इन तरीकों से करें बाहर निकले दांतों का इलाज : Dant Andar Karne Ka Tarika.
TRENDING
  • 6:44 PM » शिक्षक दिवस पर 10 लाइन निबंध : 10 lines on teachers day in hindi.
  • 11:11 PM » गाड़ियों में सनरूफ क्यों दिया क्यों दिया जाता है – Sunroof uses in car in hindi.
  • 10:30 PM » मानसून के मौसम में खान-पान का रखें विशेष ध्यान करें इन्हें खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल.
  • 9:41 PM » घर पर फेस सीरम को बनाने की विधि – Homemade face serum in hindi.
  • 9:43 PM » ऑलिव ऑयल कितने प्रकार का होता है – Types of olive oil in hindi.

Dant andar karne ka tarika…क्या आप बाहर निकले दांतों का इलाज करवाने की सोच रहे हैं? यदि हाँ तो आपके लिए यह आर्टिकल बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है। दांतों को अंदर करने के लिए मेडिकल जगत में सर्जरी से लेकर, वायब्रेटर और लेजर जैसे कई अन्य विकल्प उपलब्ध हैं। इसके अलावा दांतों को अंदर करने के लिए आप कुछ आसान एवं कारगर घरेलू नुस्खों को भी अपना सकते हैं। ये आपकी इच्छा के ऊपर है कि बाहर निकले दांतों का इलाज आप किस तरह से करवाना चाहते हैं। यदि आपको बहुत जल्दी दांतों को अंदर करवाना है तो नजदीकी दंत-चिकित्सक से मिलें। आईये जानते हैं टेड़े-मेढे और बाहर निकले दांतों को अंदर करने के (Dant andar karne ka tarika) कुछ घरेलू और चिकित्सीय उपाय।

बाहर निकले दांतों का इलाज
courtesy google

इन तरीकों से करें बाहर निकले दांतों का इलाज – Dant andar karne ka tarika.

चिकित्सीय तरीकों से करें बाहर निकले दांतों का इलाज –

ब्रेसेज लगवा कर –

यह टेड़े मेढे और बहार निकलने दांतो को अंदर करने के लिए अपनाये जाने वाला सबसे कॉमन और लोकप्रिय तरीका है। इसे आप किसी भी उम्र में लगवा सकते हैं। हालाँकि इस तरीके से दांतों को सीधा होने में एक से दो साल का लम्बा समय लग सकता है। इसमें आपके दांतों में तार लगाया जाती है जो दांतों पर हल्का-हल्का दवाब बनाकर उन्हें सीधा करने और अंदर की तरफ लाने का काम करते हैं। हालाँकि इस तकनीक को यदि किशोरावस्था में किया जाए तो इसके परिणाम बहुत जल्दी देखने को मिल सकते हैं।

इनविजिबल प्लेट –

दांतों को अंदर करवाने के लिए आप इनविजिबल प्लेट भी लगवा सकते हैं। इन्हें ब्रेसेज की तरह दांतों पर लगाया जाता है और इनका परिणाम भी बहुत कारगर देखने को मिलता है। हालाँकि यह बेहद एक्सपेंसिव होती हैं, इसलिए अधिकतर लोग इन्हें लगवाने से बचते हैं। इन्हें लगवाने में तीन से पांच लाख तक का खर्च आ सकता है।

लेजर और वायब्रेटर ट्रीटमेंट –

टेड़े मेढे दांतों को सही करने के लिए लेजर ट्रीटमेंट का प्रयोग भी किया जा सकता है। यह दांतों को जड़ों की पोजिशन ठीक करता है। यह काफी समय बचाव तकनीक है मात्र एक हफ्ते के अंदर इसमें दांत सीधे किए जा सकते हैं। वहीं वायब्रेटर ट्रीटमेंट की बात करें तो इसमें दांतों के आर्च में यू-शेप का वायब्रेटर डाला जाता है। जिससे दांतों का मूवमेंट 30 से 50 प्रतिशत तक तेज हो जाता है। इसे करवाने में लगभग 20 मिनट का समय लगता है।

पायरिया को कर दें जड़ से खत्म! बहुत काम के हैं ये घरेलु टिप्स। आज ही अपनाएं।

घरेलू तरीकों से करें बाहर निकले दांतों का इलाज – Dant andar karne ka tarika.

जीभ से दांतो पर दबाव डालकर –

इस तरीके से दांतों को अंदर करने के लिए रोजाना सुबह उठने के बाद कुछ देर तक अपनी जीभ से दांतो पर दबाव डालकर उन्हें अंदर की तरफ करने की कोशिश करें।

ऊँगली से दांतो पर दबाव डालकर –

इसे करने के लिए रोजाना सुबह उठ कर अपनी उंगलियों से दांतों को सीधा और अंदर करने के लिए इन पर पांच से दस मिनट तक लगातार दबाव डालें।

दांत अंदर करने का तरीका : Dant Andar Karne Ke Gharelu Nuskhe.

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT