायरल दवा नहीं है। हालाँकि वेक्सीन और दवा बनाने पर लगातार शोध चल रहें हैं। जब तक कोई वेक्सीन या दवा तैयार नहीं हो जाती, तब तक आप खुद से सावधानी बरतें।

क्या मुझे COVID-19 से बचाव के लिए मास्क पहनना चाहिए – Should I wear a mask to protect against COVID-19

कोरोना वायरस को लेकर अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल में एक अहम सवाल यह भी है। आपको बता दें कि यदि आप कोरोना वायरस के लक्षणों (विशेष रूप से खाँसी) के साथ बीमार हैं या किसी ऐसे व्यक्ति की देखभाल कर रहे हैं जो COVID -19 संक्रमित हो तो मास्क अवश्य पहनें। यदि आप डिस्पोजेबल फेस मास्क का उपयोग कर रहें तो, ये बात अवश्य ध्यान में रखें कि इसका प्रयोग केवल एक बार किया जा सकता है। यदि आप संक्रमित नहीं हैं या आपके छेत्र में संक्रमण बहुत माइनर लेवल पर है तो बेवजह मास्क का उपयोग करने से बचें। आपको बता दें कि दुनिया भर में इस समय मास्क की कमी होने के कारण जरूरतमंद लोगों को भी मास्क नहीं मिल पा रहा है।

(COVID-19 कोरोना) इम्यून सिस्टम मजबूत करने के लिए करें इन खाद्य पदर्थों का सेवन।

कोरोना वायरस का इनक्यूबेशन पीरियड क्या है – What is the incubation period of coronavirus

इनक्यूबेशन पीरियड का मतलब होता है कि वायरस से संक्रमित होने और बीमारी के लक्षणों की शुरुआत के बीच लगने वाला समय। COVID-19 के लिए इनक्यूबेशन पीरियड का अधिकांश अनुमान 1-14 दिनों से लेकर होता है, आमतौर पर लगभग पाँच दिनों में लक्षण दिखने लगते हैं।

क्या मनुष्य को किसी जानवर से COVID -19 हो सकता है – Can humans become infected with the COVID-19 from an animal source

कोरोना वायरस की कई प्रजातियां पायी जाती हैं जिनका जानवरों में पाया जाना बेहद आम बात है। कभी-कभी, लोग इन वायरस से संक्रमित हो जाते हैं जो बाद में अन्य लोगों में फैल सकता है। उदाहरण के लिए SARS-CoV सिवेट बिल्ली से जुड़ा था और MERS-CoV ड्रोमेडरी ऊंटों द्वारा फैला था। लेकिन अभी तक COVID-19 के संभावित पशु स्रोतों की पुष्टि नहीं हुई है। आप इस दौरान इसे बाजार जहाँ जानवरों की बिक्री होती है ऐसी जगह जाने से बचें। इसके अलावा जानवरों का कच्चा मांस खाना बंद, कच्चा दूध पीना बंद करें।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                           Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES

3 COMMENTS

  1. Avatar rang-tlic Reply

    межевание земельного участка
    Согласно статье 2 Инструкции процесс определения границ участка включает в себя: подготовку к проведению работ, которая заключается в изучении ранее оформленных технических документов, проверку на местности состояния специальных геодезических знаков и границ, которые они обозначают, разработку технических заданий на проведение межевания земли, информирование лиц, владеющих землей или использующих ее, о сроке проведения работ, сдачу установленных геодезических знаков опорных, принадлежащих к опорной межевой сети (пунктов ОМС), под наблюдение для обеспечения их сохранности, фиксация координат знаков, разграничивающих участки, определение площади надела и разработка его чертежа, контроль органами государственной власти за результатами кадастровых работ и сохранностью специальных знаков, разграничивающих территорию, оформление дела по определению границ выделяемой территории и составление плана.
    Если до марта 2018 года надел не пройдет процедуру определения его границ, и у него не будет официального собственника и кадастрового номера, то земля может быть присоединена к территориям, принадлежащим государству или органам местного самоуправления.
    межевание земельного участка
    Для чего нужно.
    межевание земельного участка
    Определение границ земли, принадлежащей одному собственнику, может потребоваться в случаях: Когда необходимо узаконить площадь земельного надела.
    В процессе его эксплуатации было возможно изменение размеров участка, в результате чего он стал больше или меньше.

LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: