ब्रिटेन: रिसर्च में दावा कोरोना के इलाज में कारगर डेक्सामेथासोन दवा .
TRENDING
  • 11:06 PM » तरबूज खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान नहीं खाएंगे धोखा।
  • 10:20 PM » Causes of bad breath in hindi : मुँह से बदबू आने के कारण।
  • 10:15 PM » Balon ke liye til ke tel ke fayde : बालों पर तिल के तेल का इस्तेमाल करने से मिलने वाले फायदे।
  • 10:43 PM » Hibiscus for hair in hindi : बालों के लिए गुड़हल के फूल के फायदे।
  • 11:14 PM » Jeera pani pine ke fayde : जीरे के पानी के फायदे।

कोरोना वैक्सीन को लेकर इस समय ब्रिटेन से बड़ी खबर सामने आ रही है। ब्रिटेन में कोरोना संक्रमित मरीजों पर डेक्सामेथासोन (Dexamethasone) नामक जेनेरिक स्टेराइड के इस्तेमाल से क्रिटिकल हालत में पहुंच चुके मरीजों की मृत्यु दर में एक तिहाई तक की कमी आयी है। ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी तरफ से डेक्सामेथासोन (Dexamethasone) दवा को लेकर सामने आये इन तथ्यों को कोरोना वायरस के खिलाफ मिली एक बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है। ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा किये गए डेक्सामेथासोन दवा के क्लिनिकल ट्रायल को रिकवरी (RECOVERY) नाम दिया गया है।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई इस रिसर्च के नतीजे मंगलवार को जारी किये गए। स्टडी के मुताबिक शोधकर्ताओं ने 2,104 कोरोना संक्रमित मरीजों पर इस दवा का रिसर्च किया और इनकी तुलना 4,321 दूसरे ऐसे कोरोना संक्रमितों मरीजों से करी, जिनका सामान्य रूप से इलाज किया जा रहा था। इस दवा के प्रयोग के बाद जो नतीजे निकल कर सामने आये वो बेहद उत्साहवर्धक रहे। शोधकर्ताओं के मुताबिक़ इस दौरान कोरोना के मरीजों में डेक्सामेथासोन दवा ओरल या नली के जरिए मरीजों के शरीर में पहुंचाई गई। ऐसे मरीज जिनकी हालत गंभीर होने के कारण वेंटीलेटर पर रखा गया था उनकी मृत्यु दर में 35 फीसदी तक की कमी आयी।

सस्ता और किफायती इलाज
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में चल रहे इस रिसर्च के क्‍लीनिकल ट्रायल हेड प्रोफेसर मार्टिन लैंड्रे के सहयोगी पीटर हॉर्बी के अनुसार “रिसर्च के दौरान साफ़ तौर पर यह देखा गया कि डेक्सामेथासोन दवा के प्रयोग के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों के बचने की दर में वृद्धि हुई है। बड़ी संख्या में ऐसे मरीज, जिन्हें अधिक ऑक्सीजन की जरूरत है, उनमें डेक्सामेथासोन दवा का असर देखा गया है। इस दवा की सबसे बड़ी खासियत यह है कि ये अरसदार होने के साथ अधिक महंगी भी नहीं है। जिस कारण वैश्विक स्तर पर लोगों की जान बचाने के लिए इसका प्रयोग किया जा सकता है।

अब तक ये देश कर चुके हैं कोरोना वायरस की दवा बनाने का दावा –

पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने किया कोरोना वायरस की दवा बनाने का दावा।

अमेरिका में उम्मीद की किरण बनी रेमडेसिवीर (Remdesivir) दवा इलाज के लिए मिली मंजूरी।

जल्द खत्म हो सकता है कोरोना, इजरायल के बाद इटली ने किया कोरोना वायरस वैक्सीन बनाने का दावा।

इजरायल का दावा! बन गयी कोरोना वैक्‍सीन जल्द ही खत्म होगा कोरोना वायरस।

ऐसी महत्पूर्ण खबरों को अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ शेयर करना ना भूलें। 

ऐसी महत्पूर्ण खबरों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT

%d bloggers like this: