क्या है म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस जिसने कोरोना के बाद बड़ाई मुसीबतें।
TRENDING
  • 11:06 PM » तरबूज खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं खाएंगे धोखा।
  • 10:20 PM » Causes of bad breath in hindi : मुँह से बदबू आने के कारण।
  • 10:15 PM » Balon ke liye til ke tel ke fayde : बालों पर तिल के तेल का इस्तेमाल करने से मिलने वाले फायदे।
  • 10:43 PM » Hibiscus for hair in hindi : बालों के लिए गुड़हल के फूल के फायदे।
  • 11:14 PM » Jeera pani pine ke fayde : जीरे के पानी के फायदे।

Black fungus in hindi…देश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच म्यूकॉरमाइकोसिस (Mucormycosis in hindi) नामक एक और नई समस्या आ खड़ी हुई है। म्यूकॉरमाइकोसिस को ब्लैक फंगस के नाम से भी जाना जाता है। बीते कुछ दिनों में देश की राजधानी दिल्ली समेत कई अन्य हिस्सों में ब्लैक फंगस के केस सामने आए हैं। यह एक प्रकार का दुलर्भ संक्रमण है जो संक्रमित मरीजों की आंखों को निशाना बना रहा है। ऐसा देखा गया है कि म्यूकॉरमाइकोसिस (Mucormycosis in hindi) कुछ मरीजों में कोरोना संक्रमण के दौरान और कुछ में संक्रमण सही होने के बाद फ़ैल रहा है। पिछले वर्ष दिसंबर माह में भी देश के कई हिस्सों में ब्लैक फंगस के केस सामने आए थे। लेकिन तब उनकी तादाद बहुत काम थी। अब तक ब्लैक फंगस (Black fungus in hindi) से संक्रमित कई व्यक्तियों को अपनी आखें गंवानी पड़ी है। वहीं कुछ लोगों के लिए यह जानलेवा साबित हो रहा है।

म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस
courtesy google

क्या है म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस? What is Black Fungus infection in hindi

सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक ब्लैक फंगस एक बेहद दुर्लभ संक्रमण है। यह एक प्रकार फंगल डिजीज है जो म्यूकर फंगस नामक फंगस से होती है। इस प्रकार का फंगस मिट्टी, पौधों, खाद, सड़े हुए फल और सब्ज़ियों में पनपता है।
ऐसा देखा गया है कि यह फंगस ऐसे लोगों को तेजी से अपना शिकार बना रहा है जो पहले से किसी बीमारी से ग्रस्त हों और दवाइयां ले रहे हों जो शरीर की इम्यूनिटी पावर को कम करती हों या शरीर के दूसरी बीमारियों से लड़ने की ताकत कम करती हों। यह फंगस साइनस, आंख, दिमाग़ और फेफड़ों को सबसे ज्यादा नुकसान पहुँचाती है।

शरीर में कैसे पहुंचता है म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस?

ब्लैक फंगस (Black fungus in hindi) शरीर में साँस के जरिए पहुँचता है। यह फंगस हवा, मिट्टी, पोंधे, खाद, और सड़े हुए फल में मौजूद होता है। श्वसन मार्ग द्वारा ये शरीर में प्रवेश करता है और यहाँ बलगम से मिलकर शरीर के विभिन्न हिस्सों को संक्रमित करता है। यदि शुरुआती दौर में इसका ट्रीटमेंट नहीं किया गया तो यह विकराल रूप ले सकता है और कई मामलों में व्यक्ति की जान तक जा सकती है।

सरकार ने जारी किया पोस्ट कोविड डाइट प्लान नाम दिया “फाइव स्‍टेप मील प्लान”।

किन लोगों को है म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस से अधिक खतरा?

ICMR के मुताबिक मौजूदा समय में ब्लैक फंगस (Black fungus in hindi) का सबसे अधिक खतरा कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों में देखने को मिल रहा है। ऐसा देखा गया है कि कोरोना के इलाज में स्टेरॉइड्स का जरूरत से अधिक इस्तेमाल इम्यूनिटी कमजोर कर रहा है और लोग म्यूकॉरमाइकोसिस (Mucormycosis in hindi) की चपेट में आ रहे हैं। कोविड के साथ जिन लोगों को डायबटीज, कैंसर, एड्स जैसी अन्य कोई अन्य गंभीर है उन्हें इस फंगल से सबसे अधिक खतरा है।

म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस के लक्षण – Symptoms of black fungus in hindi

  • नाक के अंदर ड्राइनेस होना
  • नाक बंद होना
  • नाक या मुंह के ऊपरी हिस्से पर काले निशान
  • आंखों में सूजन आना
  • आंखों का लाल हो जाना
  • उल्टी
  • बुखार
  • सीने में दर्द
  • सिर दर्द
  • साइनस कंजेशन
  • पलकों का गिरना
  • धुंधला दिखना
  • साँस लेने में तकलीफ

कोरोना संक्रमित होने के बावजूद कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने पर इन बातों का रखें ध्यान।

म्यूकॉरमाइकोसिस ब्लैक फंगस से कैसे बचा जाए?

ICMR के मुताबिक म्यूकॉरमाइकोसिस (Mucormycosis in hindi) से बचने के लिए धूल, मिट्टी और दूषित जगहों पर जाने से पहले मास्क अवश्य लगाएं। शरीर को पूरी तरह ढकने वाले कपड़े पहनें, मिट्टी या खाद का काम करने से पहले हाथों में ग्लव्स पहनें और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT