नौकरी मिलने में हो रहा था विलम्ब, 19 वर्षीय शख्स ने खोल डाली नकली SBI ब्रांच.
TRENDING
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।
  • 11:53 PM » 10 lines on diwali in hindi : दिवाली पर 10 लाइन निबंध।

नकली नोट के बारे में तो आप अक्सर सुनते रहते हैं लेकिन क्या कभी आपने नकली बैंक के बारे में सुना, यदि नहीं तो अब सुन लीजिए। दरअसल तमिलनाडु के कडलूर जिले में एक 19 वर्षीय शख्स ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर नकली SBI बैंक की ब्रांच खोल डाली। मामला सामने आने पर पुलिस ने शख्स को उसके अन्य 3 साथियों के साथ गिफ्तार कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक शख्स ने कुछ समय पहले अपने पिता की मौत के बाद बैंक में नौकरी के लिए आवेदन किया था। लेकिन लम्बे विलम्ब के कारण 19 वर्षीय शख्स ने अपनी खुद की नकली SBI बैंक की ब्रांच खोल डाली। बता दें कि शख्स के पिता भी बैंक में नौकरी करते थे। जिस कारण उसका बैंक में अक्सर आना-जाना लगा रहता था।

हूबहू असली SBI को किया कॉपी
19 वर्षीय शख्स ने नकली SBI बैंक की ब्रांच खोलते समय इस बात का विशेष ध्यान रखा कि इसका लुक देखने में एकदम असली SBI की तरह लगे। इतना ही नहीं शख्स ने बैंक के अंदर के डिजाइन और बैंक में मौजूद सुविधाएँ जैसे लॉकर, चैकबुक, कैश डिपाॅजिट चालान, रबर स्टैंप, करेंसी काउंटर मशीन, कंप्यूटर से लेकर प्रिंटर आदि का भी विशेष ध्यान रखा था। रिपोर्ट के मुताबिक शख्स SBI की इस नकली ब्रांच को अपने अन्य तीन साथियों के साथ मिलकर पिछले 3 महीने से चला रहा था।

कैसे हुआ खुलासा
दरअसल यह पूरा मामला तब सामने आया जब एक ग्राहक को इस फर्जी ब्रांच से मिली पर्ची में कुछ गड़बड़ी की आशंका लगी तो वह मिलान करते हेतु उसे वहां मौजूद SBI की मेन ब्रांच में ले गया। जब बैंक मैनेजर ने पर्ची पर पड़ा हुआ बैंक का नाम देखा तो उनके होश उड़ गए। दरअसल बैंक मैनेजर के मुताबिक शहर में सिर्फ दो ही सभी की ब्रांच मौजूद थी। ये तीसरी नई ब्रांच को देख उनके होश उड़ गए। इसके बाद बैंक मैनेजर ने खुद जाकर उस जगह का मुआयना किया। जिसके बाद नकली SBI की ब्रांच का भांड फोड़ हुआ।

आरोपी और उसके तीनो साथी हुए गिरफ्तार
बैंक मैनेजर द्वारा पुलिस को सुचना देने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मास्टरमाइंड 19 वर्षीय कमल बाबू, 52 वर्षीय रबर स्टैंप वेंडर एम मणिकम और 42 वर्षीय प्रिंटिंग प्रेस संचालक ए कुमार काे गिरफतार कर लिया है। पूछताछ में पता चला कि इन लोगों ने अप्रैल 2020 में ही इस नकली SBI ब्रांच को खोला था। इसके अलावा पुलिस ने वहां मौजूद सभी सामान को भी कब्जे में ले लिया। हालांकि पुलिस के मुताबिक अभी तक इस मामले में किसी प्रकार की ठगी या किसी के आर्थिक नुकसान की खबर सामने नहीं आयी है।

72 वर्षीय बुजुर्ग को मोबाइल में गेम खेलने ऐसा लगा चस्का, साइकिल में लगवा डाले 64 स्मार्टफोन।

शादी के एक दशक बाद महिला निकली पुरुष! तनाव ग्रस्त हुए पति-पत्नी, ऐसे हुआ खुलासा।

ऐसी रोचक खबरों को अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ शेयर करना ना भूलें। 

ऐसी रोचक खबरों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT