चीन में कोरोना वायरस की दहशत, भारत समेत कई अन्य देशों में हाई अलर्ट।
TRENDING
  • 9:51 PM » वजन कम करने वाले फल – Best fruits for weight loss in hindi.
  • 10:31 PM » चंद्रशेखर आजाद पर 10 लाइन निबंध – 10 lines on chandrashekhar azad in hindi.
  • 9:30 PM » त्वचा के लिए नीम के फायदे – Neem benefits for skin in hindi.
  • 9:55 PM » घर से कीड़े-मकोड़ों को भागने के आसान घरेलू नुस्खे.
  • 11:18 PM » पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए करें इन ड्रिंक्स का सेवन।

कोरोना वायरस ने चीन समते कई अन्य देशो में भी दहशत का माहौल पैदा कर दिया है। चीन के आलावा अब तक 18 अन्य देशों में भी कोरोना वायरस के चलते दहशत का माहौल बना हुआ है। कोरोना वायरस की दहशत के चलते रूस, ब्रिटेन, जापान, अमेरिका, आस्ट्रेलिया और भारत समते कई अन्य देश चीन में फसे हुए अपने नागरिको को एयरलिफ्ट करवाने की मुहीम में जुट गए हैं तो कई देश अपने नागरिको को चीन से एयरलिफ्ट करवा चुके हैं।

हालत इतने बुरे हो चुके हैं की किसी भी देश का व्यक्ति वायरस से पीड़ित व्यक्ति के साथ उड़ान भरने को तैयार नहीं हो रहा। इसका ताजा मामला जापान में देखने को मिला जहां नागोया स्थित चुबु सेंट्रिर हवाई अड्डे पर कुछ लोगों ने वुहान निवासी 17 लोगों को मेडिकल स्टाफ के द्वारा वेक्सीन लगवाते देखा। विवाद के चलते उड़ान में 5 घंटे का लम्बा विलम्ब आया। वहीं श्रीलंका ने चीन में मौजूद अपने 204 छात्रों को वापस बुला लिया है और चीनी नागरिकों को अपने देश में वीजा ऑन अराइवल देने की सुविधा पर रोक लगा दी है।

भारत ने भी चीन में मौजूद भारतीय मूल के 300 लोगों, जिनमें भारतीय छात्र और अन्य लोग शामिल हैं। इन सभी को एयरलिफ्ट करवा के वापस लाने की योजना पर कार्य करना शुरू कर दिया है। भारतीय दूतावास के मुताबिक, इन सभी लोगों को एयरलिफ्ट करने के लिए मुंबई में एयर इंडिया के 423 सीटर बोईंग जम्बो प्लेन का इंतजाम कर लिया गया है।

इसके अलावा चीन से आने वाले सभी लगों की एयरपोर्ट पर थर्मल जाँच की जाएगी और उनको 14 दिन तक विशेष डॉक्टर्स की निगरानी में रखा जायेगा। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास ने वहाँ रह रहे सभी भारतियों को अपने पासपोर्ट जमा करने को कहा है। जिन लोगों का पासपोर्ट किसी कारणवस चीनी कम्पनी में जमा है वो इस बात की जानकारी दूतावास में दे सकते हैं।

क्या है नोवेल कोरोना (वुहान) वायरस, कितना है खतरनाक, क्या हैं इसके कारण व लक्षण।

कोरोना वायरस की दहशत के चलते ब्रिटेन के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि अपने देश के उन सभी नागरिकों की वापसी का पूरा इंतजाम किया जायेगा जो इस मुश्किल हालत में चीन में मौजूद हैं। वहीं अमेरिका ने अपने देशवासियों को चीन यात्रा करने से पहले अच्छी तरह सोच-विचार करने की सलाह दी है। इसके अलावा रूस ने भी चीन से लगी सभी सीमाएं सील करने का फैसला लिया है।

चीन के अलावा 18 अन्य देशो में कोरोना कोरोना वायरस का आतंक फैल चूका है। अभी तक की प्राप्त जानकारियों के मुताबिक थाईलैंड में 14, मकाउ में 5, हांगकांग में 8, आस्ट्रेलिया में 5, ताईवान में 5, मलेशिया में 4, ताईवान में 5, अमेरिका में 5, जापान में 4, कोरिया में 4, फ़्रांस में 3, कनाडा में 2, वियतनाम में 2, श्रीलंका में 1, नेपाल में 1, कंबोडिया में 1 और जर्मनी में भी 1 व्यक्ति पर कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं।

कोरोना वायरस के चलते चीन में अब तक 132 लोगों की मौत हो गई है और 4 हजार से अधिक लोग प्रभावित बताये जा रहे हैं। चीन में इस समय हालत इतने बुरे हो चुके हैं कि सिर्फ वुहान शहर ही नहीं बल्कि चीन के हर शहर से वायरस के आये दिन कोई ना कोई नया मामला समाने आ रहा है। चीन के स्वास्थ्य आयोग ने मंगलावर को रिपोर्ट जारी करते हुए बताया कि सोमवार तक कुल 4,515 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। जिनमें से 2,567 मरीज अस्पताल में ट्रीटमेंट जारी है और 563 की हालत गंभीर है तथा 127 की हालत नाजुक बनी हुई है।

सावधान! आपकी कार आपको कर सकती है बीमार जानिए कैसे?

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृप्या अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी रोचक जानकारिओं के लिए आज ही हमसे जुड़े :-                                                           Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT