ऑनलाइन ठगी! ई-कॉमर्स कम्पनी क्लब फैक्ट्री पर हुई एफआईआर दर्ज।
TRENDING
  • 10:07 PM » महात्मा गांधी पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on mahatma gandhi in hindi.
  • 8:00 PM » स्वामी विवेकानंद पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on vivekananda in hindi.
  • 9:15 PM » किसान पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on farmer in hindi.
  • 11:25 PM » डेंड्रफ क्या है? जानें डैंड्रफ होने के कारण – Dandruff hone ke karan.
  • 9:30 PM » मेरे देश पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on my country in hindi.

ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामलों में अब क्लब फैक्ट्री का नाम सामने आया है। लखनऊ निवासी आलोक कक्कड़ ने क्लब फैक्ट्री और उसके निदेशकों जियालुन ली, गर्वित अग्रवाल और सीएफओ अश्विनी रस्तोगी पर प्रसिद्ध ब्रांड्स के नकली सामान बेचने पर आईपीसी की धारा 420 और 406 के तहत धोखाधड़ी करने के मामले में एफआईआर दर्ज कराई है। शिकायतकर्ता आलोक कक्कड़ ने अपनी शिकायत लखनऊ के वजीराबाद पुलिस थाने में दर्ज कराई है। शिकायत में उन्होंने कहा है कि क्लब फैक्ट्री ने लोकप्रिय ब्रांडों पर भारी छूट का विज्ञापन देकर एक आपराधिक षड्यंत्र के तहत ग्राहकों को डुप्लीकेट प्रोडक्ट्स दिए हैं।

भेजा गया डुप्लिकेट सामान –

शिकायतकर्ता के अनुसार उन्होंने क्लब फैक्ट्री से टाइटन ब्रांड की घड़ी ऑनलाइन आडर की थी, जिस पर 86% की छूट थी और इसके साथ ही रे-बन ब्रांड के सनग्लासेज भी ऑर्डर किए थे, जिन पर 90 % की छूट दी गई थी। 25 नवंबर को उन्होंने अपना पार्सल रिसीव किया, जिसे खोलने पर उन्हें पता चला कि ऑर्डर किए गए दोनों उत्पाद नकली हैं। इसके बाद उन्होंने कंपनी द्वारा उपलब्ध कराए गए टोलफ्री नंबर पर संपर्क करने की कोशिश की। जिस पर कम्पनी द्वारा उन्हें कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिली। वहीं, क्लब फैक्ट्री की वेबसाइट पर सेलर का नाम महाकाल एंटरप्राइज और परफेक्ट टाइम्स दिया गया था। शिकायतकर्ता ने कंपनी को इन्वॉइस की एक प्रति के लिए ईमेल किया था, लेकिन उन्हें इन्वॉइस की वह प्रति नहीं दी गई।

वोग ब्यूटी अवॉर्ड्स (Vogue Beauty Awards 2019) देखें सितारों का जलवा।

पुलिस ने कहा मामले की जाँच चल रही है –

आलोक कक्कड़ ने अपनी शिकायत में कहा है कि क्लब फैक्ट्री ने उनके साथ मशहूर ब्रांडों का नकली माल भेजकर धोखाधड़ी की है। जब उन्होने कम्पनी के कस्टमर केयर से इस बारे में बात करनी चाही तो उन्होंने इस बारे में जानकारी देने से मना कर दिया। और उन्होंने अपनी शिकायत में यह भी बताया कि क्लब फैक्ट्री के टोलफ्री नंबर पर दोबारा बात करने पर उनके प्रतिनिधियों ने समस्या का समाधान करने के बजाय उन्हें धमकी दे दी। बहराल पुलिस ने शिकायतकर्ता को कंपनी से मिली आपराधिक धमकी से संबंधित आईपीसी की धारा 506 के तहत भी कंपनी के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है।

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                          Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT