प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द क्यों होता है : Breast Tenderness Meaning In Hindi.
TRENDING
  • 11:25 PM » Pet mein jalan ka upay : पेट में जलन की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय.
  • 11:23 PM » 10 Lines on gandhi jayanti in Hindi : गाँधी जयंती पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:13 PM » प्रेगनेंसी टेस्ट के दौरान यदि पहली लाइन डार्क और दूसरी लाइन हल्की होने के कारण : Prega news me halki line ka matlab.
  • 11:54 PM » 10 lines on dussehra in hindi : दशहरे पर 10 लाइन निबंध।
  • 11:31 PM » Dry mouth home remedies in hindi : मुंह सूखने के घरेलू उपाय।

Breast tenderness meaning in hindi…प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में अनेक प्रकार के परिवर्तन होने लगते हैं। अगर आप पहली बार माँ बनने वाली हैं तो आपको शरीर में होने वाले ऐसे परिवर्तनों के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार रहना चाहिए। इन्हीं में से एक है प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द होना। अक्सर कई महिलाएं, खासकर जो पहली बार माँ बनने वाली हैं वो प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द की समस्या (Breast pain in pregnancy in hindi) को लेकर अधिक चिंतित हो जाती हैं। आपको बता दें यह एक बेहद सामान्य समस्या है इसलिए घबराएं नहीं और समय रहते अपने चिकित्सक को समस्या से अवगत कराएं। आपको बता दें कि प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द, शरीर में होने वाले हार्मोन बदलाव के कारण भी होता है। इसके अलावा कई अन्य कारण स्तन में दर्द पैदा कर सकते हैं। आइए जानते हैं प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द (Breast tenderness meaning in hindi) क्यों होता है?

प्रेगनेंसी में स्तन में दर्द क्यों होता है? Breast pain in pregnancy in hindi.

गर्भवस्था के दौरान ऐसे कई कारण है जो ब्रेस्ट में पेन का कारण (Breast tenderness meaning in hindi) बन सकते हैं। जैसा कि हमने आपको बताया, इस दौरान महिलाओं के शरीर में कई प्रकार के बदलाव होते हैं जिस कारण ब्रेस्ट पेन कि समस्या हो सकती है। इस दौरान महिलाओं के स्तन को दूध बनाने वाली कोशिकाएं को विकसित करना होता है। जिस कारण इनके आकार में वृद्धि होने के साथ ही साथ दर्द भी होने लगता है। साथ ही इस दौरान महिलाओं के हार्मोन में कई तरह के बदलाव होते है जो स्तनों में दर्द का कारण बनते हैं। इसके अलावा फाइब्रोसिस्टिक भी स्तनों में दर्द का कारण हो सकता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द
courtesy google

Breast pain in pregnancy in hindi : क्या प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द होना सामान्य है?

जी हाँ ऐसा होना बहुत सामान्य बात है। प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट सख्त होने लगती हैं, इनके आकर में परिवर्तन होने लगता है जिस कारण इनमें दर्द होना आम बात है। इस दौरान शरीर स्तनों को स्तनपान करवाने के लिए तैयार करता है जिस कारण आपको इनमें दर्द महसूस हो सकता है। साथ ही इनमें होने वाला हॉर्मोन का ‘सिक्रीशन’ भी दर्द का कारण बनता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द होने के लक्षण – Signs of breast pain in pregnancy in hindi.

स्तनों में भारीपन आना।
स्तनों के आकर में बदलाव होना।
स्तनों का संवेदनशील होना।
स्तनों में सूजन आना।
छूने पर दर्द महसूस होना।

प्रेग्नेंसी के दौरान इन तरीकों से करें स्टाइलिश कपड़ों का चयन और पाएं ग्लैमरस लुक।

प्रेगनेंसी में स्तन में दर्द होने के कारण : Breast tenderness meaning in hindi.

  • गर्भावस्था के दौरान स्तनों में दर्द का मुख्य कारण इस दौरान शरीर में ‘एस्ट्रजेन’ और ‘प्रोजेस्टरोन’ जैसे हॉर्मोन का स्तर बढ़ जाना है।
  • गर्भावस्था के दौरान स्तनों में ऐसी कोशिकाओं का निर्माण होने लगता है जो दूध बनाने के लिए जिम्मेदार होती हैं। यह स्तनों के भार को बढ़ाने का काम करती हैं। जिस कारण दर्द की समस्या देखी जाती है।

गर्भावस्था में स्तनों में दर्द कब होता है?: Pregnancy Me Breast Pain Kab Hota Hai.

  • गर्भधारण करने के कुछ समय बाद ही ब्रेस्ट पेन शुरू हो जाता है हालाँकि यह बहुत हल्का होता है।
  • प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में स्तनों में सूजन महसूस की जा सकती है।
  • दूसरी तिमाही में स्तनों का आकार बढ़ने लगता है और यह भारी होने लगते हैं। जिस कारण इनमें दर्द होने लगता है।
  • जब निपल्स से पीले रंग का कोलोस्ट्रम नामक पदार्थ उस समय आपको ब्रेस्ट पेन महसूस हो सकता है।
  • तीसरी तिमाही के दौरान ब्रेस्ट का आकर बढ़ने लगता है जिस कारण दर्द हो सकता है।

गर्भ में पल रहा बेबी लड़का है या लड़की (Garbh Me Ladka Hone Ke Lakshan) – Baby Boy Symptoms In Hindi.

गर्भावस्था के दौरान स्तनों में दर्द की समस्या को दूर करने के उपाय –

  • क्लिनिकल ब्रेस्ट चेकअप करवा कर।
  • मैमोग्राम (ब्रेस्ट का एक्स रे) करवा कर।
  • अल्ट्रासाउंड के माध्यम से भी ब्रेस्ट पेन की जाँच की जा सकती है।
  • ब्रेस्ट बायोप्सी करवा कर।

प्रेग्नेंसी के दौरान स्तन में दर्द की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय –

  • वसा युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें।
  • कैफीन युक्त खाद्य पदार्थों से दूरी बनाए।
  • पानी खूब पिएं।
  • ठंडे पानी से स्तन की सिकाई करें। आप चाहें तो गर्म पानी का उपयोग भी कर सकते हैं।
  • सोया प्रोडट्क्स को डाइट में शामिल करें।
  • पत्ता गोभी के छिलके को स्तन में रखें।
  • विटामिन ई युक्त खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल करें।

किस साइड होता है पेट में लड़का: Pet Me Ladka Kis Side Hota Hai?

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो कृपया अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ शेयर जरूर करें. 

ऐसी महत्पूर्ण जानकारियों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest