डेंगू की बीमारी में क्या खाना चाहिए : Dengue Me Kya Khana Chahiye?
TRENDING
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।
  • 11:53 PM » 10 lines on diwali in hindi : दिवाली पर 10 लाइन निबंध।

Dengue me kya khana chahiye…डेंगू की बीमारी में फ़ास्ट रिकवरी के लिए दवाइयों के साथ-साथ खाना पान का विशेष ध्यान रखना होता है। डेंगू एक मच्छर जनित बीमारी है जिसका मुख्य वाहक ‘एडीज़ एजिप्टी’ प्रजाति का मच्छर है। गर्मियों की शुरुआत और बरसात के सीजन में इस बीमारी के अधिक फैलने की संभावना बनी रहती है। इसलिए यह बहुत जरूरी हो जाता है कि आप अपने आस-पास के क्षेत्र को साफ़ रखें। घर में कहीं पर भी पानी जमा न होने दें। कूलर के पानी को समय-समय पर बदलते रहें और इसकी सफाई का विशेष ध्यान दें। आपकी थोड़ी सी सतर्कता, डेंगू की बीमारी से आपको दूर रखने में मदद करती है। डेंगू एक ऐसी बीमारी है जिसमे व्यक्ति को मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों में दर्द, सिर दर्द, आंखों में दर्द, उल्टी और बुखार जैसे लक्षण नजर आते हैं। डेंगू से पीड़ित व्यक्ति के शरीर में प्लेटलेट्स तेजी से कम होने लगती हैं जिस कारण व्यक्ति अत्यधिक कमजोरी का अनुभव करने लगता है। यही कारण है, डेंगू की बीमारी में दवाइयों के साथ-साथ खान पान का भी विशेष ध्यान रखना पड़ता है। आईये जानते हैं डेंगू की बीमारी में क्या खाना चाहिए (Dengue me kya khana chahiye) और क्या नहीं।

डेंगू की बीमारी में
courtesy google

डेंगू की बीमारी में क्या खाना चाहिए (Dengue me kya khana chahiye) – dengue diet chart in hindi.

डेंगू में पिएं पपीते के पत्ते और गिलोय का रस –

डेंगू एक ऐसी बीमारी है जिसमे प्लेटलेट्स तेजी से गिरने लगते हैं। ऐसे में आपको प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए पपीते के पत्ते का रस निकाल कर पीना चाहिए। इसके रस में ऐसे एंजाइम मौजूद होते हैं जो डाइजेशन प्रकिया को बूस्ट करने में सहयोग करते हैं। साथ ही इसकी पत्तियां विटामिन-सी और एंटीऑक्सिडेंट का अच्छा स्रोत मानी जाती हैं। पपीते के ताजे पत्तों को गिलोय के साथ पीस कर रस निकालें और डेंगू के दौरान दिन में तीन बार इस रस का सेवन करें। आपकी प्लेटलेट तेजी से बढ़ने लगेंगी।

डेंगू में पिएं वेजिटेबल जूस –

डेंगू की बीमारी के दौरान शरीर को जरूरी ऊर्जा देने और पोषक तत्वों की पूर्ति करने के लिए ताजी सब्जियों से बने “वेजिटेबल जूस” का सेवन जरूर करें। इस प्रकार का जूस कई सारे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसका सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और डाइजेशन को दुरुस्त करने का काम करता है। इस प्रकार के जूस को हमेशा ताजा पीना चाहिए।