सभी को जानने चाहिए, चलती कार में आग लगने के कारण और उनसे बचने के तरीके।
TRENDING
  • 11:25 PM » Pet mein jalan ka upay : पेट में जलन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय.
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।

आज के आधुनिक दौर में हर कोई अपना पर्सनल वाहन रखना पसंद करता है। इसमें कोई दोराय नहीं की ये वाहन आपकी यात्रा को सुगम बनाते हैं। लेकिन कोई भी वाहन रखने के साथ जरुरी है उसकी देख-रेख करना। आए दिन वाहन दुर्घटना से संबंधित कोई न कोई खबर सामने आते रहती है। इनमे से कई खबरें कार में आग लगने की भी होती हैं। चलती कार में आग लग जाने की घटना किसी बुरे सपने से कम नही होती। इस हादसे में कई लोग हर साल अपनी जान गवां देते हैं। लेकिन क्या आपने सोचा है, वे कौन से कारण होते हैं जिनके चलते चलती कार में आग लगने जैसी दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है। आज हम आपके लिए लेकर आए हैं ऐसे ही कुछ कारण जिनको नज़रअंदाज़ करने पर चलती कार में आग लगने की संभावना बनी रही है।

चलती कार में आग
courtesy google

चलती कार में आग लगने के कारण : Car fire causes and prevention

एक्सेसरीज के कारण लग सकती है आग –

कई बार आपकी कार में आग लगने का कारण इसमें बाहर से लगवाई गई एक्सेसरीज बनती है। मौजूदा समय में कार को आकर्षक बनाने के लिए बाजार में आपको कई तरह की एक्सेसरीज मिल जाएँगी। जिनमें अधिकतर चाइनीज बिना किसी गारंटी और वारंटी की होती हैं। लोग शौक के लिए इस प्रकार की कई एक्सेसरीज तो कार में लगवा लेते हैं लेकिन इनके खतरों से अनभिज्ञ रहते हैं। इनमें से अधिकतर एक्सेसरीज आपके कार के इंजन पावर पर सीधा असर डालती हैं और कई बार इनकी फिटिंग सही तरीके से न होने पर इनमे शार्ट-सर्किट होने का खतरा बना रहा है। यही सब कारण आपकी कार में आग लगने का कारण बनते हैं। कार में हमेशा ऑरिजनल वारंटी वाली एक्सेसरीज को ही लगवाना चाहिए। साथ ही आपको किसी एक्सपर्ट से यह भी सलाह लेनी चाहिए की उसे लगवाने से आपकी कार पर कोई विपरीत असर तो नहीं पड़ेगा।

CNG और LPG गैस किट वाली कारों में बढ़ जाता हैं खतरा –

महंगाई के इस दौर में पेट्रोल और डीजल कार से सफर करना आपकी जेब ढीली करने के लिए पर्याप्त होता है। ऐसे में लोग CNG और LPG गैस किट लगवाना सबसे अच्छा उपाय समझते हैं। CNG-LPG किट लगी कार माइलेज के मामले में भी पेट्रोल और डीजल कार से कई गुना आगे रहती है। लेकिन पैसे बचाने के चक्कर में बाहर से लगवाया गया सस्ता CNG-LPG किट कई बार चलती कार में आग लगने का कारण बनता है। सस्ते किट में हमेसा गैस लीकेज से जुडी समस्याएं देखने को मिलती हैं। इसलिए जब भी गैस किट लगवाएं किसी अच्छी कम्पनी का ही लगवाएं। बेहतर होगा आप उन गाड़ियों को खरीदें जिनमें कम्पनी फिटेड CNG-LPG गैस किट लगा होता है।

CNG-LPG किट वाली कारों को हादसों से बचाने के लिए इन जरूरी बातों का रखें ध्यान।

सर्विस न करवाना –

कई लोग कार की फ्री सर्विस खत्म हो जाने के बाद इतने अधिक लापरवाह हो जाते हैं कि फिर गाड़ी की सर्विस ही नहीं कराते। ऐसा करना कार की लॉन्ग टर्म लाइफ के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। सर्विस नहीं होने पर कार के अंदर चल रही परेशानी का आपको पता नहीं लगता और कब किसी गड़बड़ी के कारण चलती कार में आग लग जाए इसका कुछ पता नहीं होता। इसलिए कार की ऑथोराइज्ड सर्विस सेंटर से सर्विस करवाना बेहद जरूरी कदम है। पैसे बचाने के चक्कर में किसी सड़क किनारे मौजूद लोकल सर्विस सेंटर में जा कर सर्विसिंग का रिस्क तब तक नहीं लेना चाहिए, जब तब आपको ये पता नहीं हो कि यह सेंटर कुशल कारीगरों के साथ काम कर रहा है।

चलती कार में आग लगने से बचाव के उपाय –

कार में आग लगने से बचाव के उपाय में पहला कदम जो आपको उठाना चाहिए वो है अपनी कार में अग्नि रोधक यंत्र (fire extinguisher) को रखना। यदि किसी कारण वश आपकी कार में आग लग जाए तो आप इधर-उधर भागने की जगह अग्निशमन यंत्र का प्रयोग कर इस पर काबू पा सकते हैं। कार में हमेसा एक सीट बेल्ट कटर भी रखें। हादसे के समय कई दफा ऐसा होता है कि आप सीट बेल्ट में ही लॉक होकर रह जाते हैं। ऐसी परिस्थिति से बचने के लिए सीट बेल्ट कटर का कार में होना बहुत जरूरी होता है। इसके अलावा कार में बेवजह कि सस्ती चाइनीज और लोकल एक्सेसरीज लगवाने से बचें।

इन प्रकार कि गलतियाँ करने से बचें –

  • ड्राइविंग के दौरान चलती कार में आग लगने का एहसास जैसे ही आपको हो, तुरंत कार को रोड के किनारे खड़ा कर उससे उतर जाएँ। साथ ही कार में मौजूद अन्य सभी लोगों से भी उतरने को कहें।
  • कभी भी कार के अंदर बैठ कर आग बुझाने का रिस्क नहीं लेना चाहिए। इसमें आप बुरी तरह से जल सकते हैं या फिर आपकी जान तक जा सकती है।
  • कार में आग लगने पर कार का बोनट को न खोलें। इससे ऑक्सीजन मिलने के कारण वह पूरी कार में फ़ैल जाएगी।
  • हादसे की सूचना तुरंत दमकल विभाग को या फिर उस जगह की स्था