देश में पहली बार कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ 62,538 नए केस, 886 लोगों की मौत।
TRENDING
  • 11:36 PM » Essay on My School in Hindi : स्कूल पर निबंध लिखने का तरीका।
  • 6:57 PM » टंग ट्विस्टर चैलेंज : टंग ट्विस्टर क्या होते हैं? (Best tongue twisters in Hindi).
  • 11:41 PM » Facts About Jupiter In Hindi : बृहस्पति ग्रह से जुड़े रोचक तथ्य।
  • 10:19 PM » Aloe vera for dry scalp in hindi : ड्राई स्क्लेप पर एलोवेरा जेल कैसे लगाएं?
  • 10:52 PM » Facts about mercury planet in hindi : बुध ग्रह से जुड़े रोचक तथ्य।

कोरोना वायरस की रफ्तार भारत में कम होने का नाम ही नहीं ले रही। देश में पहली बार ऐसा हुआ है जब संक्रमितों की संख्या 60,000 के ऊपर पहुंच गई हो। स्वास्थ्य विभाग की और से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में पहली बार पिछले 24 घंटे के अंदर कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ 62,538 नए मामले सामने आए हैं। जिसमें से 886 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना के इन रिकॉर्ड तोड़ मामलों के साथ देश में अब कुल संक्रमितों की संख्या 20,27,074 के पार पहुंच गयी है। वहीं अब तक वायरस के चलते 41,585 लोगों की मौत हो चुकी है।

वहीं ठीक होने वाले मरीजों की बात करें तो पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 49,769 मरीज ठीक हुए। इन नए आंकड़ों के साथ देश में अब तक 13,78,105 लोग अब तक पूरी तरह से स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में रिकवरी रेट की बात करें तो मामूली वृद्धि के साथ यह अभी भी 67.98 फीसदी पर बना हुआ है। वहीं देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ 6,39,042 टेस्ट भी किये गए हैं। अब देश में कुल टेस्टों की संख्या बढ़कर 2,27,24,134 हो गई है।

20 लाख का बड़ा नंबर छूने के बाद भारत विश्व का तीसरा ऐसा देश बन गया हैं जहाँ अब तक 20 लाख से अधिक केस सामने आ चुके हैं। विश्व स्तर की बात करें तो अमेरिका अभी भी 5,032,179 केस के साथ नंबर 1 के पायदान पर बना हुआ है। अमेरिका के बाद ब्राजील दूसरा ऐसा देश है जहाँ अब तक 2,917,562 लोग वायरस से संक्रमति हो चुके हैं। वहीं 2,027,074 केस के साथ भारत अभी भी विश्व स्तर पर तीसरे पायदान पर बना हुआ है।

देश में कोरोना की रफ्तार की बात करें तो 10 लाख से 20 लाख केस पहुंचने में मात्र 21 दिन का समय लगा। देश में 17 जुलाई को संक्रमितों की संख्या 10 लाख से अधिक हुई थी। वहीं इससे पहले 50,000 से 1,00,000 मामले होने में 12 दिन, 1,00,000 से 2,00,000 होने में 15 दिन और 2,00,000 से 4,00,000 पहुंचने में 18 दिन लगे थे। इस दौरान मामलों को 5 लाख से 10 लाख पहुंचने में 20 दिन का समय लगा था।

चीन में एक बार फिर वायरस का आतंक इस बार फैला ‘टिक बोर्न SFTS, 7 लोगों की हुई मौत।

ऐसी महत्पूर्ण खबरों को अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ शेयर करना ना भूलें। 

ऐसी महत्पूर्ण खबरों के लिए आज ही हमसे जुड़े :- 

Instagram
Facebook
Twitter
Pinterest

  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT